सिने-मेल (14 जुलाई 2008)

Cine-Mail
WD
प्रिय पाठको,
वेबदुनिया के बॉलीवुड के सेक्शन में नित नई, मनोरंजक, आकर्षक, दिलचस्प और चटपटी सचित्र जानकारियाँ देने की हमारी कोशिश रहती है। इन्हें पढ़कर आपको कैसा लगता है, हम जानना चाहते हैं।

आपकी बॉलीवुड संबंधी प्रतिक्रिया और सुझाव हम ‘सिने-मेल’ में प्रकाशित करेंगे। हमें इंतजार है आपके ई-मेल का

सास-बहू के धारावाहिक से अब ऊब होने लगी है। ऐसे धारावाहिक शुरू किए जाने चाहिए, जिनमें सास-बहू नहीं हो।
- प्रेरणा (prernamishra18@gmail.com)

‘मेरे बाप पहले आप’ मुझे बहुत अच्छी लगी। फिल्म की कहानी अच्छी है। ऐसी संतान होनी चाहिए जो बड़े होकर अपने माता-पिता का खयाल रखें।
- कृष्ण कुमार अग्रवाल (vinay_sha2004@yahoo.co.in)
- निर्मल जैन (nirmaljn6@rediffmail.com)
- संजय (sanjay607@rediffmail.com)

नायिकाओं के कम कपड़ों में फोटो देखकर मुझे अच्छा नहीं लगता। इस तरह के चित्र देखकर लोगों के मन में गलत खयालात आते हैं। नायिकाओं को ऐसे कपड़े नहीं पहनना चाहिए।
- सुनील बामनिया (bamniyas@yahoo.com)

‘के’ के तिलिस्म से बाहर नहीं निकल पाईं एकता’ आलेख मुझे बहुत अच्छा लगा।
- अंजलि (jaggianjali@yahoo.com)

गीत गंगा ‘अजीब दास्ताँ है ये, कहाँ शुरू कहाँ खतम...’ पढ़ा। दिल अपना औऱ प्रीत पराई का यह गीत अपनी धुन के साथ लता की अवसादभरी आवाज के लिए जाना जाता है। मुझे लगता है इसमें एक खुशी के मौके पर यह गीत किसी न सहे जा सकने वाले दुःख को पानी, रात, रोशनी से रचे गए वातावरण के बीच ज्यादा असरदार तरीके से व्यक्त होता है। यह गीत मुझे ठीक उसी तरह से लगता है जैसे देह की मिट्टी पर आंसू गिरते हैं औऱ आत्मा से धुआँ उठने लगता है।
- रवीन्द्र व्यास (ravindra.vyas@webdunia.net)

‘शाहिद-विद्या की किस्मत कनेक्शन’ आलेख अच्छा था, किंतु इस पर हम विश्वास कैसे करें?
- संजय धीमान (snj_marshal@rediffmail.com)

‘मर्लिन मुनरो की कहानी, उसी की जुबानी’ पढ़ा। मुनरो एक बहुत ही प्यारी और मेहनती इंसान थीं। वे हमेशा विवादों से घिरी रही और उनका व्यक्तित्व हमेशा रहस्यमय बना रहा।
- आर.एच. खान (rhkhan@webdunia.com)

अभिषेक और ऐश्वर्या ने दुबई में पता नहीं इतना महँगा घर क्यों खरीदा? इससे अच्छा तो अच्छा होता कि वे गरीबों को कपड़े और भोजन दे देते।
- हिमांशु अग्रवाल - मथुरा (himanshu-montu@rediffmail.com)

कैटरीना को सबसे सेक्सी महिला चुने जाने पर बधाई। कैटरीना जैसा खूबसूरत शायद दुनिया में और कोई नहीं है।
- प्रदीप शर्मा - गुड़गाँव (pradeep.sharma1988@gmail.com)

‘जन्नत’ फिल्म की नायिका सोनल चौहान बहुत अच्छी हैं।
- गजराज सिंह भाटी (anshu.chudhary@rediffmail.com)

अमिताभ बच्चन को 1500 करोड़ रुपए मिल रहे हैं। उन्हें एक गाँव गोद ले लेना चाहिए ताकि उनका नाम हमेशा याद किया जाए।
- अखिलेश (www.iakhileshji@yahoo.com)

अजय देवगन मेरे पसंदीदा नायक हैं। मैं उनकी आने वाली फिल्मों के बारे में जानना चाहता हूँ।
- योगेश देशमुख (devendra.749@rediffmail.com)

‘पृथ्वीराज चौहान’ धारावाहिक को सप्ताह में सातों दिन दिखाया जाना चाहिए। यह धारावाहिक पूरे परिवार के साथ देखे जाने योग्य है। इससे हमें भारत के बहादुर और साहसी योद्धा के बारे में जानकारी मिलती है।
समय ताम्रकर|
- सविता संभरवाल (savita_smctelelink@yahoo.com)

सम्बंधित जानकारी

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :