दिल्ली ने बिगाड़ा पुणे का खेल, प्लेऑफ के लिए बढ़ा संघर्ष

नई दिल्ली| पुनः संशोधित शनिवार, 13 मई 2017 (08:51 IST)
नई दिल्ली। सलामी बल्लेबाज की सधी हुई अर्द्धशतकीय पारी और कप्तान जहीर खान की कसी गेंदबाजी से ने शुक्रवार को यहां को उतार-चढ़ाव वाले मैच में 7 रन से हराकर आईपीएल प्लेऑफ के लिए चल रही जंग को रोचक बना दिया।

बल्लेबाजी में दिल्ली की शुरुआत अच्छी नहीं रही लेकिन नायर (45 गेंदों पर 64) और ऋषभ पंत (22 गेंदों पर 36 रन) ने तीसरे विकेट के लिए 40 गेंदों पर 74 रन जोड़कर टीम को शुरुआती झटकों से उबारा। मर्लेन सैमुअल्स ने भी 27 रन का योगदान दिया। दिल्ली ने 8 विकेट पर 168 रन बनाए। पुणे की तरफ से जयदेव उनादकट और बेन स्टोक्स ने 2-2 विकेट लिए।

पुणे की तरफ से मनोज तिवारी ने सर्वाधिक 60 रन बनाए जिसके लिए उन्होंने 45 गेंदें खेलीं तथा 5 चौके ओर 3 छक्के लगाए। कप्तान स्टीवन स्मिथ ने 38 और बेन स्टोक्स ने 33 रन बनाए लेकिन पुणे आखिर में 7 विकेट पर 16 रन तक ही पहुंच पाया।
दिल्ली पहले ही प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गया था लेकिन वह पुणे का खेल बिगाड़ने में सफल रहा जिसके अब 13 मैचों में 16 अंक हैं। पुणे को अब 14 मई को अपने घरेलू मैदान पर आखिरी मैच किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेलना है और अगर सनराइजर्स हैदराबाद यदि शुक्रवार को गुजरात लॉयंस पर जीत दर्ज कर लेता है तो यह मैच क्वार्टर फाइनल जैसा बन जाएगा। दिल्ली के 13 मैचों में 12 अंक हैं और वह अपना आखिरी मैच रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु से खेलेगा।
जहीर खान ने गेंदबाजी में दिल्ली को शानदार शुरुआत दिलाई। उनकी पहली गेंद ही खूबसूरत इनस्विंगर थी जिस पर अजिंक्य रहाणे के पास भी कोई जवाब नहीं था। इसके बाद उन्होंने दूसरे सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी (7) को भी विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराया। स्मिथ दूसरे छोर से रन बनाते रहे और उनकी बदौलत ही पुणे पॉवरप्ले तक 2 विकेट पर 53 रन तक पहुंचने में सफल रहा।

जहीर ने पॉवरप्ले के दौरान शाहबाज नदीम को गेंद थमाई और उन्होंने इस ओवर में 14 रन लुटाए थे। बाद में बाएं हाथ के इस स्पिनर ने प्रभावशाली गेंदबाजी की और स्मिथ जैसे खतरनाक बल्लेबाज को पगबाधा आउट किया, जो उछाल लेती गेंद को पुल करने से चूक गए थे।

स्मिथ की पारी में 4 चौके और 1 छक्का शामिल हैं। तिवारी शुरू से अच्छी तरह से हिटिंग कर रहे थे। चाहे वह मोहम्मद शमी पर लगाए गए चौके हों या अमित मिश्रा पर जमाया गया छक्का, सभी उनके कौशल का शानदार नमूना पेश कर रहे थे। तिवारी को 34 और 40 रन के निजी योग पर जीवनदान मिले। दूसरे अवसर पर तो करुण नायर हवा में लहराता कैच लेने में नाकाम रहे जिससे दर्शक भी सन्न थे।

