ये चीजें हो सकती हैं सस्ती, घट सकती है जीएसटी दर

नई दिल्ली| पुनः संशोधित सोमवार, 7 अगस्त 2017 (23:21 IST)
नई दिल्ली। इडली, डोसा पाउडर से लेकर रसोई घरों में उपयोग होने वाले गैस लाइटर सस्ते हो सकते हैं। इन जिंसों पर दरें कम किए जाने पर विचार कर रही है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दो दर्जन से अधिक उत्पादों के मामले में विसंगतियां पाए जाने के बाद काउंसिल ने इन जिंसों पर लगने वाली दरों पर विचार करने का फैसला किया है।
गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) के बाद टैक्स से बचने के लिए कुछ कंपनियों के अपने ब्रैंड का रजिस्ट्रेशन रद्द कराए जाने के मामले से निपटने के लिए 'फिटमेंट कमेटी' ने जीएसटी काउंसिल के सामने रजिस्टर्ड ब्रैंड पर जीएसटी के लिए 15 मई 2017 को अंतिम तारीख रखने का प्रस्ताव किया है। इसके तहत अगर इस तारीख के बाद ब्रैंड का रजिस्ट्रेशन रद्द कराया भी गया है तो उस पर टैक्स लगेगा।

इस बारे में वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली जीएसटी परिषद अंतिम निर्णय करेगी। काउंसिल में सभी राज्यों के प्रतिनिधि शामिल हैं। परिषद की अगली बैठक हैदराबाद में 9 सितंबर को होगी। उल्लेखनीय है कि बिना ब्रांड वाले जिंसों को जीएसटी से छूट दी गई है, जबकि ब्रांडेड और डिब्बाबंद खाद्य वस्तुओं पर 5 फीसदी टैक्स लगता है। इसीलिए कई कंपनियों ने शुल्क से बचने के लिए अपने ब्रैंड का रजिस्ट्रेशन रद्द कराया है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :