रगड़ खाकर काली पड़ गई हैं जांघें, इन उपायों से एकदम उजली हो जाएंगी

निवेदिता भारती|



महिलाओं के शरीर का यह हिस्सा ढका रहने के बावजूद भी काला पड़ जाता है। आमतौर पर महिलाओं के कपड़े ऐसे होते हैं कि काली जांघें किसी को नजर नहीं आतीं और यही वजह है कि हर कोई इन्हें बड़ी आसानी से नजरअंदाज कर देता है। कई बार आप किसी ख़ास काम को लेकर बेहद उत्साहित रहती हैं तभी उसमें अपनी काली जांघों के कारण हिस्सा नहीं ले पातीं या लेती भी हैं तो शर्मिदा होतीं हैं।

आपने वेकेशन प्लान किया और दोस्तों या फैमिली के अलावा बीच पर और भी हजारों लोग हैं। आपका फुल इंजॉय करने का मूड है लेकिन कुछ सोच रही हैं। बड़ी मेहनत करके वजन कम किया लेकिन ये जांघों ने तो शर्मिंदा करवा ही दिया। जांघें काली क्यों होती हैं इसकी वजह बार बार का घर्षण है। आप जब चलती हैं तो आपके पैरों के बीच टकराव होता है, इससे भीतरी त्वचा काली पड़ जाती है।


आपकी जांघों के काला होने के पीछे दूसरा कारण है कपड़े का फेब्रिक। आपकी जांघों पर अधिकतर जींस रहता है। यह मोटा और खुरदुरा होता है। कॉटन के कपड़े की तरह यह आपकी त्वचा को सुकून नहीं देता। ऐसे में जब कपड़ों के फेब्रिक में कोई खास बदलाव आप नहीं कर सकतीं तो बेहतर है कि ऐसे उपाय किए जाएं जिनसे जांघों की स्किन ख़ूबसूरत, बेदाग और खिली खिली हो जाए। जानिए ऐसे कौन से 6 काम हैं जो घर पर ही करने पर जांघें दिखेंगी ख़ूबसूरत और उजली।

1. नींबू और दही : नींबू को नेचुरल ब्लीच के तौर पर जाना जाता है। खूबसूरती के मामले में दही भी पीछे नहीं। इन दोनों का कॉम्बिनेशन मतलब जांघों के कालेपन पर डबल वार। इन्हें मिक्स कर लगाएं कालापन धीरे धीरे दूर होगा।
हर दिन इस मिक्चर को आधा घंटे लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। एक हफ्ते तक इसे आजमाना है।


2. शहद, नींबू और तेल : शहद अपनी तरह का अनोखा तत्व है। यह छूने में कोमल है लेकिन काम एक्सफोलिएशन का करती है। यह आपके डेड स्किन सेल्स हटा देती है और स्किन के सेल्स को नया जीवन देती है। ऑलिव ऑइल त्वचा को नर्म और कोमल बनाता है। एक समान मात्रा में नींबू का तेल, हनी और तेल लेकर मिक्स करें। इस पेस्ट को जांघो पर लगाएं और 20 मिनिट के लिए छोड़ दें। बाद में गुनगुने पानी से धो लें। दो हफ्तों में आपको फर्क महसूस होगा।


3.
चावल का पानी : कई लोगों की सेंसिटिव स्किन होने के कारण उन्हें नींबू के उपयोग से खुजली और जलन की समस्या आती है। ऐसे में चावल का पानी आपके लिए बढ़िया है। सिर्फ थोड़ा चावल बनाएं जिसमें नमक और तेल न मिलाएं। इसके पानी को संभाल कर रखा लें। इसे ठंडा होने दें और एक स्प्रे बोतल में भर लें। इसे अपनी जांघों पर स्प्रे करते रहें। इसे पानी से धोने की भी जरूरत नहीं। कपडे पहनने के पहले जांघों को अच्छे से सुखा लें।

