कैसे होते हैं मिथुन राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...

mithun-rashi-440
 
हम वेबदुनिया के पाठकों के लिए क्रमश: समस्त 12 राशियों व उन राशियों में जन्मे जातकों के व्यक्तित्व के गुण-दोष की जानकारी प्रदान कर रहे हैं। इसी क्रम में प्रस्तुत है राशि में जन्मे जातकों का व्यक्तित्व-
 
राशि-मिथुन
स्वामी ग्रह-बुध
गुणधर्म-द्विस्वभाव
तत्व-आकाश
उदय-शीर्षोदय
दिशा-पश्चिम
स्वरूप- जुड़वां बच्चे 
मिथुन राशि वाले जातक-
 
जिन जातकों के जन्म के समय चन्द्र मिथुन राशि में स्थित होता है उनकी राशि मिथुन होती है। मिथुन राशि वाले जातक कद में लम्बे व संतुलित शरीर वाले होते हैं। मिथुन राशि वाले जातकों का रंग गेहुंआ होता है। मिथुन वायु तत्व प्रधान राशि है इसी गुणधर्म के अनुसार मिथुन राशि वाले जातक व मनमौजी किस्म के होते हैं। 
परिवर्तनशीलता उनके जीवन का अंग होती है। वे अपनी आजीविका व दिनचर्या में परिवर्तन करते रहते हैं। मिथुन राशि वाले जातक पढ़ने-लिखने के शौकीन होते हैं। मिथुन एक द्विस्वभाव राशि है अत: इस राशि वाले जातक निर्णय में लेने कठिनाई महसूस करते हैं। मिथुन राशि वाले जातक अधिकतर असमंजस वाली स्थिति में होते हैं। वे अपने निर्णय बार-बार बदलते रहते हैं। 
 
मिथुन राशि वाले जातकों का दाम्पत्य जीवन सामान्य होता है। अपनी "पल में तोला...पल में मासा" वाली प्रवृत्ति के कारण अक्सर उनके जीवनसाथी के साथ उनके मतभेद रहते हैं। इस राशि के जातकों में विचारों की अधिकता पाई जाती है। समझदार होते हैं। उनमें अनुसंधान करने की पर्याप्त क्षमता होती है। 
 
मिथुन राशि वाले जातक अनुसंधानकर्ता,जासूस,सम्पादक,लेखक,लेखापरीक्षक,वकालत आदि क्षेत्रों में अधिक सफ़ल होते हैं।
 
-ज्योतिर्विद् पं. हेमन्त रिछारिया
प्रारब्ध परामर्श केन्द्र
सम्पर्क: [email protected]  



और भी पढ़ें :