अपने घर को बनाएं पॉजिटीव एनर्जी से भरपूर, पढ़ें 6 टिप्स

Author नम्रता जायसवाल| Last Updated: शुक्रवार, 4 मई 2018 (16:53 IST)
हर कोई चाहता है कि उनका सपनों का आशियाना सुंदर दिखे। जो कोई आपके घर आए तो आपके घर की सजावट की तारीफ किए बिना न रह पाए और उन्हें आपके घर में एक सकारात्मकता का अनुभव हो। अपने घर को सजाना भी एक कला है, जो हर किसी के बस की बात नहीं है। कई बार लोग आस-पड़ोस की देखा-देखी कर अपने घर को भी उनके घर जैसा ही सजा देते हैं तथा वे ही सारा सामान अपने घर ले आते हैं, जो उनके पड़ोसी व रिश्तेदार के घर में है।
लेकिन आपको ये समझना चाहिए कि आपके और उनके घर की बनावट में काफी फर्क हो सकता है। आपके घर में दीवारों के रंग से लेकर कमरों के साइज तक सब कुछ अलग हो सकता है। आपको अपना आशियाना, अपने घर की हर बारीकी को ध्यान में रखते हुए ही उसे सजाना चाहिए व सामान खरीदना चाहिए। दूसरों की देखा-देखी न करें और कोई भी सामान अपने घर न ले आएं। आइए जानते हैं अपना आशियाना सजाते हुए आपको किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए...
1. आपके घर में दीवारों पर होने वाले रंगों के महत्व को कम न समझें। हर रंग कुछ कहता है व हर रंग की एक ऊर्जा होती है, जो आपके मन व मस्तिष्क पर असर डालती है।

2. जहां तक संभव हो, घर की सारी दीवारों को एक ही रंग में न रंगवाएं। लिविंग रूम, बेडरूम, किचन, डाइनिंग रूम, बच्चों का कमरा व बाथरूम हर कमरे में आपको क्या काम करना होता है, इसे ध्यान में रखते हुए ऐसा रंग चुनें, जो उस कमरे को सकारात्मक ऊर्जा देता हो जिससे कि उस कमरे में रहते हुए आपका काम करने में मन लगे व आपको हल्कापन महसूस हो।
3. जो भी सामान आप खरीदकर घर में लाते हैं, उसमें भी अपनी ऊर्जा होती है। सोच-समझकर ही चीजें खरीदें व उन्हें अपने घर का हिस्सा बनाएं।

4. यदि कोई सामान काफी पुराना हो गया हो व उसका कोई उपयोग नहीं हो रहा हो, तो ऐसा सामान घर में बिना वजह से संभालकर न रखें। फालतू व अनुपयोगी सामान घर में नकारात्मक ऊर्जा फेंकता है जिसका आपके मन पर प्रभाव पड़ता है व घर में भारीपन महसूस होता है।
5. जितने सामान की घर में जरूरत हो और जो नियमित उपयोग में आता हो, वही घर में होना चाहिए। घर में न तो जरूरत से ज्यादा सामान हो और न ही जरूरत से कम।

6. हर एक सामान की एक समाप्ति अवधि (एक्सपायरी) होती है जिसके बाद हमें उसे निकालकर घर में नया सामान ले आना चाहिए।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

ग़ज़ल : दर पे खड़ा मुलाकात को...

ग़ज़ल : दर पे खड़ा मुलाकात को...
दर पे खड़ा मुलाकात को तुम आती भी नहीं, शायद मेरी आवाज़ तुम तक जाती भी नहीं।

घर को कैंडल्स से ऐसे सजाएं

घर को कैंडल्स से ऐसे सजाएं
जब भी घर, कमरा या टेबल सजाने की बात आती है तब कैंडल्स का जिक्र न हो, ऐसा शायद ही हो सकता ...

अपना आंगन यूं सजाएं फूलों की रंगोली से...

अपना आंगन यूं सजाएं फूलों की रंगोली से...
रंगोली केवल व्रत-त्योहार पर ही नहीं बनाई जाती, बल्कि इसे घर के बाहर व अंदर हमेशा ही बनाया ...

भोजन के बाद भूलकर भी ना करें यह 5 काम, वर्ना सेहत होगी ...

भोजन के बाद भूलकर भी ना करें यह 5 काम, वर्ना सेहत होगी बर्बाद
आइए जानें कि 5 कौन से ऐसे काम हैं जो भोजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए ....

बाल गीत : बनकर फूल हमें खिलना है...

बाल गीत : बनकर फूल हमें खिलना है...
आसमान में उड़े बहुत हैं, सागर तल से जुड़े बहुत हैं। किंतु समय अब फिर आया है, हमको धरती चलना ...

छोटे मानवीय अंगों को विकसित कर सकती है नई रोबोटिक प्रणाली

छोटे मानवीय अंगों को विकसित कर सकती है नई रोबोटिक प्रणाली
वैज्ञानिकों ने एक ऐसी स्वचालित रोबोटिक प्रणाली विकसित की है, जो छोटे मानवीय अंगों को तेजी ...

घर के बाहर जूते उतारने से कम हो सकता है मोटापे का खतरा

घर के बाहर जूते उतारने से कम हो सकता है मोटापे का खतरा
घर में प्रवेश से पहले जूते उतारने से व्यक्ति के चुस्त-दुरुस्त रहने में मदद मिल सकती है, ...

जरा चेक करें कहीं आपकी कोहनी भी तो कालापन लिए हुए नहीं?

जरा चेक करें कहीं आपकी कोहनी भी तो कालापन लिए हुए नहीं?
भले ही आप चेहरे से कितनी ही खूबसूरत क्यों न हों, देखने वालों की नजर कुछ ही मिनटों में ...

क्या है राशि, किस राशि से कैसे जानें भविष्य, पढ़ें सबसे खास ...

क्या है राशि, किस राशि से कैसे जानें भविष्य, पढ़ें सबसे खास जानकारी
आकाश में न तो कोई बिच्छू है और न कोई शेर, पहचानने की सुविधा के लिए तारा समूहों की आकृति ...

पारंपरिक टेस्टी-टेस्टी आम का मीठा अचार कैसे बनाएं, पढ़ें ...

पारंपरिक टेस्टी-टेस्टी आम का मीठा अचार कैसे बनाएं, पढ़ें आसान विधि
सबसे पहले सभी कैरी को छीलकर उसकी गुठली निकाल लीजिए। अब उसके बड़े-बड़े टुकड़े कर लीजिए।