4. बेसन और ऐलोवेरा : बेसन और ऐलोवेरा ऐसे ब्यूटी चीजें हैं जो रामबाण की तरह काम करती है। बात भले ही कलर सुधारने की हो या स्किन को स्मूथ बनाने की, इनसे बेहतर मिक्स हो ही नहीं सकता। जांघों के लिए भी आप इसे अपनाकर देखें। आपको इन्हे मिलकर पर लगाकर 20 मिनिट सूखने देना है। फिर धो लीजिए। दो हफ्ते तक इस प्रक्रिया को दोहराएं।


5. हाइड्रोजन पैरॉक्साइड : हाइड्रोजन पैरॉक्साइड का इस्तेमाल घाव धोने में किया जाता है। यह कीटाणु किल करता है।
आप घर पर इसे रखते ही होंगे।
आसान सा काम बचा है। आप रूई को हाइड्रोजन पैरॉक्साइड से थोड़ा गीला करें और अपनी जांघों पर लगा लें। इस प्रयोग से जर्म्स और बैक्टीरया ख़त्म होते हैं और इससे कालापन जाता है।
हाइड्रोजन पैराक्साइड के उपयोग के पहले भी खुद पर इसकी सेंसिटिविटी चेक कर लें।


6. टूथपेस्ट और टमाट
: नींबू की तरह टमाटर भी ब्लीच का काम करता है। टूथपेस्ट भी जर्म्स किलर है।
इन्हें मिक्स कर काली जांघों को उजाला बनाने के लिए अच्छा पेस्ट बनाया जा सकता है। टूथपेस्ट काफी जल्दी सूख जाता है। आप इस पेस्ट को जांघ पर सूखने तक लगाए रखें और फिर धो लें। यह प्रयोग भी दो हफ्ते तक लगातार दोहराया जा सकता है। कुछ लोगों के लिए यह मिश्रण मुश्किल भी पैदा कर सकता है। आप अगर टूथपेस्ट के लिए सेंसिटिव हैं तो आपको यह नुकसान कर सकता है। सावधानी रखें।



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ
जीवन की ढलने लगी सांझ उमर घट गई डगर कट गई जीवन की ढलने लगी सांझ।

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी ...

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी मत देना
मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊँचाई कभी मत देना गैरों को गले न लगा सकूँ इतनी रुखाई कभी मत ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक पटल, बहुत याद आएंगे अटल
देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वह ना केवल एक ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते हैं सोच...
अटल बिहारी वाजपेयी ने शिक्षा, भाषा और साहित्य पर हमेशा जोर दिया। उनके अनुसार शिक्षा और ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना होगा, गलना होगा
बाधाएं आती हैं आएं घिरें प्रलय की घोर घटाएं, पांवों के नीचे अंगारे, सिर पर बरसें यदि ...

बारिश में बिल्कुल न खाएं अंकुरित अनाज, जानिए कारण ...

बारिश में बिल्कुल न खाएं अंकुरित अनाज, जानिए कारण ...
वैसे तो अंकुरित अनाज सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है और इसे नियमित तौर पर अपनी डाइट में ...

वाजपेयीजी ऐसे राजनेता जिसे हम भूल नहीं सकते

वाजपेयीजी ऐसे राजनेता जिसे हम भूल नहीं सकते
अटलबिहारी वाजपेयी की पूरी जीवन यात्रा के मूल्यांकन के लिए कुछ आधार बनाना होगा। उनको ...

जो चाहें वो पाएं, ऐसे इस्तेमाल करें अपना 'सब कॉन्शस माइंड'

जो चाहें वो पाएं, ऐसे इस्तेमाल करें अपना 'सब कॉन्शस माइंड'
जीवन में हमारे साथ जो भी घटित होता है उसमें असल खेल तो हमारे 'सब कॉन्शस माइंड' का होता है ...

माखन-मिश्री के सेहत से जुड़े ये 6 मीठे फायदे आप भी जानिए...

माखन-मिश्री के सेहत से जुड़े ये 6 मीठे फायदे आप भी जानिए...
माखन मिश्री भगवान श्रीकृष्ण का प्रिय भोग है। यह स्वाद में जितना मधुर लगता है, उतने ही ...

ईद-उल-अजहा को क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए

ईद-उल-अजहा को क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए
ईद-उल-अजहा मुस्लिम भाइयों का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। कुरबानी से जुड़ी होने की वजह से इसे ...