एडवरटाइजिंग की दुनिया में कैरियर

वेबदुनिया डेस्क

WD|
FILE
एक ऐसा साधन है, जिसके द्वारा किसी उत्पाद की जानकारी देने के साथ-साथ उसका प्रचार भी किया जाता है। एड के जरिए लोगों को न केवल उत्पाद की विशेषता बताई जाती है, बल्कि इसके संदेश में इसके इस्तेमाल की जरूरत भी बताई जाती है।

एड की पहली जरूरत है कि उत्पाद विशेष के लिए उसके संभावित खरीदार को पर्याप्त जानकारी हो, साथ ही एड से उसका माइंड सेट भी तैयार हो सके। एडवरटाइजिंग के लिए मुख्यत: मीडिया का उपयोग किया जाता है। टीवी चैनल, समाचार पत्र, इंटरनेट, मैग्जीन, रेडियो, होर्डिंग्स, बिल बोर्ड एडरवरटाइजिंग करने के मुख्य माध्यम हैं।

एडवरटाइजमेंट एक ऐसा साधन है, जिसके द्वारा किसी उत्पाद की जानकारी देने के साथ-साथ उसका प्रचार भी किया जाता है। एड के जरिए लोगों को न केवल उत्पाद की विशेषता बताई जाती है, बल्कि इसके संदेश में इसके इस्तेमाल की जरूरत भी बताई जाती है।
अगर आप क्रिएटिव हैं और अपनी कल्पना को कलम के जरिए कागज पर उतार सकते हैं तो यह ‍फील्ड आपके लिए ही है। एडवरटाइजिंग से ब्रांड इमेज बनाई जाती है। इसमें कम्युनिकेशन का ही अहम रोल है। आप किसी उत्पाद के बारे में किस अंदाज में लोगों को बताते हैं, यह महत्वपूर्ण है।

एडवरटाइजमेंट में ग्लैमर है, लेकिन साथ ही इसमें कदम-कदम पर चुनौतियां हैं। दिन-ब-दिन नई एड एजेंसियां खुल रही हैं, सभी के पास अपने आइडिया हैं, इसलिए इस फील्ड में कॉम्पिटीशन तगड़ा है। यहां हर दिन आपको अपनी काबिलियत साबित करनी होती है।
योग्यता- अधिकतर एड एजेंसी औपचारिक डिग्री या मास कम्युनिकेशन के डिग्रीधारकों को मौका देती हैं। इसके अलावा आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स मजबूत होनी चाहिए। आपको अपनी क्रिएटिविटी अलग-अलग तरीके से इस्तेमाल करने की कला भी आनी चाहिए। डिग्री से ज्यादा आपकी क्रिएटिव राइटिंग जरूरी है।
कोर्स- लगभग प्रत्येक यूनिवर्सिटी में मास कम्युनिकेशन और एडवरटाइजिंग कोर्स उपलब्ध हैं।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :