भारत में लोगों की जान लेती सोशल मीडिया की अफवाहें

Last Updated: बुधवार, 30 मई 2018 (11:49 IST)
सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहें भारत में घातक साबित हो रही हैं। दक्षिण भारत में एक महीने के भीतर छह लोगों को भीड़ ने इन्हीं अफवाहों के आधार पर मौत के घाट उतार दिया।  
 
दक्षिण भारत में सोशल मीडिया पर लगातार बच्चों को अगवा करने वाले एक गैंग को लेकर अफवाहें चल रही हैं। हैदराबाद में लोगों ने एक ट्रांसजेंडर महिला को इसी गैंग का सदस्य समझ कर मार दिया। इस घटना में तीन लोग घायल भी हुए हैं। लेकिन पुलिस का कहना है कि इस तरह कि कोई गैंग है ही नहीं। इस तरह के तथाकथित गैंग की अफवाहों के कारण होने वाली यह छठी हत्या है।  
 
हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर अंजिनी कुमार ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "हैदराबाद में कोई किडनैपिंग गैंग नहीं है। हम लोगों को चेतावनी देते हैं कि वे सोशल मीडिया पर चलने वाली अफवाहों के आधार पर किसी को नुकसान न पहुंचाएं।">  
 
इससे पहले हैदराबाद से लगभग 160 किलोमीटर दूर निजामाबाद जिले में 42 साल के एक व्यक्ति को भीड़ ने पीट पीट कर मार दिया। इस व्यक्ति पर भी भीड़ ने बच्चों को अगवा करने का आरोप लगाया। इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 20 मई को सैकड़ों लोगों की भीड़ ने एक मजदूर को पीट पीट कर मार दिया जबकि उसके सात अन्य साथियों को घायल कर दिया। उन पर भी बच्चों की तस्करी करने के आरोप मढ़े गए। आंध्र प्रदेश में ही एक भिखारी को इसी तरह मार दिया गया।>  
 
पुलिस ने ट्रांसजेंडर महिला के साथ मारपीट करने के आरोप में 35 लोगों का गिरफ्तार किया। हैदराबाद में पुलिस स्थानीय लोगों के साथ मिल कर लाउडस्पीकर के जरिए सड़कों पर जनता से कानून को अपने हाथ में न लेने की अपील कर रही है। पुलिसवाले जोर जोर से चिल्लाकर कह रहे हैं, "अफवाहों पर विश्वास मत करो।"  
 
तेलंगाना के साथ साथ उसके पड़ोसी राज्यों आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में भी ऐसी अफवाहें फैलाई जा रही हैं और लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। इन सभी राज्यों में अधिकारियों को लोगों को ऐसा ना करने की कड़ी चेतावनी दी है।
 
 
पुलिस का कहना है कि मारे गए ज्यादातर लोग उस इलाके से नहीं थे जहां उन्हें मारा गया। पुलिस को अभी इस बारे में जांच करनी है कि क्या पर चल रहे वीडियो से जुड़े अपहरण के कोई मामले हैं या नहीं। इस तरह के वीडियो सर्कुलेट करने के आरोप में पुलिस ने एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है। इन वीडियो में कुछ लोगों को घर के सामने से बच्चा उठाते हुए और एक शिशु के अंगों को छिन्न भिन्न करते दिखाया गया है।
 
 
एके/आईबी (एएफपी)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

भारत में इंसानी मल को ढोते हजारों लोग

भारत में इंसानी मल को ढोते हजारों लोग
भारत में 21वीं सदी में भी ऐसे लोग मौजूद हैं जो इंसानी मल को उठाने और सिर पर ढोने को मजबूर ...

क्या होगा जब कंप्यूटर का दिमाग पागल हो जाए

क्या होगा जब कंप्यूटर का दिमाग पागल हो जाए
क्या होगा अगर कंप्यूटर और मशीनों को चलाने वाले दिमाग यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पागल हो ...

चंद हज़ार रुपयों से अरबपति बनने वाली केंड्रा की कहानी

चंद हज़ार रुपयों से अरबपति बनने वाली केंड्रा की कहानी
गर्भ के आख़िरी दिनों में केंड्रा स्कॉट को आराम के लिए कहा गया था। उसी वक़्त उन्हें इस ...

सिंगापुर डायरी: ट्रंप-किम की मुलाकात की जगह बसता है 'मिनी ...

सिंगापुर डायरी: ट्रंप-किम की मुलाकात की जगह बसता है 'मिनी इंडिया'
सिंगापुर का "लिटिल इंडिया" दो किलोमीटर के इलाक़े में बसा एक मिनी भारत है। ये विदेश में ...

जर्मन बच्चे कितने पढ़ाकू, कितने बिंदास

जर्मन बच्चे कितने पढ़ाकू, कितने बिंदास
जर्मनी में एक साल के भीतर कितने बच्चे होते हैं, या बच्चों को कितनी पॉकेट मनी मिलती है, या ...

इंग्लैंड ने बनाया वन-डे का वर्ल्ड रिकॉर्ड, ऑस्ट्रेलिया के ...

इंग्लैंड ने बनाया वन-डे का वर्ल्ड रिकॉर्ड, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ठोंके 481 रन
नाटिंघम। जॉनी बेयरस्टो (139) और एलेक्स हेल्स (147) के जबरदस्त शतकों से इंग्लैंड ने ...

विश्व कप में जीत से इंग्लैंड में 1.83 करोड़ लोगों ने ...

विश्व कप में जीत से इंग्लैंड में 1.83 करोड़ लोगों ने टेलीविजन देखने का नया रिकॉर्ड बनाया
लंदन। इंग्लैंड की टीम को भले ही फुटबॉल विश्व कप के मजबूत दावेदारों में नहीं गिना जा रहा ...

सद्‍गुरु जग्गी वासुदेव योग दिवस पर सिया‍चीन में सैनिकों को ...

सद्‍गुरु जग्गी वासुदेव योग दिवस पर सिया‍चीन में सैनिकों को सीखाएंगे योग
जम्मू। पृथ्वी की सबसे उच्ची चोटी सियाचिन ग्लेशियर पर तैनात सेना के कर्मियों का योग दिवस ...