बृहस्पति ग्रह : 20 अत्यंत दुर्लभ और अनूठी जानकारियां


सूर्य से 5वां और हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है। इसे गैस का दानव भी कहते हैं। पीले रंग के इस ग्रह को अंग्रेजी में भी कहते हैं। बृहस्पति ग्रह अनेक नकारात्मक परिस्थिति को सकारात्मक बना देता है। जैसे शादी नहीं हो रही हो, नौकरी व्यवसाय में सफलता नहीं मिल रही हो, मुकदमे में विजय नहीं मिल रही हो। कोई बीमारी ठीक नहीं हो रही हो, घर ,प्रॉपर्टी,गाड़ी इत्यादि-इत्यादि काम में सफलता नहीं मिल रही हो,तलाक की स्थिति बन रही हो। यदि इन पर की दृष्टि हो जाए तो आपका काम तुरंत होता है। पढ़ें 20 महत्वपूर्ण जानकारियां....

1. बृहस्पति ग्रह 90% हाइड्रोजन, 10% हीलियम और कुछ मात्रा में मिथेन, पानी, अमोनिया और चट्टानी कणों से मिलकर बना हुआ है।

2. बृहस्पति ग्रह को सौरमंडल का ‘वैक्युम क्लीनर’ भी कहा जाता हैं यह पृथ्वी को विनाशकारी हमलों से बचाता हैं।

3. बृहस्पति बहुत ही ठंडा ग्रह हैं। इसका औसत तामपान -145°C है।

4. बृहस्पति ग्रह की कोई जमीन नहीं हैं यह पूरी तरह गैस के बादलों से बना हुआ ग्रह हैं।

5. बृहस्पति ग्रह पर आज तक 7 यान भेजे जा चुके हैं।

6. बृहस्पति ग्रह सबसे पुराने ग्रहों में से एक है। बृहस्पति के जरिये पृथ्वी की उत्पति के बारे में पता लगाया जा सकता है।

7. बृहस्पति का मैग्नेटिक फील्ड बहुत मजबूत होता है। यदि हम बृहस्पति के सतह पर खड़े हो जाए तो हमारा वजन अपने असली वजन से 3 गुना ज्यादा होगा।

8. बृहस्पति ग्रह पृथ्वी से 11 गुना भारी और इसका द्रव्यमान 317 गुना ज्यादा है।

9. बृहस्पति ग्रह का चंद्रमा, गैनीमेडे, हमारे पूरे सौर मंडल का सबसे बड़ा चंद्रमा है।

10. बृहस्पति के कम से कम 64 चन्द्रमा हैं इसके सबसे बड़े चंद्रमा गैनीमेडे पर एक भूमिगत समंदर हैं जिसमें पूरी पृथ्वी से ज्यादा पानी है।

11. 7वीं या 8वीं शताब्दी की प्रजाति ने सबसे पहले इस ग्रह को देखा था। इसका नाम रोमन देवताओं के राजा के नाम पर रखा गया है।

12. बृहस्पति हमारी आकाश गंगा का सबसे बड़ा ग्रह है, यह इतना बड़ा है कि यदि शेष सभी ग्रह को आपस में जोड़ दिया जाए तो वह संयुक्त ग्रह भी बृहस्पति से छोटा ही रहेगा।

13. अगर धरती का आकार एक मटर जितना कर दें तो बृहस्पति इससे 300 मीटर दूर होगा।

14. बृहस्पति ग्रह पर एक विशाल गड्ढा है जिसमें से आग की लपटे निकलती रहती है जिसमें यह विशाल लाल धब्बे जैसा दिखाई देता है।

15. बृहस्पति पर पाए जाने वाला लाल धब्बा दरअसल एक बड़ा तूफान है जो कम से कम 350 सालों से उफान पर हैं। ये तूफान इतना ज्‍यादा बड़ा है कि इसमें तीन पृथ्‍वी समा सकती हैं।

16. सोलर सिस्‍टम का चौथा सबसे ज्‍यादा चमकने वाला ग्रह है। इसके अलावा जो अन्‍य ग्रह चमकते हैं वह सूर्य, चंद्र और शुक्र।

17. बृहस्पति पर सभी ग्रहों के मुकाबले सबसे छोटा दिन होता है। ये अपनी धुरी पर हर 9 घंटे 55 मिनट में घूमता है। जल्‍दी-जल्‍दी घूमने के चक्‍कर में ये थोड़ा चपटा नजर आता है।

18. बृहस्पति ग्रह को देखने के लिए किसी यंत्र की जरूरत नही होती। इसे खुली आंखो से देखा जा सकता है।

19- बृहस्पति गृह को कुंडली में अनुकूल करने का सटीक तरीका यह है :


यदि आपकी कुंडली में बृहस्पति प्रतिकूल प्रभाव दे रहे हैं तो आप को तुलसी की माला से निम्न मंत्र का जाप कुल 88000 जाप बृहस्पति के नक्षत्र में किसी सक्षम ब्राह्मण से करा कर अग्निवास में हवन कराएं। लाभप्रद सिद्ध होगा। मंत्र निम्नवत है -


ॐ ऐ क्लीं बृहस्पतये नमः
या
ॐ क्रीं कृष्णाय नमः






20- बृहस्पति को अनुकूल बनाने का दूसरा आसान तरीका है बृहस्पति के नक्षत्र में 'विष्णु सहस्त्रनाम' के 108 पाठ कराएं।




वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :