अगस्त माह का मासिक पंचांग-कैलेंडर, पढ़ें विशेष जानकारी...


 
 
* अगस्त  : मासिक पंचांग जानने के लिए क्लिक करें... 
* मासिक पंचांग- अगस्त 2017, पढ़ें समस्त जानकारी एक जगह पर...   
यहां 'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए विशेष रूप प्रस्तुत है अगस्त माह का मासिक पंचांग।  जिसमें आप जानेंगे अगस्त माह का संपूर्ण कैलेंडर, व्रत-त्योहार, ग्रह-नक्षत्र, ज्योतिष एवं  अन्य समग्र जानकारी एक ही जगह पर...। 
 
दिनांक  मासिक कैलेंडर/पंचांग 
1. अगस्त  भौम व्रत, गौरी दुर्गा पूजा। संकटमोचन, श्री दुर्गाजी की यात्रा एवं दर्शन काशी में। लोकमान्य तिलक पुण्यतिथि। शुक्र आर्द्रा नक्षत्र में 22.37 पर।
2. अगस्त 
सूर्य आश्लेषा नक्षत्र में 7.54 पर। चन्द्र-सूर्य, स्त्री-नपुंसक योग, वाहन अश्व, चंडा नाड़ी, तदीश शनि (नपुंसक), अत: अल्प और खंडवृष्टि हो। बुध पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में 11.33 पर।
3. अगस्त  पुत्रदा एकादशी व्रत सबका। पवित्रा 11। झूलन यात्रारंभ (पूर्वाह्न में)।
4. अगस्त श्री विष्णु पवित्रारोपण। आज से भाद्रपद शुक्ल 12 तक दधि त्याग व्रतारंभ। गुरु चित्रा नक्षत्र में 25.49 पर।
5. अगस्त शनि प्रदोष व्रत (पुत्रार्थियों को यह व्रत करना चाहिए)। श्री शिव पवित्रारोपण। शाक दान।
6 अगस्त सूणमाण्डणा (पूरा दिन शुद्ध है)। मंगल आश्लेषा नक्षत्र में 23.25 पर।
7 अगस्त  स्नान दान व्रतादि की श्रावणी पूर्णिमा। अन्वाधान। रक्षाबंधन (राखी) पूर्णिमा (भद्रा 11.06 के बाद)। सायंकाल हयग्रीवोत्पत्ति, हयग्रीव जयंती। भदैनी स्थित मंदिर में हयग्रीव दर्शन-पूजन। ऋषि तर्पण। आपस्तम्ब उपाकर्म। संस्कृत दिवस। सत्याग्रह बलिदान दिवस। अमरनाथ यात्रा दर्शन पूजन। ऋक्वेदियों का उपाकर्म। यजुर्वेदियों, अथर्ववेदियों, काण्वमाघ्यनन्दिन (कात्यायन), बौधायन, हिरण्यकेशीय, आपस्तम्ब, तैत्तरीय द्विजातियों का श्रावणी उपाकर्म। झूलन यात्रा समापन प्रदोष काल में नारली पूर्णिमा। झूलन पूर्णिमा। नारियल। बलभद्र पूजा (उड़ीसा)। भारतीय संगीत के पुनरुद्धारक विष्णु दिगंबर पलुस्कर जयंती। श्रावणमासीय व्रत यम नियमादि समाप्त। श्रावण सोमवार व्रत। खंडग्रास चन्द्र ग्रहण। भाद्रपद मास कृष्ण पक्षारंभ।
8. अगस्त  भाद्रपद मास कृष्ण पक्षारंभ। इष्टि। भाद्रपद मासीय व्रत-यम-नियमादि प्रारंभ। भाद्रपद मास में दधित्याग करना चाहिए। मट्ठा का निषेध नहीं है। ग्रहण करिदिन।
9. अगस्त  अशून्य शयन द्वितीया व्रत। कज्जली निमित्त जागरण। भारत छोड़ो आंदोलन दिवस।
10 अगस्त  कज्जली तृतीया व्रत। कजरी तीज। तिजड़ी (सिन्धी)।
11. अगस्त संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत। चन्द्रोदय 21.06 पर। बहुला चतुर्थी। ब्रह्मावर्त (बिठूर) में सिद्ध गणेश मंदिर में अभिषेक।
12 अगस्त  चन्द्रषष्ठी व्रत (मरुस्थल में)। शुक्र पुनर्वसु नक्षत्र में 11.38 पर।
13. अगस्त हलषष्ठी व्रत (सायान्हव्यापिनी षष्ठ में)। पुत्रार्थियों को एवं संतानवती महिलाओं को यह व्रत करना चाहिए। बृहद् गौरी व्रत। कपिला षष्ठी व्रत। चम्पा षष्ठी। बुध अस्त पश्चिम में 13.45 पर। बुध वक्री 22.49 पर।
14. अगस्त श्री शीतला सप्तमी व्रत। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी व्रत स्मार्त। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव।
15. अगस्त श्रीकृष्ण जन्माष्टमी व्रत वैष्णव। श्रीकृष्ण जयंती रोहिणी योग का अभाव है। श्री संत ज्ञानेश्वर जयंती। गोकुलाष्टमी। नंदोत्सव। मन्वादि। मंत्रादि। भारतीय स्वतंत्रता दिवस। भारतीय स्वतंत्रता दिवस की 71वीं वर्षगांठ।
