हॉट सीजन में बने रहे फ्रेश और कूल, 10 काम की बातें


- राज जैन

कोई-सा भी हो, उसका प्रभाव कम या अधिक तन-मन पर पड़ता ही है। सर्दी और गर्मी के बदलते तेवरों को तो तन-मन झेल लेता है, पर उफ्‌...इस गर्मी के आगे बेबस हो जाता है। इस मौसम में हम क्या खा-पी रहे हैं, क्या पहन रहे हैं, मेकअप कैसा कर रहे हैं, कौन से गहनों का इस्तेमाल कर रहे हैं, इन सबका भी असर शरीर पर पड़ता है। इन सबके द्वारा ठंडक व ताजगी कैसे बनी रहे, इसके लिए कुछ विशेष बातों पर ध्यान दें।
1. तन की ठंडक के लिए स्नान बेहद जरूरी है, जिसे करने का मजा गर्मियों में अलग ही है। बाथ टब, शावर बाथ या स्वीमिंग पूल में घंटों स्नान कर लेना ही पर्याप्त नहीं है। आप चाहते हैं कि आपकी ताजगी दिनभर बनी रहे तो नहाने के पानी में कुछ बूंदें यूडीकोलोन की मिला लीजिए।

2. आपका शरीर दिनभर महकता रहे, शीतल व ठंडा रहे, इसके लिए नहाने के पानी में देशी गुलाब की पंखुड़ियां, उबली हुई नीम की पत्तियां मिक्स करिए।
3. नहाने के बाद अच्छे डिओडरेंट, बॉडी लोशन, टेलकम पावडर या परफ्यूम का प्रयोग करना न भूलें। इनसे इन दिनों दोहरा फायदा होगा। इनकी परत त्वचा पर चढ़ी रहने से त्वचा धूल-मिट्टी से बचे रहेगी, साथ ही इनकी भीनी-भीनी खुशबू से दिनभर आप खिले-खिले भी रहेंगे।

4. अब आता है नंबर कपड़ों का। कपड़ों का सही चयन भी बहुत हद तक शरीर को ठंडक और ताजगी का अहसास कराता है। ठंडक देने वाला सर्वोत्तम कपड़ा है खादी। खादी से बनी ड्रेसेज यदि आप पसंद करते हैं तो इस मौसम में इसे ही प्राथमिकता दें।

5. लड़कियां कॉटन ड्रेसेज जो लाइट कलर की हों- व्हाइट, ऑफ व्हाइट, ग्रे, स्काई ब्ल्यू, पिंक जैसे लाइट शेड्स शरीर को शीतलता का अहसास कराते हैं और देखने वालों को भी अच्छे लगते हैं।
6. आजकल मार्केट में महीन कपड़ों की साड़ियां भी खूब चलन में हैं। इनमें से कॉटन, कोटा चेक्स, जॉर्जेट, शिफॉन, अवरगंडी ही पहनें। हल्के रंगों की प्लेन साड़ियों पर ब्राइट प्रिंट भी इन दिनों अच्छी लगती है। लड़के कुर्ता-पाजामा या लाइट टी-शर्ट को प्रिफर करें।

7. लड़कियां इस मौसम में डार्क मेकअप न करें। हल्के रंग का रूज, लाइट प्राकृतिक कलर के कॉम्पेक्ट, नेचुरल लिपस्टिक व आईशेडो, आईब्रो पेंसिल का टच व भीनी खुशबू वाले स्प्रे, बस पर्याप्त है इतना मेकअप।
8. शाम के समय थोड़ी तब्दीली कर सकती हैं। मौसम की नजाकत को देखते हुए भारी-भरकम गहनों को लॉक कर दें, क्योंकि ऐसे गहने गर्मी को बढ़ावा देंगे, साथ ही जल्दी ही आपको पसीने से तरबतर भी कर देंगे। इन दिनों सिम्पल चेन, टॉप्स और पसंदीदा रिंग बस इतना ही पहनना पर्याप्त होगा। शाम का समय है और आप घूमने जा रही हैं तो मेचिंग की हल्की ज्वेलरी भी चल सकती है।

9. मौसम की विशेष चीज यानी खाना। तला-भुना, अधिक मिर्च-मसालेयुक्त, गरिष्ठ खाना इन दिनों स्वास्थ्य को बिगाड़ता है। ऐसा खाना खाने से जहां शरीर को गर्मी अधिक लगती है वहीं यह एसिडिटी का कारण भी बन सकता है। अतः नारियल पानी, नींबू पानी तन-मन को ताजगी देते हैं और ठंडक बनाए रखने के साथ-साथ ये पाचन क्रिया को भी सही रखते हैं। अधिक से अधिक फलों का ज्यूस, कच्चा सलाद, जलजीरा, दही, छाछ, लस्सी, मट्ठा व जितना पानी आप पी सकते हैं पीएं।

10. खीरा, तरबूज व खरबूजा इस मौसम की विशेष सौगात हैं क्योंकि इनमें पानी की मात्रा अधिक होती है। कैरी का पना लू से बचाता है। घर से बाहर धूप में जाते समय यह जरूर पीएं। कच्चा नारियल, सौंफ व मिश्री का सेवन करने से दिलो-दिमाग में दिनभर ठंडक व ताजगी बनी रहती है। इन दिनों टेंशनमुक्त रहें, किसी भी बात को लेकर लंबे समय तक टेंशन करना गर्मी का अधिक अहसास कराता है।


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना
पति-पत्नी के बीच घर के दैनिक कार्य को लेकर, नोकझोंक का सामना रोजाना होता हैं। पति का ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें
हर बार आप सैलून में ही जाकर अपने बालों को कलर करवाएं, यह संभव नहीं है। बेशक कई लोग हमेशा ...

मछली खाने से कैंसर और हृदय रोग होने का खतरा कम, रिसर्च का ...

मछली खाने से कैंसर और हृदय रोग होने का खतरा कम, रिसर्च का दावा
बीजिंग। ओमेगा-थ्री फैटी एसिड युक्त मछली या अन्य खाद्य वस्तुएं खाने से कैंसर या हृदय ...

नीरज की जीवनी : जीवन से रचे बसे गीत की रचना में माहिर थे ...

नीरज की जीवनी : जीवन से रचे बसे गीत की रचना में माहिर थे गोपाल दास नीरज
मुंबई। भारतीय सिनेमा जगत में गोपाल दास नीरज का नाम एक ऐसे गीतकार के तौर पर याद किया जाएगा ...

हल्दी में मक्के का पाउडर, मिर्च में चावल की भूसी... घातक है ...

हल्दी में मक्के का पाउडर, मिर्च में चावल की भूसी... घातक है मिलावट का बाजार, कर रहा है सेहत पर अत्याचार
मिलावटी सामान बेचकर लोगों को ठगा जा रहा है, साथ ही उनके स्वास्थ्य के साथ भी खिलवाड़ किया ...

नदी को धर्म मानने से ही गंगा को बचाना संभव

नदी को धर्म मानने से ही गंगा को बचाना संभव
दुनिया की सबसे पवित्र मानी जाने वाली नदी होने के साथ ही गंगा दुनिया की सबसे प्रदूषित ...

क्या आपके हाथों का रंग, चेहरे के रंग से मेल नहीं खाता? तो ...

क्या आपके हाथों का रंग, चेहरे के रंग से मेल नहीं खाता? तो आजमाएं आसान से 5 घरेलू उपाय
आइए, आपको हम कुछ आसान से घरेलू उपाय बताते हैं जिन्हें आजमाने पर आपके हाथों का रंग भी आपके ...