रणजी के इतिहास पुरुष बने मप्र के कप्तान देवेंद्र बुंदेला

पुनः संशोधित मंगलवार, 29 नवंबर 2016 (21:16 IST)
धर्मशाला। मध्यप्रदेश के देवेंद्र बुंदेला रणजी ट्रॉफी के नए बन गए हैं। बुंदेला यहां बड़ौदा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए मैच में मंगलवार को उतरने के साथ ही रणजी ट्रॉफी के इतिहास में सर्वाधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी बन गए।
           
वर्ष 1995-96 में 19 साल में अपना रणजी करियर शुरू करने वाले बुंदेला का यह 137वां रणजी ट्रॉफी मैच है और उन्होंने अपने दोस्त तथा मुंबई के पूर्व कप्तान अमोल मजूमदार को पीछे छोड़ दिया है। बुंदेला इसके साथ ही टूर्नामेंट के 83 साल के इतिहास में सर्वाधिक रणजी मैच खेलने वाले खिलाड़ी बन गए।
         
बुंदी भाई के नाम से मशहूर बुंदेला ने अपने इस रिकॉर्ड मैच में 120 गेंदों में 14 चौकों की मदद से 86 रन की पारी खेली। 39 वर्षीय बुंदेला ने अपने प्रथम श्रेणी करियर में कुल 155 मैच खेले लेकिन उन्हें कभी भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं मिल पाया। 
          
मध्यप्रदेश ने अपनी पहली पारी में कुल 217 रन बनाए। बड़ौदा की ओर से बाबाशाही पठान ने 48 रन पर पांच विकेट, इरफान पठान ने 51 रन पर दो विकेट और सागर मांगलोरकर ने 59 रन पर दो विकेट लिए। बड़ौदा ने इसके जवाब में स्टम्प्स तक दो विकेट खोकर 31 रन बना लिए हैं।
 
कप्तान रैना शतक से चूके, उत्तर प्रदेश के 259 : राजकोट में कप्तान सुरेश रैना (91) शतक बनाने से मात्र 9 रन से चूक गए और उत्तर प्रदेश ने रेलवे के खिलाफ पहली पारी में 259 रन बनाए। रैना ने 109 गेंदों में आठ चौके और एक छक्का लगाया। ओपनर शिवम चौधरी ने 43 और नौंवे नंबर के बल्लेबाज सौरभ कुमार ने 72 गेंदों में नौ चौकों के सहारे 53 रन बनाए। रेलवे के लिए अनुरीत सिंह ने 67 रन पर चार विकेट और कर्ण शर्मा ने 48 रन पर चार विकेट लिए। रेलवे ने स्टंप्स तक एक विकेट खोकर 18 रन बना लिए हैं। 
 
प्रियांक पांचाल का नाबाद शतक : बेलगावी में प्रियांक पांचाल के 252 गेंदों में 12 चौकों की मदद से बने नाबाद 134 और भार्गव मेरई (65) तथा रूजुल भट्ट (नाबाद 55) के अर्धशतकों से गुजरात ने पंजाब के खिलाफ दो विकेट पर 281 रन का मजबूत स्कोर बना लिया। 
 
हरियाणा के तीन विकेट पर 237 : वलसाड़ में गुंतेशवीर सिंह की 224 गेंदों में 15 चौके और एक छक्के से सजी नाबाद 110 रन की शानदार पारी की बदौलत हरियाणा ने हिमाचल प्रदेश के खिलाफ ग्रुप सी मैच में तीन विकेट पर 237 रन का सम्मानजनक स्कोर बना लिया। नितिन सैनी ने 39, चैतन्य बिश्नोई ने 26, रजत पालीवाल ने 25 और कप्तान मोहित शर्मा ने नाबाद 20 रन बनाए।  
 
ठाकुर ने बंगाल को 99 पर ढेर किया : नागपुर में मुंबई के मध्यम तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर (31 रन पर छह विकेट) ने अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए बंगाल को ग्रुप ए मैच में मात्र 99 रन पर ढेर कर दिया। बंगाल की तरफ से सुदीप चटर्जी ने सर्वाधिक 35 रन बनाए। ठाकुर ने 13 ओवर में 31 रन पर छह विकेट और धवल कुलकर्णी ने 22 रन पर तीन विकेट लिए। मुंबई ने ओपनर कौस्तुभ पवार के 78 रन की शानदार पारी से पांच विकेट खोकर 164 रन बना लिए। मुंबई के पास अब 65 रन की बढ़त हो गई है।
 
झारखंड के चार विकेट पर 251 : विजयनगरम में कप्तान सौरभ तिवारी (88) और इशांक जग्गी (नाबाद 80) के अर्धशतकों से झारखंड ने असम के खिलाफ ग्रुप बी मैच में चार विकेट पर 251 रन का मजबूत स्कोर बना लिया। 
 
हैदराबाद के तीन विकेट पर 234 : वदौडरा में तन्मय अग्रवाल (नाबाद 106) के शानदार शतक से हैदराबाद ने जम्मू कश्मीर के खिलाफ ग्रुप सी मैच में तीन विकेट पर 234 रन बना लिए। तन्मय ने 275 गेंदों की अपनी पारी में 15 चौके लगाए। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :