सिंह भविष्यफल 2018 : परिवार, सेहत, धन, नौकरी, प्यार, व्यापार और उपाय

leo
 
सिंह राशि- मा, मी, मु, में, मो, टा, टी, टु, टे
 
परिवार 
 
संतान पक्ष में सुखद समाचार मिलेगा। बच्चों को व्यवसाय हेतु सहयोग देने के लिए प्रयत्नशील रहें। यदि जन्म समय में गुरु अशुभ ग्रह अथवा अशुभ भाव के स्वामी के साथ बैठा है और गुरु की दशा भी शुरू हो रही है, तो सतर्क रहें। पारिवारिक उलझनें बढ़ सकती हैं। जमीन-जायदाद का क्रय-विक्रय हो सकता है अत: कोई भी फैसला सोच-समझकर अपने परिवार के वरिष्ठ सदस्यों के साथ सामंजस्य बनाकर चलें। कुछ उतार-चढ़ाव भी आएगा, परंतु परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। दांपत्य जीवन में मधुर संबंध बने रहेंगे। पिता के साथ संबंध अच्छे रहेंगे लेकिन माता के साथ विवाद संभव है।
 
स्वास्थ्य 
 
यह वर्ष स्वास्थ्य के मामलों में बेहतर है। सीने में दर्द, गैस की समस्या रह सकती है, सिरदर्द रहेगा। हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज के मरीजों के लिए अधिक सावधानी बरतने का समय है। दिल और रक्त से संबंधित रोगों से सचेत रहें। स्नायविक दुर्बलता भी आपको परेशान कर सकती है। समय-समय पर परामर्श लेते रहें। अपने आपको संतुलित रखने का प्रयास करें। किसी भी परिस्थिति में अनावश्यक दबाव से बचें। तले पदार्थ का सेवन करने से बचें। नियमित व्यायाम लाभदायक रहेगा।
 
धन-संपत्ति  
धन-संपत्ति के मामलों में सामान्य स्थिति रहेगी। माह अक्टूबर से धन के मामलों में वृद्धि संभावित है। नवीन कार्ययोजनाओं से धनलाभ हो सकता है। पैतृक संपत्ति मिल सकती है। फिक्स्ड डिपॉजिट या जीवन बीमा इत्यादि का लाभ मिलने वाला है।
 
नौकरीपेशा
 
जो लोग नौकरी की तलाश में हैं उनके लिए यह वर्ष खुशखबरी प्रदान करने वाला है खासकर जिस जातक की कुंडली में शुक्र दूसरे, सप्तम तथा एकादश भाव में हो तो साल के अंत तक नौकरी अवश्य मिलेगी। बेरोजगारों के लिए रोजगार पाने के उत्तम योग हैं। नौकरी करने वाले लोगों के लिए यह वर्ष खुशियों भरा रहेगा। नौकरीपेशा के लिए वर्ष उन्नतिदायक रहेगा। वर्षांत तक कोई विशेष कार्य से लाभ मिल सकता है।
 
व्यवसाय 
 
व्यापार-व्यवसाय की दृष्टि से यह वर्ष आपके लिए अच्छा रहेगा। सभी मनोकामनाओं की पूर्ति होगी। इलेक्ट्रॉनिक से संबंधित व्यवसाय के लिए अच्छा समय है। इन्वेस्ट कर सकते हैं। शेयर बाजार में कार्य कर सकते हैं, परंतु शेयर में सोच-समझकर सावधानी से निवेश करें। यदि आप साझेदारी में काम कर रहे हैं तो सतर्क रहने की आवश्यकता है।
 
इस वर्ष जल्दबाजी और अतिउत्साह से बचें। यात्रा करते वक्त सावधानी रखें। स्थान परिवर्तन में सावधानी बरतें। शराब से दूर रहना अच्छा रहेगा। क्रोध से बचें। क्रोध बने-बनाए काम को बिगाड़ सकता है। खर्च सोच-समझकर करें तो बेहतर रहेगा।
 
अशुभ स्थिति में यह उपाय करें
 
इस वर्ष आपकी राशि के लिए शनि तथा बुध ग्रह प्रतिकूल है और यदि आपकी कुंडली शनि या बुध की दशा चल रही हो तो हनुमान चालीसा का पाठ करें। हर शनिवार को पीपल में जल चढ़ाएं। बुध की दशा चल रही हो तो कुंवारी कन्या को दान देना शुभ रहेगा। गाय को चारा भी खिला सकते हैं।  


और भी पढ़ें :