बड़ा झटका! चार कैश लेन-देन फ्री, पांचवें पर लगेंगे 150 रुपए...

पुनः संशोधित बुधवार, 1 मार्च 2017 (19:24 IST)
बैंकों से कैश लेन-देन करते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि अब बैंकें निर्धारित ट्रांजेक्शन की संख्‍या के बाद आपसे बड़ी रकम वसूलेंगे। एचडीएफसी बैंक ने 1 मार्च से जमा और निकासी पर यह शुल्क लागू भी कर दिया है।
निजी क्षेत्र के बैंक बैंक एचडीएफसी के नए नियम के मुताबिक कोई भी ग्राहक अब एक महीने में चार बार कैश निकालने और कैश जमा करने के ट्रांजैक्शन मुफ्त में कर सकेगा, लेकिन पांचवें और उसके बाद के सभी ट्रांजैक्शन पर बैंक 150 रुपए प्रति ट्रांजेक्शन चार्ज वसूलेगी। इस 150 रुपए के शुल्क पर ग्राहक को अलग से टैक्स और सेस भी अदा करना होगा। 
 
एचडीएफसी के मुताबिक सीनियर सिटीजन और नाबालिग खाताधारकों के लिए प्रतिदिन निकासी सीमा 25 हजार रुपए रहेगी। इन खाताधारकों पर कोई चार्ज अथवा टैक्स नहीं लगेगा। इसके साथ ही नोटबंदी के बाद बैंक द्वारा लगाया गया कैश हैंडलिंग चार्ज भी तत्काल प्रभाव से हटा लिया है। 
 
दूसरी ओर देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने भी नए नियमों की घोषणा कर दी है। एसबीआई के नए नियम 1 अप्रैल से प्रभावी होंगे। नए नियम के मुताबिक एसबीआई 3 ट्रांजेक्शन के बाद प्रति ट्रांजेक्शन 50 रुपए वसूल करेगी। 
 
इसके अलावा ने अपने ग्राहकों को एक महीने में 5 कैश ट्रांजेक्शन फ्री दिए हैं। बैंक के नियमों के मुताबिक उसके ग्राहक 5 फ्री ट्रांजेक्शन के साथ एक महीने में 10 लाख रुपए तक की निकासी बिना किसी भुगतान के कर सकते हैं। इसके अधिक कैश ट्रांजेक्शन पर बैंक शुल्क वसूलेगी। हालांकि शुल्क वसूली के पीछे तर्क दिया जा रहा है कि इससे कैशलेस को बढ़ावा मिलेगा। 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :