Widgets Magazine

बांध पीड़ितों को घर-बार छोड़ने पर मजबूर किया जा रहा है : पटवारी

पुनः संशोधित शनिवार, 12 अगस्त 2017 (23:39 IST)
इंदौर। गुजरात में बने सरदार सरोवर बांध की आसन्न डूब से मध्यप्रदेश में बेघर होने वाले हजारों लोगों के विस्थापन पर सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव जीतू पटवारी ने आज आरोप लगाया कि पुनर्वास के उचित इंतजाम किए  बगैर इन लोगों को जल्द से जल्द अपने घर-बार छोड़ने पर मजबूर किया जा रहा है, ताकि सत्तारुढ़ भाजपा गुजरात के आगामी विधानसभा चुनावों में बांध परियोजना को मतदाताओं के बीच भुना सके।
 
पटवारी ने कहा, मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई वाली सरकार बांध पीड़ितों को जल्द से जल्द अपने घर-बार छोड़ने के लिए मजबूर कर रही है, ताकि गुजरात के आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा को बांध परियोजना का फायदा दिलाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश किया जा सके। मैं इसकी निंदा करता हूं। गुजरात के प्रभारी कांग्रेस सचिव ने आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश सरकार बांध विस्थापितों के पुनर्वास को लेकर झूठे आंकड़े पेश कर रही है।
 
उन्होंने कहा, हम विस्थापितों की इस बुनियादी मांग का समर्थन करते हैं कि पुनर्वास के उचित इंतजामों के बगैर उन्हें उनकी मूल बसाहट से हटाया नहीं जाए। इंदौर जिले के राऊ क्षेत्र से कांग्रेस विधायक ने यह आरोप भी लगाया कि मध्यप्रदेश में नर्मदा के संरक्षण का ढोल पीटने वाली भाजपा सरकार के राज में इस नदी के किनारे रेत के अवैध खनन में भारी इजाफा हुआ है। उन्होंने मांग की कि प्रदेश सरकार को रेत खनन की उचित और पारदर्शी नीति बनाकर कारोबारियों और ग्राहकों, दोनों को राहत देनी चाहिए। (भाषा) 
 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine