ध्यान क्या, क्यों और कैसे, संपूर्ण जानकारी

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
संसार में धन और संन्यास में ध्यान का बहुत ज्यादा महत्व है। यदि आंतरिक जगत की यात्रा करना हो या मोक्ष पाना हो तो ध्यान जरूरी है। इसके अलावा संसार में रहकर शांतिपूर्ण और स्वस्थ जीवन जीना हो तो भी ध्‍यान जरूरी है। हमने ध्यान क्या, क्यों और कैसे इस विषय पर संक्षिप्त लेकिन सटीक टिप्पणी की है।
यदि आप ध्यान के संबंध में जानना चाहते हैं, उत्सुक हैं, जिज्ञासु हैं या मुमुक्षु तो आप सही जगह पर हैं। हमने यहां पर आपके लिए ध्यान संबंधी महत्वपूर्ण सवालों की लिंक को एकत्रित किया है। 
 
 
 
 
 
 
वेद, उपनिषद और गीता अनुसार ध्यान ही सत्य है। ध्यान से सत्य पाया जा सकता है। ध्यान से ईश्‍वर पाया जा सकता है या ध्यान ही से खुद को पाया जा सकता है। मन और बुद्धि का आकाश के समान खाली और शांत हो जाना ध्यान की शुरुआत है। इस शुरुआत के लिए ही आसन, या क्रियाएं कराई जाती है ताकि तन, मन और बुद्धि की तंद्रा भंग हो जाए। आपको उपरोक्त आलेख कैसे लगे, हमें यह जरूर लिखें।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :