अजब-गजब, बोल अनमोल

WD|
FILE
दोस्ती उनसे बढ़ाइए जिनका नजरिया दूरगामी हो।
- चाणक्य नीति

लेखनी मस्तिष्क की जिह्वा है
- मुंशी प्रेमचं

अक्लमंद काम करने से पहले सोचता है और मूर्ख काम करने के बाद।
- महात्मा गाँध
ऋण एक अथाह सागर के समान है। ऋण लेने का अर्थ है, दुःख मोल लेना।
- जवाहरलाल नेहर

खोया समय कभी प्राप्त नहीं होता। समय ही सबसे योग्य शिक्षक है।
- स्वामी विवेकानं

साहस ही सफलता का राज है।- सिसर

अपना हाथ बढ़ाने का अर्थ है, अपने आपको विस्तार देना।
- मदर टेरेस

- सपना धनोतिया

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :