दिलीप कुमार : बड़े परिवार के सुख-दुःख

Dilip Kumar
ND|
IFM
भावनात्मक रूप से सदा ‍अपने परिवार से जुड़े रहे। पेशावर में दादा-दादी, चाचा-चाची, बहन-भाई सभी एक संयुक्त पठान के मेंबर थे। सरवर खान फलों के थोक व्यवसायी थे। अय्यूब की बीमारी की वजह से उनका सारा परिवार 1926 में मुंबई आ गया, लेकिन छुट्‍टियों में पेशावर जाता रहा।

मुंबई में क्राफोर्ड मार्केट में सरवर खान की दुकान थी। यूसुफ की माता आयेशा बेगम को दमे का रोग था। अगस्त 1948 में उनका निधन हो गया। मार्च 1950 में सरवर खान भी चल बसे। उन्हें उनकी अंतिम इच्छा के मुताबिक देवलाली में पत्नी की कब्र के निकट ही दफनाया गया।

पिता की मृत्यु के बाद परिवार की आर्थिक जिम्मेदारी दिलीप कुमार ने अपने कंधों पर ली, जबकि सबसे बड़ी बहन सकीना ने घर-गृहस्थी का काम संभाल लिया। 1950 में यह परिवार पाली हिल के बंगले में रहने के लिए आ गया। दिलीप ने इसे 1 लाख 20 हजार रुपए में खरीदा था, जब वे सितारे के रूप में स्थापित हो चुके थे।
खान परिवार की सबसे बड़ी बहन सकीना, जो सारे घर की कारभारी थीं, आपाजी के नाम से पुकारी जाती थीं। वे बहुत सुंदर थीं और ऐन विवाह से पहले चर्म रोग हो जाने के कारण कुँवारी रह गईं। मगर बाद में आपाजी की वजह से ही माता-पिता के देहांत के बावजूद घर की खुशहाली बनी रही। उन्होंने अपने छोटे भाई-बहनों- अहसान, असलम, अख्तर, सईदा, फरीदा और फौजिया को अच्छी तरह शिक्षित किया। यह परिवार अकसर कश्मीर, महाबलेश्वर, पंचगनी और रत्नागिरि छुट्‍टी मनाने जाया करता था।
अजमेर, बिहार शरीफ, अहमदनगर, आगरा और दिल्ली भी इनके प्रिय यात्रा स्थल थे। असल में आपाजी धार्मिक वृत्ति की भी थीं और सूफीवाद में उनकी गहन आस्था थी। अपने जीवन का अंतिम समय उन्होंने अजमेर शरीफ में ख्वाजा की सेवा करते हुए गुजारा।

बीमार भाई अय्यूब का निधन 1954 में ही हो गया था। सबसे बड़े भाई नूर मोहम्मद का निधन 1991 में हुआ, जबकि अनुज नासिर खान ने, जिन्होंने फिल्मों में थोड़ी सफलता पाई थी, दो विवाह किए, पहले के. आसिफ की बहन सुरैया से और बाद में अभिनेत्री बेगम पारा से। नासिर भी एक घातक चर्म रोग के शिकार हुए, जिससे उनका फिल्म करियर चौपट हो गया। दिल का दौरा पड़ने से मई 1976 में उनका अमृतसर में निधन हो गया, जब वे अपनी एक ही फिल्म के सिलसिले में शूटिंग के लिए कुल्लू मनाली गए थे। पिछले दशक में कुछ फिल्मों में नायक के रूप में आया अय्यूब खान बेगम पारा और नासिर खान का ही बेटा है, जिसने अपनी फूफी फौजिया की बेटी से निकाह किया है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :