पर्यावरण व प्रकृति बचाएं, जानें 13 काम के उपाय

Widgets Magazine


डॉ. साधना सुनील विवरेकर
 
1.  प्रकृति के सानिध्य का सुख समझें। अपने आसपास छोटे पौधें हो या बड़े वृक्ष लगाएं। धरती की हरियाली बढ़ाने के लिए कृतसंकल्प हो तथा लगे हुए पेड़-पौधों का अस्तित्व बनाए रखने का प्रण ले सहयोग करें।
 
2.  अपने या बच्चों के जन्मदिन हो या कोई भी यादगार क्षण पेड़ लगाकर उन यादों को चिरस्थायी बनाएं।
 
3.  हल्दी कुंकु का घरेलू आयोजन हो या बड़े समारोहों में अतिथि स्वागत, पुष्प गुच्छ के स्थान पर हार पहनाने की बजाए पौधे देकर सम्मानित करें, स्नेह संबंधों को चिरस्थायी बनाएं।
 
4.  सड़कें या घर बनाते समय यथासंभव वृक्षों को बचाएं अत्यावश्यक हो तो पांच गुना पेड़ लगाकर प्रकृति को सहेजे।
5.  अपने घर आंगन में थोड़ी सी जगह पेड़ पौधों के लिए रखें। ये हरियाली देंगे, तापमान कम करेंगे, पानी का प्रबंधन करेंगे व सुकून से जीवन में सुख व प्रसन्नता का एहसास कराएंगे।
 
6. पानी का संरक्षण करें, हर बूंद को बचाएं -
1  ब्रश करते समय नल खुला न छोड़ें।
2 शॉवर की जगह बाल्टी में पानी लेकर नहाएं।
3 गाड़ियां धोने की बजाए बाल्टी में पानी लेकर कपड़े से साफ करें।
4  आंगन व फर्श धोने की बजाए झाडू व बाद में पोंछा लगाकर सफाई करें।
5 प्रतिदिन फर्श साफ करने के बाद पौंछे का पानी गमलों व पौधों में डालें। (फिनाइल रहित पानी लें)।
6 दाल, सब्जी, चावल धोने के बाद इकट्ठा कर पानी गमलों व क्यारियों में डालें।
7 सार्वजनिक नलों को बहते देखें तो नल बंद करने की जहमियत उठाएं।
8 मेहमानों को पानी छोटे गिलास में दें व फिर भी पानी बचे तो गमलों में डालें।
9 बर्तन धोते समय पानी का किफायत से उपयोग करें।
10 कपड़ों में कम से कम साबुन डालें ताकि कम पानी में कपड़े धुल सकें।
11 कूलर इत्यादि का उपयोग घर के सभी सदस्य साथ बैठकर करें।
12 नल को टपकने न दें, प्लम्बर बुलाकर तुरंत ठीक करवाएं।
13 टंकी बहने न दें।
 
7.  ऑफिस हो या घर बिजली का किफायती उपयोग करें।
1 कमरे से बाहर निकलते लाईट, पंखें बंद करें।
2 एक ही कमरे में एसी, टी.व्ही. इत्यादि चलाएं।
3 एसी, फ्रिज में जहरीली गैसे प्रयुक्त न हों इसका ध्यान रखें व ऐसे ही उपकरण करीदने का आग्रह करें जो को नुकसान न पहुंचाए।
4 सड़कों पर देर तक जलने वाली लाइट्स बंद करें या करवाएं।
5 विद्युत उपकरणों का समय-समय से रखरखाव करें।
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।