16. अगस्त गोगानवमी। सूर्य मघा नक्षत्र में एवं सूर्य की सिंह संक्रांति 10.10 पर। चन्द्र दर्शन मु. 45 समर्घ। संक्रांति का विशेष पुण्यकाल सूर्योदय से संक्रांति काल तक, तत्पश्चात सामान्य पुण्यकाल संक्रांति काल से 16.34 तक। छत्र-स्वर्ण, वस्त्र-दान, गंगा में स्नान। सूर्य मघा नक्षत्र में 10.10 पर। चन्द्रसूर्य, स्त्री-पुरुष योग, वाहन मेष, नाड़ी वायु, तदीश सूर्य (पुरुष) श्रेष्ठ वृष्टि हो।
17 अगस्त   राहु (वक्री) आश्लेषा नक्षत्र कर्क राशि में 29.30 पर। केतु (वक्री) मकर राशि में 29.30 पर।
18. अगस्त जया एकादशी व्रत सबका। गोवत्स पूजा द्वादशी। सौर (सिंह) भाद्रपद मासारंभ।
19. अगस्त शनि प्रदोष व्रत (पुत्रार्थियों को यह व्रत करना चाहिए)। पर्युषण पर्वारंभ (जैन)। त्रयोदशी तिथि क्षय।
20. अगस्त मास शिवरात्रि व्रत।
21. अगस्त स्नान-दान-श्राद्धादि की अमावस्या। पिठौरी अमावस्या। सोमवती अमावस्या (आज तैल स्पर्श का निषेध है)। कुशोत्पाटिनी अमावस्या। ह्यओम्हूं फट्ह्ण मंत्र से कुशोत्पाटन। लोहार्गल स्नान। श्रीशक्ति पूजा। पोला (वृषभोत्सव)। मौन व्रतारंभ (जैन)। शुक्र कर्क राशि में 24.06 पर भाद्रपद शुक्ल पक्षारंभ।
22. अगस्त भाद्रपद शुक्ल पक्षारंभ। श्रावणमासीय नक्त व्रत का अंतिम दिन। श्री गुरुग्रंथ साहिब प्रथम प्रकाश दिवस। सूर्य सायन कन्या राशि में 27.54 पर। बुध (वक्री) मघा नक्षत्र में 22.58 पर।
23. अगस्त चन्द्रदर्शन मु. 45 साम्यर्घ। श्री गुरु अर्जनदेव गुरयायी। राष्ट्रीय भाद्रपद मासारंभ।
24. अगस्त वाराह जयंती। मन्वादि 3। वाराहावतार 3। हरितालिका तीज व्रत (स्त्रियों को यह व्रत अवश्य करना चाहिए)। भाद्रपद सिंहार्क हस्त नक्षत्र में सामवेदियों का उपाकर्म। बृहदगौरी व्रत। गौरी तृतीया। श्री शंकरदेव तिथि (असम)। श्री गुरु रामदास जोति जोत। हिजरी जिल्हेज 12 माह शुरू। शुक्र पुष्य नक्षत्र में 28.42 पर।
25. अगस्त वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी व्रत। (आज चन्द्र दर्शन का निषेध है)। सिद्धविनायक चतुर्थी। पत्थर चौथ। संवत्सरी चतुर्थी पक्ष (जैन)। ब्रह्मावर्त (बिठूर) में सिद्ध गणेश मंदिर में अभिषेक। मेला पाट 3 दिन (जम्मू-कश्मीर)।
26. अगस्त ऋषि पंचमी। मध्याह्न में सप्तर्षि पूजा। आपस्तंभ श्रावणी। हेमाद्रिका नागपंचमी। संवत्सरी महापर्व (जैन)। शनि मार्गी 7.17 पर।
27. अगस्त षष्ठी व्रत। लोलार्क षष्ठी। पुत्रार्थियों को आज से 16 दिन तक काशी के लोलार्क कुंड में स्नान एवं पूजन-अर्चन करना चाहिए। ललिता षष्ठी व्रत। चम्पा षष्ठी व्रत। अगस्त्योदय 24.15 पर। मंगल मघा नक्षत्र सिंह राशि में 26.28 पर।
28. अगस्त मुक्ताभरण सप्तमी व्रत। उमा-महेश्वर पूजन। अपराजिता 7। संतान 7। दूबड़ी सातम।
29 अगस्त  श्री दुर्गाष्टमी व्रत। श्री राधाष्टमी। दूर्वाष्टमी। आज से 16 दिनात्मक महालक्ष्मी व्रतारंभ। महर्षि दधीचि जयंती। अनुराधा नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का आवाह्न 22.57 के पूर्व। राष्ट्रीय खेल दिवस।
30. अगस्त श्री चन्द्र नवमी। अदु:ख नवमी। उदासीन संप्रदाय महोत्सव। भागवत सप्ताहारंभ। गौरी गणपति पूजन। काशी के लक्ष्मी कुंड में स्नान। ज्येष्ठा नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का पूजन व्रत 25.53 के पूर्व। सूर्य पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में 14.18 पर। सूर्य, स्त्री नपुंसक योग, वाहन खर, वायु नाड़ी, तदीश सूर्य (पुरुष), अत: बहुत हवा चले अनावृष्टि हो।
31. अगस्त  दशावतार दशमी व्रत। श्री रामदेवजी का मेला (नवल दुर्ग)। मूल नक्षत्र में ज्येष्ठा गौरी का विसर्जन 28.47 के पूर्व।
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine

और भी पढ़ें :