सांता क्लॉज देते हैं हर पत्र का जवाब, पढ़ें रोचक जानकारी

दुनिया में आम लोगों का प्यार सबसे अधिक को मिलता है। नेक और दयालु सांता के प्रति बच्चों के लगाव में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसका सबूत है सांता को हर साल मिलने वाले साठ लाख से भी अधिक पत्र। ये अधिकतर छोटे बच्चों द्वारा लिखे होते हैं। इतनी बड़ी मात्रा में आने वाले पत्रों के लिए अलग से डाक कर्मचारियों की नियुक्ति करनी होती है। 
कम से कम 20 देश ऐसे हैं जहां  दिसंबर के महीने में खासतौर से नए कर्मचारी बहाल किए जाते हैं। यूरोपीय देशों में ये पत्र फादर सिमस या सेंट निकोलस तथा रूस में डेड मोरोज के नाम से पहचाने जाने वाले सांता को संबोधित होते हैं। सांता के पते के तौर पर कई बार विस्तृत जानकारी दी होती है, तो कई बार केवल 'टू सांता, नॉर्थ पोल' लिखा होता है। 
 
पत्रों में पते के तौर पर कई बार केवल सांता की छोटी-सी ड्रॉइंग बना दी जाती है। कनाडा का पोस्ट ऑफिस विभाग 26 भाषाओं में इन खतों का जबाव देता है। इसी तरह जर्मनी के पोस्ट ऑफिस विभाग द्वारा 16 भाषाओं में इन खतों का जबाव दिया जाता है। 
 
सबसे अधिक पत्र पाने वाले देशों में कनाडा, फ्रांस और जर्मनी का नाम आता है। कनाडा और फ्रांस में दस लाख से अधिक बच्चे सांता को पत्र लिखते हैं। कनाडा में तो पोस्ट ऑफिस विभाग ने सांता को भेजे जाने वाले पत्रों के लिए एक अलग से पिन कोड भी बनाया है। फ्रांस में पत्रों का जबाव देने के लिए 60 सांता सेक्रेटरी नियुक्त किए जाते हैं। सांता को जितने भी पत्र लिखे जाते हैं उनमें से 90 फीसदी पत्र भेजे जाते हैं। ईमेल की तुलना में हाथ से लिखे पत्रों की संख्या काफी अधिक होती है। 
 
ईमेल के द्वारा भी सांता को कई पत्र लिखे जाते हैं। emailsanta.com साइट पर जाकर आप भी चाहें तो पत्र लिख सकते हैं। यह वेबसाइट सांता को लिखे गए पत्रों पर तुरंत जवाब देती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :