पहली जीत की तलाश में उतरेंगे मुंबई के इंडियंस

पुनः संशोधित सोमवार, 16 अप्रैल 2018 (20:02 IST)
मुंबई। गत चैंपियन की टीम की आईपीएल-11 में काफी खराब शुरुआत हुई है और टीम ने अपने पहले तीनों मैच गंवा दिए हैं। मुंबई की टीम मंगलवार को यहां वानखेड़े स्टेडियम में जब रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ उतरेगी, तो उसका एकमात्र लक्ष्य टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत हासिल करना होगा।
मुंबई की तरह बेंगलुरु की हालत भी कोई बहुत अच्छी नहीं है और उसने 3 मैचों में से 2 मैच गंवा दिए हैं। दोनों ही टीमों के लिए इस मैच में जीत हासिल करना बहुत जरूरी है। यह भी दिलचस्प है कि बेंगलुरु के कप्तान भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली हैं जबकि सीमित ओवरों के उपकप्तान रोहित शर्मा मुंबई टीम के कप्तान हैं लेकिन दोनों ही दिग्गज खिलाड़ी अपनी टीमों को प्रेरित नहीं कर पा रहे हैं।

चैंपियन मुंबई को चेन्नई सुपर किंग्स से 1 विकेट से, सनराइजर्स हैदराबाद से 1 विकेट से और दिल्ली डेयरडेविल्स से 7 विकेट से हार का सामना करना पड़ा है जबकि बेंगलुरु को कोलकाता नाइटराइडर्स से 4 विकेट से और राजस्थान रॉयल्स से 19 रन से हार झेलनी पड़ी है। बेंगलुरु को एकमात्र जीत किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 4 विकेट से मिली है।

विराट और रोहित के बीच आईपीएल-11 का पहला मुकाबला निश्चित रूप से दिलचस्प होगा, क्योंकि दोनों खिलाड़ी एक-दूसरे की रणनीतियों को काफी अच्छी तरह से जानते हैं लेकिन जीत-हार का फैसला इस बात पर निर्भर करेगा कि कौन मैदान पर अपनी रणनीतियों को सही ढंग से अंजाम दे पाता है।

मुंबई का पिछला मुकाबला अपने ही मैदान में दिल्ली से था लेकिन गत चैंपियन टीम 194 रन का मजबूत स्कोर बनाने के बावजूद उसका बचाव नहीं कर पाई थी। दिल्ली के जैसन रॉय के नाबाद 91 रनों ने मुंबई की उम्मीदों को तोड़ दिया था। अपनी टीम की किस्मत बदलने के लिए खुद कप्तान रोहित ने अपने बल्लेबाजी क्रम में परिवर्तन किया और ओपनिंग छोड़कर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

रोहित का बल्ले से फ्लॉप होना मुंबई को काफी भारी साबित हो रहा है। रोहित अब तक 3 मैचों में 15, 11 और 18 रन ही बना पाए हैं। पिछले मुकाबले में सूर्यकुमार यादव को ओपनिंग में भेजने का फैसला काफी सफल रहा था, जहां उन्होंने शानदार 53 रन बनाए थे। एविन लुइस ने 48 और ईशान किशन ने 44 रन बनाए लेकिन बाद के बल्लेबाज टीम को 200 से ऊपर नहीं ले जा सके।

मुंबई के लिए गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह, मुस्ताफिजुर रहमान और क्रुणाल पांड्या का प्रदर्शन अच्छा रहा है लेकिन पिछले मुकाबले में हार्दिक पांड्या का 2 ओवरों में 32 रन लुटाना टीम को भारी पड़ गया। बेंगलुरु की स्थिति भी कोई अलग नहीं है। टीम अपने 3 स्टार बल्लेबाजों ब्रैंडन मैक्कुलम, कप्तान विराट और एबी डिविलियर्स पर जरूरत से ज्यादा निर्भर है लेकिन ये तीनों ही बल्लेबाज किसी भी मैच में एकसाथ नहीं चल पाए हैं।

कोलकाता के खिलाफ ब्रैंडन ने 43, विराट ने 31 और डिविलियर्स ने 44 रन बनाए लेकिन कोई भी अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाया। पंजाब के खिलाफ ब्रैंडन शून्य पर आउट हुए जबकि विराट ने 21 और डिविलियर्स ने 57 रन बनाए। राजस्थान के खिलाफ ब्रैंडन ने 4 रन बनाए जबकि विराट ने 57 और डिविलियर्स ने 20 रन बनाए। बेंगलुरु को यदि जीत की पटरी पर लौटना है तो उसके इन तीनों दिग्गजों को एकसाथ चलना होगा। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

Cricket Update