भारत-न्यूजीलैंड मैच: इन 2 मैचों में हैं 5 समानताएं, पढ़ेंगे तो दबा लेंगे दांतो तले उंगलियां

विश्व कप में बुधवार को के हाथों 18 रन से हार कर घर वापस लौटने की तैयारी कर चुका है।यह पहली बार नहीं है जब न्यूजीलैंड ने विश्वकप में भारत के सफर का अंत किया हो। अगर इतिहास के पन्ने को पलटा जाए तो इंग्लैंड में खेले गए 1999 विश्वकप के सुपर सिक्स मैच में न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को हरा कर उनके विश्वकप के सफर का अंत कर दिया था।
इतिहास कल फिर दोहराया गया लेकिन 20 साल पहले खेले गए  भारत बनाम न्यूजीलैंड विश्वकप मैच में थी ऐसी समानताएं जिसे देख आप दांतो तले उंगलियां दबा लेंगे।
 
समानताएं 
 
  • विश्वकप 99 में सुपर सिक्स का मैच जीतना भारत के लिए बेहद जरूरी था। यह मैच हार कर भारत टूर्नामेंट से बाहर हो गया। कल भी यही हुआ। 
 
  •  विश्वकप 99 में भारत के प्रमुख तीन बल्लेबाज ( सचिन, सौरव , द्रविड़) कुछ खास न कर सके और जल्द आउट हो गए। कल के सेमीफाइनल में भी राहुल, रोहित और विराट जल्द आउट हो गए। 
 
  •  विश्वकप 99 में भारत की ओर से टॉप स्कोरर रहे एक बल्लेबाज जिसका सरनेम जडेजा था। इस मैच में अजय जडेजा ने 6 चौके और 2 छक्के की मदद से 76 रन बनाए। कल के सेमीफाइनल में रविंद्र जडेजा ने 77 रन बनाए जिसमें 3 चौके और 3 छक्के शामिल थे
 
  • विश्वकप 99 में जब भारत और न्यूजीलैंड टीम आमने सामने हुई तो दोनों ही टीम में एक खिलाड़ी रन आउट हुआ। भारत की ओर से रॉबिन सिंह और न्यूजीलैंड की ओर से मैट होर्न। कल के सेमीफाइनल में भी ऐसा ही हुआ। पहली पारी में न्यूजीलैंड के रॉस टेलर रन आउट हुए और भारत की ओर से महेंद्र सिंह धोनी रन आउट हुए।
 
  • विश्वकप 99 और 2019 के इन दोनों ही मैचों में न ही भारत और न ही न्यूजीलैंड का कोई भी बल्लेबाज शतक बना पाया।
 
 
बस 99 के मैच से एक ही भिन्नता रही। न्यूजीलैंड 99 में 5 विकेट से जीता था और कल 18 रनों से। 

 

और भी पढ़ें :