छ: हजार करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति मिली

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 फ़रवरी 2017 (19:10 IST)
नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद नौ नवंबर 2016 से 10 जनवरी 2017 की अवधि में की कार्रवाई में छह हजार करोड़ रुपए से अधिक की अघोषित आय का पता चला है तथा 513 करोड़ रुपए की नकदी बरामद हुई है। 
वित्त राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि नोटबंदी का निर्णय लागू होने के बाद नौ नवंबर 2016 से दस जनवरी के बीच आयकर विभाग द्वारा 1100 से ज्यादा छापे मारे गए तथा 5100 से ज्यादा नोटिस जारी किए गए हैं। इस कार्रवाई में 610 करोड़ रुपए  मूल्य की संपत्ति बरामद हुई है, जिसमें 513 करोड़ रुपए नकद शामिल है। एक सौ दस करोड़ रुपए के नए नोट जारी हुए हैं। इसके अलावा जांच में 5400 करोड़ रुपए की संपत्ति की पता चला है। 
 
एक अन्य प्रश्न के उत्तर में मेघवाल ने बताया कि सरकार ने दिसंबर अंत तक जनता के लिए 22.6 अरब नए नोट वितरित किए हैं, जिनमें 20.4 अरब नोट दस, बीस, पचास और सौ के थे जबकि 2.2 अरब नोट 500 और 2000 रुपए के थे। 
 
उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि सरकार और रिजर्व बैंक को कहीं से भी दो हजार के नकली नोट मिलने की कोई शिकायत या सूचना नहीं मिली है। पुराने नोटों के बारे में उन्होंने ने बताया कि नोटबंदी का निर्णय लागू होने के बाद 500 और एक हजार के पुराने कुल 66 हजार 395 नकली नोट मिले हैं, जिनमें 500 के 30 हजार 912 तथा एक हजार के 35 हजार 483 नोट शामिल है। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :