0

आर्ट एन हार्ट ने त्योहारों के मौसम में सजाया 'रंग उजाला'

शनिवार,अक्टूबर 21, 2017
0
1
काजुओ इशिगुरो को 2017 के साहित्य का नोबेल पुरस्कार दिया गया है। नोबेल पुरस्कार के रूप में काजुओ इशिगुरो को करीब 11 लाख ...
1
2
बदली में ही चांद सबसे ज्यादा खूबसूरत और दिलकश लगता है। हल्का-हल्का, झीना-झीना परदा सरकाकर आकाश में थिरकता और दमकता ...
2
3

‘फालो द महात्मा’ एक शीतल हवा

सोमवार,अक्टूबर 2, 2017
महात्मा गांधी जिन्हें लोगों ने प्राणों से बापू पुकारा आज पूरी दुनिया के बापू बन गए हैं। नीदरलैंड में उनके जन्मदिन पर एक ...
3
4
बापू मर नहीं सकते। भारत ही नहीं दुनिया के तमाम देशों के विचारों में बापू यानी महात्मा गांधी का संदेश गूंज रहा है। गांधी ...
4
4
5
इस्लामी कैलेंडर यानी हिजरी सन् का पहला महीना मुहर्रम है। हिजरी सन् का आग़ाज़ इसी महीने से होता है। इस माह को इस्लाम के ...
5
6
वेबदुनिया के 18 वर्ष पूर्ण होने पर देश-विदेश में फैले प्रशंसक-पाठकों की शुभकामनाएं हमें निरंतर मिल रही है। प्रस्तुत है ...
6
7
प्रख्यात कवयित्री महादेवी वर्मा की गिनती हिन्दी कविता के छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभ सुमित्रानंदन पंत, जयशंकर ...
7
8

हिन्दी आलेख : एक सफर ऐसा भी

सोमवार,सितम्बर 18, 2017
हर रोज सुबह हम सभी एक नया सफर तय करते हैं। हमारी मंजि‍ल भले ही अलग होती है, लेकिन कहीं न कही, कभी न कभी हमारे रास्ते ...
8
8
9
मृणाल पांडे। कल से सोशल मीडिया पर चर्चित हैं अपने उस ट्विट की वजह से जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर ...
9
10

हिन्दी आलेख : चाय मतलब चाय

शनिवार,सितम्बर 16, 2017
हम जिस देश में रहते हैं, वहां हर परिवार के दिन की शुरुआत एक कप गरमागरम चाय से ही होती है। सुबह-सुबह एक कप चाय मिल गई, ...
10
11

क्यों नही समझा जाता - बहू को बेटी !

शुक्रवार,सितम्बर 15, 2017
आज हम डिजिटल युग में प्रवेश करने की बात करते हैं। आधुनिकता, स्वतंत्रता और स्वछंदता की पराकाष्ठा में जीने का प्रयास भी ...
11
12
हिन्दी दिवस के अवसर पर वामा साहित्य मंच के तत्वावधान में विचार व्यक्त किए गए। सदस्याओं ने अपनी बात रखी।
12
13
पहले जब युवा और उत्साही फ़िल्मकार या सिंगर, डांसर, मिमिक्री आर्टिस्ट आदि इंडस्ट्री में काम करना चाहते थे तो वे मुंबई ...
13
14
भारतीय संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को जो सर्वसम्मति से राजभाषा की प्रतिष्ठा प्रदान की, उसमें अहिन्दी भाषा-भाषियों की ...
14
15
समकालीन व्यंग्य लेखन को तीन श्रेणियों में रखा जा सकता है। पहला: वर्तमान व्यवस्था की विसंगतियों पर प्रहार करना और नई ...
15
16

स्त्री और आजादी

सोमवार,अगस्त 28, 2017
आजादी के परिप्रेक्ष्य में जब भी बात उठती है, तो सबसे पहले हमारे जेहन में देश की आजादी का ख्याल आता है। स्वाभाविक भी है ...
16
17
आर्ट एन हार्ट संस्था द्वारा गणेशोत्सव के शुभ अवसर पर 3 दिवसीय 'गणेश आर्ट फेस्ट पार्ट-2' (23, 24 एवं 25 अगस्त 2017) ...
17
18
ख्यातनाम यशस्वी कवि चन्द्रकांत देवताले 15 अगस्त 2017 को संसार से बिदा होकर सचमुच 'आजाद-लोक' में प्रस्थान कर गए। उनका ...
18
19
हमारा देश अनादिकाल से ही हर क्षेत्र में स्वस्थ परंपराओं, रीति-रिवाज और आपसी सद्भभाव का संवाहक रहा है जिसका प्रतिफल सदैव ...
19