क्या रूस के लिए काम करते थे डोनाल्ड ट्रंप, एफबीआई ने शुरू की जांच

वाशिंगटन| पुनः संशोधित शनिवार, 12 जनवरी 2019 (17:16 IST)
वाशिंगटन। ने इस बात की जांच शुरू कर दी है कि क्या अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए काम कर रहे थे या नहीं।

गौरतलब है कि ट्रंप ने मई 2017 में संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) के तत्कालीन प्रमुख जेम्स बी कोमी को अचानक निलंबित कर दिया था जो राष्ट्रपति पद के लिए ट्रंप के अभियान में रूसी सरकार के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रहे थे।

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने अपनी एक खबर में कहा कि एफबीआई ने ट्रम्प के खिलाफ जांच शुरू की थी। कानून लागू करने वाली एजेंसियां यह पता लगाना चाहती थी कि क्या अमेरिकी राष्ट्रपति ने जानबूझकर रूस के लिए काम किया या अनजाने में वह मॉस्को के चुंगल में फंस गए।

समाचार पत्र ने शुक्रवार को अपनी एक खबर में कहा कि ट्रंप के अपने कृत्य राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक संभावित खतरा उत्पन्न कर सकते हैं।

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने कहा, 'सार्वजनिक रूप से इस बात का कोई सबूत सामने नहीं आया है कि ट्रम्प ने गुप्त रूप से रूसी सरकार के अधिकारियों से कोई सम्पर्क किया या उनसे कोई निर्देश लिया।' बहरहाल व्हाइट हाउस ने ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की इस खबर को बकवास करार दिया है।
व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव ने कहा, 'यह बकवास है। जेम्स कॉमी को पक्षपातपूर्ण रवैये के चलते निलंबित किया गया और उनके डिप्टी एंड्रयू मैककेबे जो उस समय के प्रभारी थे, सब जानते हैं कि वह महा झूठे हैं, जिसे एफबीआई ने निलंबित किया था। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा जिन्होंने रूस और अन्य विदेशी विरोधियों को अमेरिका को प्रभावित करने दिया उससे अलग राष्ट्रपति ट्रंप वास्तव में रूस के साथ कठोर रहे हैं।'
एफबीआई ने ट्रंप के खिलाफ जांच के सिलसिले में काई टिप्पणी नहीं की है। (भाषा)


और भी पढ़ें :