18 अप्रैल को सर्वार्थसिद्धि योग में मनेगी अक्षय तृतीया, ये हैं शुभ मुहूर्त...

akshya tritya-Poster-630
 
 
वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया या आखातीज कहते हैं। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार 'अक्षय' का अर्थ होता है- जिसका कि क्षय नहीं हो अर्थात जिसका फल नष्ट न हो। अक्षय तृतीया पर किए जाने वाले कार्य व दान-पुण्य व्यर्थ नहीं जाते। अत: हमें किसी भी शुभ काम के लिए यही दिन चुनना चाहिए। यह अति शुभ दिन सभी कार्यों का शुभ फल देता है।
 
वर्ष 2018 में यह तिथि 18 अप्रैल, बुधवार को पड़ रही है। मान्‍यता है कि इस दिन विवाह करने वालों का सौभाग्य अखंड बना रहता है। अक्षय तृतीया के दिन मांगलिक कार्य, विवाह, गृह निर्माण, गृह प्रवेश, देव प्रतिष्ठा, व्यापार आरंभ, मुंडन संस्कार आदि का है। इसके अलावा व्यापार के लिए भी यह दिन विशेष रहेगा।
 
इस बार लगभग अक्षय तृतीया पर 24 घंटे का का बन रहा है अत: मांगलिक कार्यों के लिए यह समय बहुत खास रहेगा। 18 अप्रैल को तृतीया तिथि 4.47 बजे से शुरू होकर रात 3.03 बजे तक रहेगी। इसमें दिनभर खरीदारी अथवा कोई भी शुभ कार्य संपन्न किया जा सकता है। सर्वार्थसिद्धि योग के महासंयोग में आने वाली अक्षय तृतीया अपार सुख-समृद्धि देने वाली होगी। >
 
>

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान
हमारे शास्त्रों में ऐसे अनेक अनुष्ठानों का उल्लेख मिलता है जिन्हें उचित विधि व निर्धारित ...

क्या मोबाइल का नंबर बदल कर चमका सकते हैं किस्मत के तारे...

क्या मोबाइल का नंबर बदल कर चमका सकते हैं किस्मत के तारे...
अंकशास्त्र के अनुसार अगर मोबाइल नंबर में सबसे अधिक बार अंक 8 का होना शुभ नहीं होता है। ...

याद रखें यह 5 वास्तु मंत्र, हर संकट का होगा अंत

याद रखें यह 5 वास्तु मंत्र, हर संकट का होगा अंत
निवास, कारखाना, व्यावसायिक परिसर अथवा दुकान के ईशान कोण में उस परिसर का कचरा अथवा जूठन ...

ऐसा हो मंदिर कि 'भगवान' भी रहने को मजबूर हो जाए....

ऐसा हो मंदिर कि 'भगवान' भी रहने को मजबूर हो जाए....
घर का मंदिर सुंदर, स्वच्छ और इतना पवित्र होना चाहिए कि भगवान भी ठहरने को मजबूर हो जाए...

कैसे होते हैं मेष राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...

कैसे होते हैं मेष राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...
राशियां जातक के व्यक्तित्व का दर्पण होती हैं। जातक का स्वरूप, स्वभाव एवं उसका व्यक्तित्व ...

सिर्फ और सिर्फ एक हनुमान मंत्र, रखेगा आपको पूरे साल

सिर्फ और सिर्फ एक हनुमान मंत्र, रखेगा आपको पूरे साल सुरक्षित
इस विशेष हनुमान मंत्र का स्मरण जन्मदिन के दिन करने पर पूरे साल की सुरक्षा हासिल होती है ...

क्या मोबाइल का नंबर बदल कर चमका सकते हैं किस्मत के तारे...

क्या मोबाइल का नंबर बदल कर चमका सकते हैं किस्मत के तारे...
अंकशास्त्र के अनुसार अगर मोबाइल नंबर में सबसे अधिक बार अंक 8 का होना शुभ नहीं होता है। ...

याद रखें यह 5 वास्तु मंत्र, हर संकट का होगा अंत

याद रखें यह 5 वास्तु मंत्र, हर संकट का होगा अंत
निवास, कारखाना, व्यावसायिक परिसर अथवा दुकान के ईशान कोण में उस परिसर का कचरा अथवा जूठन ...

2018 जानकी जयंती : जानिए पूजन का समय, मुहूर्त और महत्व...

2018 जानकी जयंती : जानिए पूजन का समय, मुहूर्त और महत्व...
इस वर्ष सीता नवमी 24 अप्रैल 2018, मंगलवार के दिन मनाई जा रही है। मंगलवार के दिन आने वाली ...

ऐसा हो मंदिर कि 'भगवान' भी रहने को मजबूर हो जाए....

ऐसा हो मंदिर कि 'भगवान' भी रहने को मजबूर हो जाए....
घर का मंदिर सुंदर, स्वच्छ और इतना पवित्र होना चाहिए कि भगवान भी ठहरने को मजबूर हो जाए...