विलियमसन और पांडे के अर्धश‍तक बेकार, आरसीबी 14 रन की जीत से प्लेऑफ की दौड़ में बरकरार

Last Updated: शुक्रवार, 18 मई 2018 (00:46 IST)
बेंगलुरु। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने गुरुवार को यहां एबी डिविलियर्स और मोईन अली के अर्धशतकों की मदद से इंडियन प्रीमियर लीग के रोमांचक टी-20 मैच में को 14 रन से हराकर खुद को की दौड़ में बरकरार रखा। सनराइजर्स हैदराबाद नौ मुकाबले जीतकर 18 अंक से पहले ही प्ले आफ में जगह बना चुकी थी और वह तालिका में शीर्ष पर काबिज है।
दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब पर लगातार मिली जीत से आत्मविश्वास से भरी आरसीबी के लिए खुद को दौड़ में बनाए रखने के लिए इस मैच में जीत हासिल करना जरूरी था। उसके 13 मैचों में छह जीत से 12 अंक हो गए हैं और वह पांचवें स्थान पर पहुंच गई है।

आरसीबी सहित चार टीमें किंग्स इलेवन पंजाब, राजस्थान रॉयल्स, मुंबई इंडियंस 12-12 अंक लेकर अगले दौर की दौड़ में बनी हुई हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने एबी डिविलियर्स (69) और मोईन अली (65) के अर्धशतकों की बदौलत छह विकेट पर 218 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया।

इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद की टीम निर्धारित 20 ओवर में तीन विकेट पर 204 रन बना सकी।
फार्म में चल रहे सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियम्सन (81 रन, 42 गेंद में सात चौके और पांच छक्के) और मनीष पांडे (नाबाद 62, 38 गेंद में सात चौके और दो छक्के) की शानदार अर्धशतकीय पारी तथा दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 67 गेंद में 135 रन की शतकीय साझेदारी के बावजूद टीम लक्ष्य से चूक गई।
इतने बड़े स्कोर का पीछा करने के लिए शिखर धवन (18) और एलेक्स हेल्स (37) ने आते ही तेजी से रन जुटाने की कोशिश में बाउंड्री लगाना शुरू किया। इसी दौरान तीसरे ओवर में एक दिलचस्प वाकया हुआ जब हेल्स का कैच तीसरे ओवर में टिम साउदी ने डीप स्क्वेयर लेग पर मैदान पर गिरने से पहले ही (गेंद को) लपक लिया, आउट सिग्नल होने के बाद थर्ड अंपायर ने ‘नाट आउट’ का सिग्नल दे दिया। साउदी के साथ टीम के कप्तान विराट कोहली हैरान थे, उनके चेहरे पर गुस्सा साफ दिख रहा था।
साउदी को भरोसा नहीं नहीं हुआ और वह सिर हिलाकर प्रतिक्रिया दे रहे थे।
कोहली ने हेल्स को आउट करने का मौका गंवा दिया, जब उन्होंने मोहम्मद सिराज की गेंद पर इस बल्लेबाज का कैच छोड़ दिया।
युजवेंद्र चहल ने पहली सफलता धवन (15 गेंद में दो छक्के) के रूप में हासिल की, उन्होंने दूसरे ओवर में अपनी पहली ही गेंद पर उनका कैच लपक लिया। विलियमसन क्रीज पर उतरे, पर हेल्स ज्यादा देकर तक नहीं टिक सके और अली की गेंद का शिकार बने। डिविलियर्स ने डीप मिडविकेट पर एक हाथ से शानदार कैच लपका।

पांडे दूसरे छोर पर अपने कप्तान का साथ अच्छी तरह निभा रहे थे। विलियमसन महज 28 गेंद में छह चौक और दो छक्के से आईपीएल का 11वां अर्धशतक पूरा किया। लेकिन मोहम्मद सिराज ने अंतिम ओवर में इस बल्लेबाज की पारी का अंत किया।
अंतिम छह गेंद में 20 रन चाहिए थे लेकिन इसमें विलियमसन का विकेट गिरा और केवल पांच रन जुड़े।

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद बेंगलुरु के लिए डिविलियर्स (39 गेंद में 12 चौके और एक छक्का) और अली (34 गेंद में ) ने तीसरे विकेट के लिए महज 57 गेंद में 107 रन की भागीदारी निभाई। अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान ने एक बार फिर हैदराबाद के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने चार ओवर में 27 रन देकर तीन विकेट झटके। बेंगलुरु को पहला झटका पार्थिव पटेल के रूप में लगा जो पहले ओवर की अंतिम गेंद पर संदीप शर्मा की गेंद पर थर्ड मैन पर सिद्धार्थ कौल को आसान कैच देकर आउट हो गए।

हालांकि पहली ही गेंद पर उनका कैच ड्रॉप हुआ था। डिविलियर्स ने आते ही शाकिबुल हसन की पहली और दूसरी गेंद पर चौके जड़े। उन्होंने और सलामी बल्लेबाज विराट कोहली की कोशिश पावरप्ले में ज्यादा से ज्यादा रन जुटाने की थी, लेकिन उनकी उम्मीद राशिद खान ने भारतीय टीम के कप्तान को बोल्ड करके तोड़ दी। राशिद की खूबसूरत गुगली कोहली के स्टंप उखाड़कर चली गई। अब मोईन अली क्रीज पर उतरे। शुरूआती दो झटकों के कारण आरसीबी पारवप्ले में दो विकेट पर 44 रन ही जोड़ सकी।
आठवें ओवर में गेंदबाजी करने उतरे बासिल थम्पी का पहला ओवर सनराइजर्स हैदराबाद के लिए काफी मंहगा रहा जिसमें अली ने पहली दो गेंद पर लगातार छक्के जमाए। उन्होंने पहली फुल लेंथ गेंद को मिड आफ पर और दूसरी शार्ट गेंद को स्क्वेयर लेग पर छक्के के लिए भेजा।

डिविलियर्स ने 12वें ओवर में कौल (44 रन देकर दो विकेट) की गेंदों पर लगातार चाके जमाकर 32 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर अली ने आईपीएल में अपना पहला अर्धशतक अगले ओवर में थम्पी की गेंद पर चौका लगाकर बनाया।

इन दोनों ने मिलकर तेजी से रन जुटाए और सनराइजर्स हैदराबाद के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण को परेशान किया।
लेकिन 15वें ओवर में राशिद ने इन दोनों जमे हुए बल्लेबाजों के विकेट झटक लिए। डिविलियर्स बड़ा शाट लगाने के प्रयास में डीप स्क्वायर लेग पर शिखर धवन को कैच देकर आउट हुए जबकि एक गेंद बाद अली भी विकेट के पीछे श्रीवत्स गोस्वामी को कैच देकर पवेलियन लौटे।

डिविलियर्स ने जहां अपनी पारी में 12 चौके और एक छक्का जड़ा तो वहीं अली की पारी में केवल दो चौके जबकि छह छक्के जड़े थे। इसके बाद कोलिन डि ग्रैंडहोमे ने महज 17 गेंद में 40 रन जोड़कर उपयोगी योगदान दिया जबकि सरफराज खान आठ गेंद में 22 रन बनाकर नाबाद रहे। थम्पी के लिए आज का दिन काफी खराब रहा जिन्होंने आईपीएल इतिहास में एक पारी के दौरान सबसे ज्यादा रन लुटाए। उन्होंने अपने चार ओवर में 70 रन लुटाए। (भाषा)


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

Cricket Update