होशियारपुर में भाजपा-कांग्रेस में कांटे की टक्कर

होशियारपुर| भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 28 अप्रैल 2014 (17:33 IST)
FILE
होशियारपुर। वर्ष 2009 में सिर्फ 366 मतों के अंतराल से ने यह सीट भाजपा से छीन ली थी। अब 5 साल बाद अनुसूचित जाति के लिए अरक्षित इस निर्वाचन क्षेत्र में फिर से दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों के बीच कड़ा मुकाबला होने जा रहा है। यहां 30 अप्रैल को है।

दोनों पार्टियों ने इस बार नए उम्मीदवारों को यहां से चुनावी मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने यहां से पिछली बार जीती सांसद संतोष चौधरी की जगह जालंधर से सांसद मोहन सिंह केपी को मैदान में उतारा है।

भाजपा ने यहां से दलित नेता और जालंधर निवासी विजय सांपला को खड़ा किया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्यमंत्री संतोष चौधरी ने पिछली बार यहां से बीजेपी के उम्मीदवार सोमप्रकाश को हराया था।
साल 2009 में हुए करीबी मुकाबले को देखते हुए सत्तारूढ़ अकाली दल और भाजपा वाली गठबंधन सरकार यह उम्मीद कर रही है कि इस बार सांपला कांग्रस से यह सीट लेने में कामयाब होंगे।

देश में अन्य भाजपा उम्मीदवारों की तरह सांपला (52) को भी मोदी लहर पर भरोसा है। सांपला यहां कंडी इलाके में विकास नहीं होने के लिए कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं।
उन्होंने कहा कि देश में मोदी लहर है। इस चुनाव में भाजपा के उम्मीदवारों को मोदी फैक्टर निश्चित रूप से लाभ पहुंचाएगा। दूसरी ओर केपी (57) ने मतदाताओं को आश्वासन दिया है कि वे इस इस निर्वाचन क्षेत्र में तेल रिफाइनरी और रेलवे कोच फैक्टरी जैसे भारी उद्योग लाएंगे।

उन्होंने कहा कि वे यहां युवाओं के लिए रोजगार के अवसर का निर्माण करेंगे। जिले में रोजगार के अवसर कम हैं। मैं यहां भारी उद्योग लाने में कोई कोशिश अधूरी नहीं छोड़ूंगा। (भाषा)


और भी पढ़ें :