आपके किचन में रखा है जहर, जानिए ऐसी चीजें जो हो सकती हैं खतरनाक


जहर हो जाती हैं रसोई में रखी यह चीजें....
कई चीजों व खाद्य पदार्थों से भरा एक भंडार है। यहां उपलब्ध कुछ चीजों का इस्तेमाल प्रतिदिन, तो कुछ का इस्तेमाल कभी-कभार करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन्हीं
चीजों के जरिए आपके किचन में पैर पसारता है जहर ...जी हां यकीन नहीं होता तो अभी पढ़ें -

जानिए ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में जो आपकी रसोई में हमेशा उपलब्ध होती हैं, लेकिन यह चीजें आपको बुरी तरह बीमार कर सकती हैं। जानिए कौन सी हैं वे खतरनाक चीजें -

1 आलू - घर में बाकी सब्जियों के साथ-साथ आलू हमेशा रखे होते हैं, लेकिन इन आलुओं के बीच कुछ ऐसे होते हैं, जो हल्का हरापन लिए होते हैं, और कुछ समय बाद इनमें से अंकुर निकलने लगते हैं। यह आलू आपकी सेहत को बुरी तरह बिगाड़ सकते हैं। दरअसल इनके छिलकों में ग्लाइकोएल्कोलॅइड्स नामक तत्व पाया जाता है, जिसके कारण इनका अंकुरण होता है। यह तत्व आपको अतिसार से लेकर कोमा जैसी गंभीर बीमारी का मरीज बना सकता है। इतना ही नहीं यह मौत के लिए भी जिम्मेदार हो सकता है।
2 बादाम - वैसे तो बादाम दिमागी सेहत और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन यदि घर में रखे बादाम के स्वाद में जरा भी कड़वापन है, तो यह आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। दरअसल बादाम का स्वाद कड़वा होने का प्रमुख कारण उसमें हाइड्रोजन साइनाइड की उपस्थि‍ति है। हाइड्रोजन साइनाइड आपकी सेहत के लिए बेहद खतरनाक हो सकता है।

3 जायफल - रसोई घर में कभी स्वाद के लिए तो कभी दवा के तौर पर जायफल को रखा जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, कि पुराने जायफल का सेवन आपके लिए तनाव का कारण बन सकता है। इतना ही नहीं इसका अत्यधि‍क सेवन हार्ट अटैक का कारण भी बन सकता है। कुछ शोधों में यह बात भी सामने आई है कि यह आपको मनोरोगी भी बना सकता है।
4 कच्चा या असली शहद - सीधे मधुमक्खी के छत्ते से निकाला गया शहद आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। इसका प्रमुख कारण है कि यह पाश्चुरीकृत नहीं होता और इसमें मौजूद सूक्ष्म जीव व उनके कण आपके लिए हानिकारक साबित होते हैं। इसका सेवन आपको चक्कर आना, उल्टी आना, अत्यधि‍क पसीना आना, मतली होना जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं दे सकता है।

5 फलों के बीज - फल खाते समय अगर आप गलती से उनके बीज भी खा जाते हैं, तो यह आपके शरीर में जाकर कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकता है। सेब, पीच के अलावा और भी फल हैं, जिनके बीज आपके लिए बहुत घातक हो सकते हैं। इसमें हाइड्रोजन साइनाइड की अत्यधि‍क मात्रा होती है, जो जहरीला प्रभाव डालती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

5 ऐसी चीजें जो लिवर की बीमारी को करती हैं दूर, एक बार पढ़ें ...

5 ऐसी चीजें जो लिवर की बीमारी को करती हैं दूर, एक बार पढ़ें जरूर
आप खाने के शौकीन हैं लेकिन क्या आप महसूस कर रहे हैं कि पिछले कुछ समय से आपका पाचन थोड़ा ...

दोमुंहे बालों से छुटकारा पाना चाहती हैं, तो ये 4 तरीके ...

दोमुंहे बालों से छुटकारा पाना चाहती हैं, तो ये 4 तरीके अपनाएं
जब बालों का निचला हिस्सा दो भागों में बंट जाता है, तब उसे बालों का दोमुंहा होना कहते हैं। ...

भोलेनाथ भगवान शंकर की भस्म से होते हैं कई रोग दूर, पढ़कर ...

भोलेनाथ भगवान शंकर की भस्म से होते हैं कई रोग दूर, पढ़कर चौंक जाएंगे
भस्म ना सिर्फ सेहत की दृष्टि से उपयुक्त होती है बल्कि स्वाद में भी लाजवाब हो जाती है। ...

फुटबॉल के मैदान से हटकर अब चर्चा कूटनीति के मैदान की

फुटबॉल के मैदान से हटकर अब चर्चा कूटनीति के मैदान की
दुनिया का सबसे बड़ा और रोमांच से भरपूर फुटबॉल मेला समाप्त हुआ। करोड़ों को रुला लिया, ...

प्रेम गीत : नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे

प्रेम गीत : नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे
नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे,अब आ भी जाओ,कि अंजुमन को तेरी दरक़ार है, ढूँढता रहा,

कैसे करें देवशयनी एकादशी व्रत, क्या मिलेगा इस व्रत का फल, ...

कैसे करें देवशयनी एकादशी व्रत, क्या मिलेगा इस व्रत का फल, जानिए...
आषाढ़ शुक्ल पक्ष की एकादशी को ही देवशयनी एकादशी कहा जाता है। इस दिन से भगवान श्री हरि ...

कैसा है शिव का स्वरूप, क्यों माने गए हैं स्वयंभू, जानिए...

कैसा है शिव का स्वरूप, क्यों माने गए हैं स्वयंभू, जानिए...
शिव यक्ष के रूप को धारण करते हैं और लंबी-लंबी खूबसूरत जिनकी जटाएं हैं, जिनके हाथ में ...