पाकिस्तान में निकला शशि कपूर की याद में कैंडल मार्च

का 4 दिसंबर की शाम को मुंबई में हो गया था। 79 वर्षीय एक्टर की मृत्यु की खबर के बाद पूरा बॉलीवुड सकते में आ गया था। ऐसे में इंडस्ट्री के अलावा तमाम बड़े नेताओं ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी। में भी शशि कपूर को श्रद्धांजलि दी गई।

शशि कपूर का परिवार पाकिस्तान के का ही रहने वाला है। पेशावर के ओल्ड सिटी में किस्सर खवानी बाजार में उनके परिवार का घर है, जो 1918 में बना था। इसे उनके दादा ने बनवाया था। इसी मकान के बाहर शशि कपूर की याद में किया गया और फैंस ने मोमबत्तियां जलाकार उन्हें याद किया।


शशि कपूर, शम्मी कपूर और राज कपूर के पिता पृथ्वी राज कपूर पेशावर से फिल्मों में काम करने मुंबई आ गए। 1942 में उन्होंने यह मकान बेच दिया था और फिर सभी मुंबई शिफ्ट हो गए थे। शशि कपूर को 2011 में भारत सरकार ने पद्म भूषण पुरस्कार और 2015 में 2014 के दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया था।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :