सांता क्लॉज देते हैं हर पत्र का जवाब, पढ़ें रोचक जानकारी

दुनिया में आम लोगों का प्यार सबसे अधिक को मिलता है। नेक और दयालु सांता के प्रति बच्चों के लगाव में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसका सबूत है सांता को हर साल मिलने वाले साठ लाख से भी अधिक पत्र। ये अधिकतर छोटे बच्चों द्वारा लिखे होते हैं। इतनी बड़ी मात्रा में आने वाले पत्रों के लिए अलग से डाक कर्मचारियों की नियुक्ति करनी होती है। 
कम से कम 20 देश ऐसे हैं जहां  दिसंबर के महीने में खासतौर से नए कर्मचारी बहाल किए जाते हैं। यूरोपीय देशों में ये पत्र फादर सिमस या सेंट निकोलस तथा रूस में डेड मोरोज के नाम से पहचाने जाने वाले सांता को संबोधित होते हैं। सांता के पते के तौर पर कई बार विस्तृत जानकारी दी होती है, तो कई बार केवल 'टू सांता, नॉर्थ पोल' लिखा होता है। 
 
पत्रों में पते के तौर पर कई बार केवल सांता की छोटी-सी ड्रॉइंग बना दी जाती है। कनाडा का पोस्ट ऑफिस विभाग 26 भाषाओं में इन खतों का जबाव देता है। इसी तरह जर्मनी के पोस्ट ऑफिस विभाग द्वारा 16 भाषाओं में इन खतों का जबाव दिया जाता है। 
 
सबसे अधिक पत्र पाने वाले देशों में कनाडा, फ्रांस और जर्मनी का नाम आता है। कनाडा और फ्रांस में दस लाख से अधिक बच्चे सांता को पत्र लिखते हैं। कनाडा में तो पोस्ट ऑफिस विभाग ने सांता को भेजे जाने वाले पत्रों के लिए एक अलग से पिन कोड भी बनाया है। फ्रांस में पत्रों का जबाव देने के लिए 60 सांता सेक्रेटरी नियुक्त किए जाते हैं। सांता को जितने भी पत्र लिखे जाते हैं उनमें से 90 फीसदी पत्र भेजे जाते हैं। ईमेल की तुलना में हाथ से लिखे पत्रों की संख्या काफी अधिक होती है। 
 
ईमेल के द्वारा भी सांता को कई पत्र लिखे जाते हैं। emailsanta.com साइट पर जाकर आप भी चाहें तो पत्र लिख सकते हैं। यह वेबसाइट सांता को लिखे गए पत्रों पर तुरंत जवाब देती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

मां पार्वती का पावन चालीसा...

मां पार्वती का पावन चालीसा...
पढ़ें आदिशक्ति मां पार्वतीजी की प्रिय चालीसा। हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार दुर्गा, ...

कृष्ण, द्रौपदी और कर्ण के शरीर में थी ये समानता, जानिए ...

कृष्ण, द्रौपदी और कर्ण के शरीर में थी ये समानता, जानिए तीनों के बीच का रहस्य
महाभारत में कुं‍ती पुत्र युधिष्ठिर, अर्जुन और भीम एवं माद्री पुत्र नकुल और सहदेव की पत्नी ...

श्रावण मास में जपें 3 कृष्ण मंत्र और 3 शिव मंत्र, हर तरह के ...

श्रावण मास में जपें 3 कृष्ण मंत्र और 3 शिव मंत्र, हर तरह के संकट का होगा अंत
आप श्रावण माह में निम्न मंत्र की श्रावण शुक्ल पक्ष अष्टमी से श्रावण की पूर्णिमा तक 1 माला ...

एकलव्य का पुत्र लड़ा था महाभारत में और इनके हाथों मारा गया

एकलव्य का पुत्र लड़ा था महाभारत में और इनके हाथों मारा गया
एकलव्य को कुछ लोग शिकारी का पुत्र कहते हैं और कुछ लोग भील का पुत्र। कुछ लोग यह कहकर ...

कालसर्प योग से पीड़ित हैं तो नागपंचमी के दिन करें श्री ...

कालसर्प योग से पीड़ित हैं तो नागपंचमी के दिन करें श्री सर्पसूक्त का पाठ, मिलेगी परेशानियों से मुक्ति...
जिस जातक की कुंडली में कालसर्प योग, पितृ दोष होता है उसका जीवन अत्यंत कष्टदायी होता है। ...

जानिए कैसा है सूर्य का स्वभाव, क्या पड़ता है आप पर इसका ...

जानिए कैसा है सूर्य का स्वभाव, क्या पड़ता है आप पर इसका प्रभाव
ज्योतिष में जन्मपत्रिका, बारह राशियों एवं नौ ग्रहों का विशेष महत्व है. .. ये नौ ग्रह ...

कैसे चल रहे हैं प्रधानमंत्री के सितारे, जानिए मोदी के लिए ...

कैसे चल रहे हैं प्रधानमंत्री के सितारे, जानिए मोदी के लिए कैसा होगा आने वाला समय ?
जन्मपत्रिका के माध्यम से किसी भी जातक का अतीत, वर्तमान और भविष्य बताया जा सकता है, फिर ...

नागपंचमी पर ऐसे करें नागपूजन और विसर्जन, पढ़ें विशेष ...

नागपंचमी पर ऐसे करें नागपूजन और विसर्जन, पढ़ें विशेष प्रार्थना और मंत्र...
नागपंचमी के दिन प्रात:काल स्नान करने के उपरान्त शुद्ध होकर यथाशक्ति (स्वर्ण, रजत, ताम्र) ...

17 अगस्त को हो रहा है सूर्य का राशि परिवर्तन, जानिए किन ...

17 अगस्त को हो रहा है सूर्य का राशि परिवर्तन, जानिए किन राशि‍यों की बदलने वाली है किस्मत ...
सूर्यदेव नवग्रहों के राजा हैं। सिंह राशि के स्वामी हैं। अग्नितत्व प्रधान ग्रह हैं। कुंडली ...

15 अगस्त पर लाल किले की प्राचीर से हो सकती है ये घोषणाएं, ...

15 अगस्त पर लाल किले की प्राचीर से हो सकती है ये घोषणाएं, जानें क्या कहता है ज्योतिष
देश के लिए 15 अगस्त, बुधवार के दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लाल किले की प्राचीर से कई ...

राशिफल