अभी न जाओ प्राण ! ......

ND
अभी न जाओ प्राण ! प्राण में प्यास शेष है,
प्यास शेष है,
अभी बरुनियों के कुञ्जों मैं छितरी छाया,
पलक-पात पर थिरक रही रजनी की माया,
श्यामल यमुना सी पुतली के कालीदह में,
अभी रहा फुफकार नाग बौखल बौराया,
अभी प्राण-बंसीबट में बज रही बंसुरिया,
अधरों के तट पर चुम्बन का रास शेष है।
अभी न जाओ प्राण ! प्राण में प्यास शेष है।
प्यास शेष है।
अभी स्पर्श से सेज सिहर उठती है, क्षण-क्षण,
गल-माला के फूल-फूल में पुलकित कम्पन,
खिसक-खिसक जाता उरोज से अभी लाज-पट,
अंग-अंग में अभी अनंग-तरंगित-कर्षण,
केलि-भवन के तरुण दीप की रूप-शिखा पर,
अभी शलभ के जलने का उल्लास शेष है।
अभी न जाओ प्राण! प्राण में प्यास शेष है,
प्यास शेष है।
अगरु-गंध में मत्त कक्ष का कोना-कोना,
सजग द्वार पर निशि-प्रहरी सुकुमार सलोना,
अभी खोलने से कुनमुन करते गृह के पट
देखो साबित अभी विरह का चन्द्र -खिलौना,
रजत चांदनी के खुमार में अंकित अंजित-
आँगन की आँखों में नीलाकाश शेष है।
अभी न जाओ प्राण! प्राण में प्यास शेष है,
प्यास शेष है।
अभी लहर तट के आलिंगन में है सोई,
अलिनी नील कमल के गन्ध गर्भ में खोई,
पवन पेड़ की बाँहों पर मूर्छित सा गुमसुम,
अभी तारकों से मदिरा ढुलकाता कोई,
एक नशा-सा व्याप्त सकल भू के कण-कण पर,
अभी सृष्टि में एक अतृप्ति-विलास शेष है।
अभी न जाओ प्राण! प्राण में प्यास शेष है,
प्यास शेष है।
अभी मृत्यु-सी शांति पड़े सूने पथ सारे,
अभी न उषा ने खोले प्राची के द्वारे,
अभी मौन तरु-नीड़, सुप्त पनघट, नौकातट,
अभी चांदनी के न जगे सपने निंदियारे,
अभी दूर है प्रात, रात के प्रणय-पत्र में-
बहुत सुनाने सुनने को इतिहास शेष है।
अभी न जाओ प्राण! प्राण में प्यास शेष है,
WD|
प्यास शेष है॥

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

ऐसे लगाएं परमात्मा से योग

ऐसे लगाएं परमात्मा से योग
योग यानी जुड़ना और जुड़ना जिससे भी सच्चे मन से हो जाए, उससे ही योग लग जाता है। जब किसी को ...

शहद और लहसन साथ में लेने के यह 5 फायदे आपको चौंका देंगे, ...

शहद और लहसन साथ में लेने के यह 5 फायदे आपको चौंका देंगे, जरूर पढ़ें
शहद और लहसन, दोनों के सेहत से जुड़े 5 फायदे... लेकिन पहले जानिए कि कैसे करें लहसन और शहद ...

प्राणायाम से पाएं दीर्घायु

प्राणायाम से पाएं दीर्घायु
हर कोई चाहता है कि जब तक वह जीवित रहे, स्वस्थ ही रहे। स्वस्थ रहते हुए ही अपने बच्चों को ...

घी जरूर खाएं,नहीं करता है नुकसान, जानिए इसके बेमिसाल फायदे

घी जरूर खाएं,नहीं करता है नुकसान, जानिए इसके बेमिसाल फायदे
घी पर हुए शोध बताते हैं कि इससे रक्त और आंतों में मौजूद कोलेस्ट्रॉल कम होता है। क्या वाकई ...

एक साथ लीजिए दूध और गुड़, जानिए इस कॉंबिनेशन में कितने हैं ...

एक साथ लीजिए दूध और गुड़, जानिए इस कॉंबिनेशन में कितने हैं गुण
अगर आप दूध के साथ चीनी का इस्तेमाल करते है तो इसकी जगह आप गुड़ का इस्तेमाल करें। ऐसा करने ...

नशा क्या है? कैसे होगा इलाज

नशा क्या है? कैसे होगा इलाज
ड्रग एडिक्शन या नशे की लत किसी के शरीर को होने वाली ऐसी ज़रूरत है जिस पर नियंत्रण रखना ...

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस : कोई कर रहा है नशा, पहचानें ...

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस : कोई कर रहा है नशा, पहचानें ये 9 लक्षण
नशा करने से शर्तियातौर पर व्यक्ति का व्यवहार और हरकतें बदल जाती हैं। आपकी थोड़ी सी सजगता ...

जानिए कैसे-कैसे तरीकों से नशा करते हैं लोग और इसके ...

जानिए कैसे-कैसे तरीकों से नशा करते हैं लोग और इसके दुष्परिणाम
हर वर्ष 26 जून को 'अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस' मनाया जाता है। नशीली वस्तुओं और ...

जानिए, बरसात में कैसा हो आपका मेकअप?

जानिए, बरसात में कैसा हो आपका मेकअप?
चाहे मौसम जो भी हो ठंड, गर्मी या बरसात। शादी-ब्याह व किसी खास अवसर की पार्टी के मुहूर्त ...

नवग्रहों को सुगंध से प्रसन्न करें, हर ग्रह को है कोई खास ...

नवग्रहों को सुगंध से प्रसन्न करें, हर ग्रह को है कोई खास सुगंध पसंद...
सुगंध से ग्रह नक्षत्रों के बुरे प्रभाव को दूर कर सकते हैं। जानिए कि कैसे सुगंध से ग्रहों ...