Widgets Magazine

हिन्दी सेवी सम्मान अभिनंदन समारोह - 2017



मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार के उपक्रम केन्द्रीय हिन्दी संस्थान, आगरा द्वारा ‘समारोह’ में महामहिम राष्ट्रपति जी द्वारा सम्मानित विश्व के हिन्दी विद्वानों का स्वागत एवं सम्मान समारोह 30 मई 2017 को आयोजित किया जा रहा है। विश्व सम्मानित विद्वानों के इस कार्यक्रम के उपल्क्ष्य में वाणी फाउंडेशन द्वारा अभिनंदन समारोह का आयोजन 31 मई 2017 को आयोजित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में विश्व के हिन्दी विद्वानों को सम्मानित किया जाएगा, साथ ही कवि डॉ. पदमेश गुप्त (यू.के.) की पुस्तक ‘प्रवासी पुत्र' का लोकार्पण भी होगा।
 
कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ. कमल किशोर गोयनका, मुख्य अतिथि पद्म विभूषण डॉ. सोनल मानसिंह तथा मुख्य वक्ता डॉ. पवन के. वर्मा, पूर्व राज्यसभा सदस्य होंगे। सुश्री तितिक्षा (कृति यू.के.) व डॉ. के.के. श्रीवास्तव (कृति यू.के.) कवि परिचय देंगे तथा प्रो. पुष्पिता अवस्थी (हॉलैंड)डॉ. पद्मेश की पुस्तक के बारे में चर्चा करेंगी।  
 
हिन्दी प्रचार-प्रसार एवं हिन्दी प्रशिक्षण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रो. एस. शेषरत्नम, डॉ.एम. गोविंदराजन, प्रो. हरमहेन्द्र सिंह बेदी और प्रो. एच. सुवदनी देवी को गंगाशरण सिंह पुरस्कार, हिन्दी पत्रकारिता तथा जनसंचार के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए श्री बल्देव भाई शर्मा और श्री राहुल देव को गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार, विज्ञान, चिकित्सा विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए डॉ. गिरीश चन्द्र सक्सेना और डॉ. फणि भूषण दास को आत्माराम पुरस्कार, सृजनात्मक एवं आलोचनात्मक क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रो. सूर्य प्रसाद दीक्षित और श्रीमती चंद्रकांता को सुब्रह्मण्य भारती पुरस्कार, हिन्दी माध्यम से ज्ञान के विविध क्षेत्र, पर्यटन एवं पर्यावरण से संबंधि‍त किसी भी क्षेत्र में मौलिक अनुसंधान के लिए श्रीमती चित्रा मुद्गल और डॉ. जयप्रकाश कर्दम को महापंडित राहुल सांकृत्यायन पुरस्कार, विदेशी हिन्दी विद्वान को विदेशों में हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं लेखन में उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रो. फूजिइ ताकेशि (जापान) और प्रो. गब्रिएला निक. इलिएवा (न्यूयार्क) को डॉ. जॉर्ज ग्रियर्सन पुरस्कार, अप्रवासी भारतीय विद्वान को विदेशों में हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं लेखन कार्य के लिए डॉ. पुष्पिता अवस्थी (नीदरलैंड) और डॉ. पद्मेश  गुप्त (लंदन) को पद्मभूषण डॉ. मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार, कृषि विज्ञान एवं राष्ट्रीय एकता के क्षेत्र में उल्लेखनीय लेखन कार्य के लिए डॉ. बी. आर. छीपा और श्री दयाप्रकाश सिन्हा को सरदार वल्लभ भाई पटेल पुरस्कार, मानविकी के क्षेत्र में एवं कला, संस्कृति एवं विचार की भारतीय चिंतन परंपरा के क्षेत्र में उल्लेखनीय लेखन कार्य के लिए डॉ. महेश चंद्र शर्मा और डॉ. राकेश सिन्हा को दीनदयाल उपाध्याय पुरस्कार, भारतविद्या (इंडोलॉजी) के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए श्री श्रीधर पराडकर और डॉ. श्रीरंजन सूरिदेव को स्वामी विवेकानंद पुरस्कार, शिक्षाशास्त्र एवं प्रबंधन में हिन्दी माध्यम से उल्लेखनीय लेखन कार्य के लिए प्रो. नित्यानंद पाण्डेय और श्री जगदीश प्रसाद सिंघल को पंडित मदन मोहन मालवीय पुरस्कार, विधि एवं लोक प्रशासन के क्षेत्र में हिन्दी भाषा में उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रो. शिवदत्त शर्मा और प्रो. अशोक कुमार शर्मा को राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन से सम्मानित किया जाएगा।
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine