ईसाई धर्म में संत बनने की प्रक्रिया हुई आसान

बुधवार,जुलाई 12, 2017
दुनियाभर में ईसाई समुदाय के लोग प्रभु यीशु के जी उठने की याद में ईस्टर संडे मनाते हैं। यरुशलम के एक पहाड़ के ऊपर बिना ...
पौराणिक ईसाई धार्मिक ग्रंथों के अनुसार मृत्यु के तीन दिनों बाद प्रभु यीशु पुनर्जीवित हो गए थे। ईसा मसीह के जी उठने की ...
प्रतिवर्ष ईसाई समुदाय प्रभु ईसा मसीह की बलिदान की वर्षगांठ को गुड फ्राइडे के रूप में मनाता है। इससे पहले 40 दिनों में ...
'यह मेरा प्रिय पुत्र है, इससे मैं प्रसन्न हूं, इसकी सुनो।' (मत्ती 17:5) मरिया, योसेफ की धर्म पत्नी थी, जो बढ़ई का काम ...
Widgets Magazine
पिता परमेश्वर ने अपने पुत्र यीशु मसीह को जिस कार्य को करने पृथ्वी पर भेजा था, उसे उन्होंने पूर्ण किया। शैतान भी उन्हें ...
क्रिसमस 25 दिसंबर को ईसा मसीह के जन्मदिन के उपलक्ष में मनाया जाता है। यह ईसाइयों का महत्वपूर्ण त्योहार है। ईसा मसीह का ...
क्रिसमस और ईस्टर ईसाई धर्म के मुख्यतः दो पर्व हैं। दोनों में सबसे महत्वपूर्ण है ईस्टर। ईस्टर अर्थात् ख्रीस्त का जी ...
धर्म विशेषज्ञों से प्राप्त जानकारी के अनुसार पुराने समय में किश्चियन चर्च ईस्टर रविवार को ही पवित्र दिन के रूप में ...
Widgets Magazine
ईस्टर संडे, ईसाई समुदाय का धार्मिक पर्व है। ईस्टर संडे के दिन ईसाई समुदाय के लोग गिरजाघरों में इकट्ठा होकर जीवित प्रभु ...
पापों में डूबी मानव जाति की मुक्ति के लिए अपने महान त्याग के लिए प्रभु ईसा मसीह ने भी शुक्रवार का ही चयन किया। यह ...
गुड फ्रायडे, ईसाई समाज में यह एक महत्वपूर्ण दिन माना जाता है। गुड फ्रायडे का अर्थ है शुभ शुक्रवार। दुनिया में लोगों के ...
गुड फ्राइडे एकमात्र ऐसा दिन है जिसका निर्धारण यहूदी करते हैं। यहूदी फरवरी माह में चांद देखकर इस दिन का निर्धारण करते ...
प्रभु के जीवन का गहनतम अध्ययन करने वालों तथा बाइबल की शिक्षाओं के जानकारों के अनुसार सृष्टि की उत्पत्ति से लेकर प्रभु ...
ईसा ने पांच आदेश दिए। उन्होंने कहा किसी की हत्या मत करो और जो आदमी हत्या करता है, वह गुनहगार है। पर मैं तुमसे कहता हूं ...
क्रिसमस के त्योहार में क्रिसमस क्रिब यानी गौशाला का काफी महत्व रहता है। गौशाला यानी क्रिब जहां प्रभु यीशु का जन्म हुआ ...
लंदन। ईसा मसीह के बारे में एक और नया खुलासा हुआ है। अब यह दवा किया जा रहा है कि बाइबिल में ईसा मसीह के हुलिए का जैसा ...
मरिया और योसेफ अपना नाम लिखवाने बेथलेहेम गए और कहीं भी जगह न मिलने पर वे एक एकांत गुफा में आए, जो शहर से बाहर थी और वह ...
जब एक बढ़ई मेज बनाने की इच्छा करता है तो उसे पूर्व विद्यमान वस्तुओं जैसे लकड़ी, कीलें, आरी, हथौड़ी आदि की आवश्यकता पड़ती ...
इसराइली लोग मिस्र देश से निकलने के पश्चात बहुत दिनों तक यात्रा करते रहे। जब वे सिनाई नामक पर्वत (अरब) के पास पहुंचे, तब ...