मुजीब ने अश्विन से नई तरह की गेंद सीखी, भारत के खिलाफ करेंगे इस्तेमाल

Last Updated: सोमवार, 11 जून 2018 (20:07 IST)
नई दिल्ली। के ने कहा कि आईपीएल के दौरान से उन्होंने गेंदबाजी के नए तरीके के बारे में सीखा, जो भारत के खिलाफ गुरुवार से शुरू हो रहे टीम के पहले टेस्ट मैच में उनके काम आएगा।

पिछले साल अगस्त में घरेलू मैचों में पदार्पण करने वाला 17 साल का यह गेंदबाज राशिद खान के साथ अफगानिस्तान के गेंदबाजी आक्रमण का अहम सदस्य बन गया है। मुजीब ने कहा कि आईपीएल के समय किंग्स इलेवन पंजाब के नेट सत्र के दौरान अश्विन ने उन्हें नई तरह की गेंदबाजी के बारे में बताया जिसका इस्तेमाल वे भारत के खिलाफ करेंगे।

मुजीब ने पीटीआई को दिए साक्षात्कार में कहा कि मैंने नेट सत्र में अश्विन के साथ काफी समय बिताया है और यह बहुत मददगार साबित हुआ। उन्होंने मुझे बताया कि गेंद कहां डालनी है। उन्होंने मुझे नई गेंद के बारे में भी बताया और मैं उसे सीखने की कोशिश कर रहा हूं। यह कैरम बाल है, जो ऑफ स्पिन गेंदबाजी एक्शन में किया जाता है। मुजीब ने अभी तक प्रथम श्रेणी मैच नहीं खेला है लेकिन आईपीएल, अंडर-19 विश्व कप और राष्ट्रीय टीम के साथ छोटे प्रारूप में उनके प्रदर्शन ने उन्हें निडर बना दिया है।
उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही उच्च स्तर का क्रिकेट खेला है इसलिए टेस्ट मैच को लेकर कोई डर नहीं है। आईपीएल का शुक्रिया, मुझे पता है दबाव से कैसे निपटना है। मुझे किसी भी विपक्षी टीम के खिलाफ खेलने से डर नहीं लगता। पहले मेरे दिमाग में इसका असर होता था लेकिन अब नहीं।

अफगानिस्तान के खोस्त प्रांत का यह क्रिकेटर गेंद को दोनों ओर घुमा पाने में सक्षम है और इसके साथ ही वह प्रभावशाली गुगली भी फेंकता है जिस पर आईपीएल में विराट कोहली भी गच्चा खा गए थे। अफगानिस्तान के कप्तान असगर स्टेनिकजई ने भी कहा कि राशिद, मुजीब, मोहम्मद नबी और रहमत शाह जैसे स्पिनरों के कारण इस विभाग में उनकी टीम भारत से बेहतर है।
मुजीब ने कहा कि अश्विन के साथ 1 महीने से ज्यादा समय तक रहने का उन्हें फायदा हुआ है। उन्होंने कहा कि मैंने अपनी तैयारी कर ली है कि कैसी गेंदबाजी करनी है। कोहली यहां नहीं खेल रहे लेकिन टीम में अजिंक्य रहाणे और लोकेश राहुल काफी अच्छे बल्लेबाज हैं। हम किसी को भी कमतर नहीं आंक रहे। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :