'मैन ऑफ द सीरीज' की दौड़ में रोहित को पछाड़कर विराट ने जीती बाजी

पुनः संशोधित गुरुवार, 1 नवंबर 2018 (21:11 IST)
तिरुवनंतपुरम। भारत और विंडीज के बीच पांच एक दिवसीय मैचों की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सीरीज में सबकी नजर आखिरी वनडे पर लगी थी और इस मैच के जरिए ये भी फैसला होना था कि 'मैन ऑफ द सीरीज' की बाजी कौन जीतेगा? कप्तान विराट कोहली या फिर उप कप्तान रोहित शर्मा लेकिन भारत ने मेहमान टीम को 9 विकेट से हराकर सीरीज तो जीती ही साथ ही साथ विराट ये पुरस्कार ले उड़े।

भारत ने गुरुवार को विंडीज पांचवें और अंतिम वनडे में नौ विकेट से हराकर 3-1 से सीरीज जीत ली और इसके साथ ही भारतीय कप्तान विराट कोहली 'मैन ऑफ द सीरीज' बन गए जबकि 4 विकेट लेने वाले रवींद्र जडेजा को 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार मिला।

वैसे विराट और रोहित के बीच 'मैन ऑफ द सीरीज' का दिलचस्प मुकाबला था। विराट ने पांच मैचों में तीन शतकों और 151.00 के औसत से 453 रन बनाए हैं जबकि रोहित ने 5 मैचों में 2 शतकों और एक अर्धशतक तथा 129.66 के औसत से 389 रन बनाए।

भारतीय कप्तान ने 140, नाबाद 157, 107, 16 और नाबाद 33 रन बनाए जबकि रोहित ने नाबाद 152, 4, 8, नाबाद 162 और नाबाद 63 रन बनाए। विराट अपने करियर में 7वीं बार 'मैन ऑफ द सीरीज' बने हैं और इसके साथ ही वह विवियन रिचर्ड्स, हाशिम अमला, क्रिस गेल, युवराज सिंह, सौरव गांगुली और रिकी पोंटिंग जैसे दिग्गज खिलाड़ियों की श्रेणी में शामिल हो गए जो 7-7 बार 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' बन चुके हैं।

वनडे में सर्वाधिक 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' का रिकॉर्ड भारत के सचिन तेंदुलकर के नाम है, जो 15 बार 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' बने हैं। श्रीलंका के सनथ जयसूर्या 11 और दक्षिण अफ्रीका के शान पोलाक 9 बार 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' बने हैं।


और भी पढ़ें :