जीवन में अपनाओं सत्य का रास्ता

Last Updated: मंगलवार, 30 सितम्बर 2014 (12:28 IST)
प्यारे बच्चों, 
 
गांधीजी का जन्मदिन अक्टूबर की 2 तारीख को मनाया जाता है। गांधीजी बहुत सरल इंसान थे। ऐसे कि आज अगर वे होते तो बच्चों को उनके साथ रहने में खूब मजा आता। गांधीजी ने दुनिया छोड़ने से पहले हमारे सामने बहुत सारी अच्छी बातें रखी थीं। फिर यह हुआ कि उनके जाने के बाद बड़ों ने मिलकर हर शहर में सबसे लंबे मार्ग का नाम एमजी रोड रख दिया गया, उनकी जयंती पर कुछेक कार्यक्रम वगैरा किए और छुट्टी पा ली, पर क्या गांधीजी के प्रति हमारी श्रद्धा इतनी ही होना चाहिए? या फिर उन्होंने जो रास्ते सुझाए हैं, उस पर चलने की कोशिश करना चाहिए। 
 
गांधीजी को सत्य और अहिंसा से बहुत प्रेम था। इन बातों का महत्व उन्होंने अनुभव से सीखा था। उन्होंने सच बोलने की सीख ली और जीवन भर उसका अभ्यास किया। गांधीजी हमेशा कहा करते थे कि हम केवल खुद को सुधारें, इसी से सब अच्छा हो जाएगा। हम खुद को बदलकर दूसरों में भी बदलाव ला सकते हैं।
 
बच्चों, आज गांधीजी की बातों पर अमल करना बड़ों के लिए मुश्किल हो रहा है, पर गांधीजी का बच्चों पर बहुत विश्वास था। उनका मानना था कि बच्चे हमेशा सही काम के लिए सही रास्ता चुनते हैं। गांधी जी की बात सच भी है ना? हम उम्मीद करते हैं कि आप बापू के बताए रास्ते पर चलोगे। अच्छे-अच्छे काम करोगे। 
 
तुम्हारी दीदी 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :