एडिलेड के मैदान पर भारत की ऐतिहासिक जीत में महत्वपूर्ण रहा 6 का आंकड़ा

पुनः संशोधित बुधवार, 12 दिसंबर 2018 (16:53 IST)
बेंगलुरु। ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैदान में चार टेस्टों की सीरीज के पहले मैच में 31 रन से जो जीत हासिल की उसमें 6 अंक का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

इस जीत से जुड़े आंकड़ों को देखा जाए तो 6 अंक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता नजर आएंगा। क्रिकेट आंकड़ों के विशेषज्ञ श्रीकांत पोद्दार ने इस जीत में 6 अंक की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि एडिलेड में पहला टेस्ट 6 दिसंबर से शुरू हुआ था और भारत की ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर यह छठी जीत है।

श्रीकांत ने बताया कि भारत के 86 वर्षों के इतिहास में यह पहला मौका है कि जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में सीरीज के पहले मैच में जीत हासिल की है। इन 86 वर्षों का अंतिम अंक 6 है।

ऑस्ट्रेलिया की दोनों पारियों में ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने तीन तीन विकेट मिलाकर कुल 6 विकेट हासिल किए जो ऑस्ट्रेलिया जमीन पर उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में एक मैच में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पांच विकेट था।

आकड़ों के विशेषज्ञ ने बताया कि इस मैच में मैन ऑफ द मैच रहे बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने भारत की पहली पारी में 123 रन बनाए और 123 रन का कुल योग 6 बैठता है। भारत की दूसरी पारी में पुजारा ने अजिंक्या रहाणे के साथ 87 रन की सर्वाधिक साझेदारी की और 87 का योग 15 और फिर यह 6 अंक बैठता है।

श्रीकांत के अनुसार भारत पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया से 15 रन से आगे रहा और इसका योग भी 6 बैठता है। ऑस्ट्रेलिया ने मैच की दोनों पारियों में कुल योग 526 रन रहा और इस योग की आखिरी संख्या 6 है। भारत ने मैच के पांचवें और अंतिम दिन ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में 6 विकेट निकाले और जीत हासिल की। भारत ने मैच को 15वें सत्र में जीता और इसका योग भी 6 बैठता है।

भारत की जीत में 11 कैच का विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करने वाले युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत ने पहली पारी में 6 शिकार किए थे और दिलचस्प बात है कि यह उनके करियर का छठा टेस्ट था। (वार्ता)


-->

और भी पढ़ें :