स्टोक्स ने सैमुअल्स और फिर शमी पर छक्के जड़कर अपने हाथ खोले। शमी की गेंद पर 1 और छक्का जमाने के प्रयास में उन्होंने लांग ऑफ सीमा रेखा पर कैच दिया। इसके बाद दर्शक खुश थे, क्योंकि धोनी क्रीज पर थे लेकिन शमी ने सीधे थ्रो पर उनको रन आउट करके इस विकेटकीपर बल्लेबाज के धुर समर्थकों को निराश कर दिया। पुणे को अंतिम ओवर में 25 रन चाहिए थे।

तिवारी ने कमिन्स की पहली 2 गेंदों पर छक्के जड़कर सभी की धड़कनें बढ़ा दी थीं लेकिन इसके बाद वह कोई खास कमाल नहीं दिखा पाए। इससे पहले दिल्ली 3 विदेशी खिलाड़ियों के साथ उतरी और उसने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन दर्शक अभी सीट संभाल पाते कि उसका स्कोर 2 विकेट पर 9 रन हो गया।

संजू सैमसन (3) को पहले ओवर में ही स्टोक्स ने सीधे थ्रो पर रन आउट किया। उनादकट ने नए बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (3) को धोनी के हाथों कैच कराया। पहले 3 ओवरों में 1 बार भी गेंद सीमा रेखा तक नहीं गई लेकिन उसके बाद गेंद को बाउंड्री ही पसंद आने लगी।

स्टीवन स्मिथ को इमरान ताहिर की कमी खल रही थी और ऐसे में उन्होंने आफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर को गेंद थमाकर जुआ खेला। उनके इस फैसले से दिल्ली को दबाव से बाहर निकलने में मदद मिली। सुंदर के पहले ओवर में ही 15 रन बने।

ताहिर की जगह टीम में लिए लेग स्पिनर एडम जंपा ने हालांकि अच्छी गेंदबाजी की और 4 ओवर में 29 रन देकर 1 विकेट लिया। नए गेंदबाज स्टोक्स का स्वागत नायर ने 3 चौकों से किया। पंत कहां पीछे रहने वाले थे उन्होंने ठाकुर पर 3 चौके लगाकर दिल्ली का स्कोर पहले 6 ओवर में 54 रन तक पहुंचाया।

पंत ने सुंदर पर स्क्वैयर लेग पर सीधा छक्का लगाया था लेकिन जंपा पर मिडविकेट पर लगाया गया उनका छक्का दर्शनीय था। इसके तुरंत बाद क्षेत्ररक्षण में बदलाव किया गया। इससे बेपरवाह पंत ने लांग ऑन पर शॉट जमाया लेकिन वह सीधे डेनियल क्रिस्टियन के सुरक्षित हाथों में चला गया। पंत ने 4 चौके और 2 छक्के लगाए। इसके बाद अगले 2 ओवरों में केवल 6 रन गए।

सैमुअल्स पर दबाव था लेकिन वे ठाकुर की लगातार गेंदों पर स्क्वैयर लेग और साइडस्क्रीन के पास छक्के जड़ने में सफल रहे जिससे 12 ओवर में दिल्ली का स्कोर तिहरे अंक में पहुंचा। धोनी ने हालांकि उछलकर एक हाथ से सैमुअल्स का कैच लेकर स्टेडियम में बैठे हर क्रिकेट प्रेमी को 'वाह' कहने के लिए मजबूर किया।

धोनी ने इसके बाद विकेट के पीछे अपनी चपलता का शानदार नजारा पेश करके कोरे एंडरसन (3) को स्टंप आउट किया। स्टोक्स ने खूबसूरत यार्कर पर पैट कमिन्स के विकेट थर्राकर उन्हें छक्का जड़ने की सजा दी। इस बीच नायर ने 37 गेंदों पर अपना अर्द्धशतक पूरा किया लेकिन स्टोक्स की गेंद पर उन्होंने हवा में लहराता कैच थमा दिया। नायर ने 9 चौके लगाए। स्टोक्स ने इसके बाद मोहम्मद शमी का सीमा रेखा पर दर्शनीय कैच भी लिया। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :