बारहवीं पास विदेश में पा सकेंगे शिक्षा

ND
ऑस्ट्रेलिया सरकार द्वारा समर्थित ऑस्ट्रेलियन यूनिफाईड पाथवे प्रोग्राम (एयूपीपी) के कारण अब बारहवीं पास विद्यार्थियों के लिए अंतरराष्ट्रीय शिक्षा भारतीय लागत में पाना संभव हो गया है। यह जानकारी नाइस कॉलेज द्वारा आयोजित एडमिशन सेमिनार में दी गई।

इस कार्यक्रम के अंतर्गत ऑस्ट्रेलिया की टॉप गवर्नमेंट यूनिवर्सिटीज ने भारतीय कैंपस के विद्यार्थियों को क्रेडिट ट्रांसफर की सुविधा दी है, जिसके तहत बिना पासपोर्ट, वीसा, आईईएलटीएस, बिना कॉम्पीटिटीव एक्जाम का सामना किए भी भारतीय लागत में विद्यार्थी अपनी शिक्षा भारत से ही शुरू करके ऑस्ट्रेलिया में पूरी कर सकते हैं।

इस कार्यक्रम के तहत इंफर्मेशन टेक्नोलॉजी, प्रोफेशनल अकाउंटिंग, इंफर्मेशन सिस्टम, बिजनेस मार्केटिंग, ह्यूमन रिसोर्स, हॉस्पिटलिटी मैनेजमेंट, बीबीए आदि के तीन वर्षीय बैचलर डिग्री कोर्सेस व एमटेक (आईटी),एमबीए आदि के पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेस में सीधे एडमिशन की सुविधा है।

ND|
एयूपीपी का जादू कार्यक्रम के तहत क्रेडिट ट्रांसफर किया जा सकता है। इससे समय व धन की काफी बचत होती है। विदेश में पढ़ाई के लिए भारतीय बैंकों द्वारा शिक्षा ऋण की सुविधा आसानी से उपलब्ध है।

सम्बंधित जानकारी

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :