जन्म लग्न से जानिए वर्ष 2018 किसके लिए है शुभ, किसके लिए अशुभ

2018 yearly horoscope
* आपके लिए कैसा रहेगा 2018, जानिए
लग्न के अनुसार

12 राशि, मूलांक, टैरो, के अनुसार भविष्य जानने के साथ ही जन्म लग्न के अनुसार भी अपना भविष्य जानना चाहिए। आइए जानें 2018 में कैसा होगा लग्न के अनुसार आपकी किस्मत का हाल...

मेष

मेष लग्न वालों के लिए यह वर्ष प्रभावशाली है। राजनीतिज्ञ व्यक्तियों के लिए उत्तम व विशेष सफलतादायक रहेगा। नई ऊर्जा का संचार होगा। पिता का किसी कार्य में सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। व्यापार की स्थिति में सुधार, प्रगतिशील वातावरण रहेगा। नौकरीपेशा के लिए सुखद वातावरण रहेगा। बाहरी मामलों में संभलकर चलना होगा। यात्रा के दौरान सावधानी बरतें। दैनिक जीवन में कोई समस्या हो तो मिल-जुलकर सुलझाएं। दांपत्य जीवन में मिली-जुली स्थिति का वातावरण रहेगा।
पारिवारिक मामलों में, स्थानीय राजनीति में, मकान-भूमि संबंधित कार्यों में सावधानी रखें। यदि माता का स्वास्थ्य ठीक न हो, तो लापरवाही न करें। आर्थिक मामलों में पहले से सुधार पाएंगे। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। स्वास्थ्य अधिकतम ठीक रहेगा। प्रतियोगी परीक्षाओं में थोड़ा ध्यान देकर चलें तो सफलता दूर नहीं। 12 अक्टूबर के बाद भाग्य का प्रभाव कम होगा।

उपाय- प्रति मंगलवार बजरंग बाण का पाठ करें व गुड़-चने का प्रसाद वितरण करें। सिर्फ 1 बार मंगलवार को बजरंग मंदिर में ध्वजा चढ़ाएं। सवा किलो आलू 5 गुरुवार को हल्दी में रंगकर गौशाला में गाय को खिलाएं। 1 पीला रूमाल पास में रखें। इस प्रकार
काफी हद तक परेशानियों का समाधान होगा। मूंगा व पुखराज साथ पहनें।

वृषभ

वालों के लिए यह वर्ष मिला-जुला है। वर्षारंभ में बाधाओं के बाद राहत मिलेगी। विवाह आदि के मामलों में समय ठीक रहेगा। अविवाहितों का सपना पूरा होगा। नि:संतान भी संतान सुख पाने में समर्थ होंगे। अक्टूबर से आर्थिक मामलों में सुधार पाएंगे। बाहरी मामलों में अनुकूल स्थिति रहेगी। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बरकरार रहेगा। स्थानीय राजनीति से जुड़े व्यक्तियों को संभलकर चलना होगा। जनाधार में कमी महसूस करेंगे। साझेदारी के मामलों में सावधानी रखना होगी। पराक्रम के क्षेत्र में कुछ कमी महसूस करेंगे। व्यापार-व्यवसाय के क्षेत्र में परिश्रम द्वारा सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा ध्यान से आगे बढ़ें। सफलता कोशिश व मेहनत से ही मिलती है, ये समझना होगा। दांपत्य जीवन में आपसी प्रेम बरकरार रहेगा। दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति होगी।


उपाय- धनलाभ की कामना हेतु प्रति शुक्रवार स्नान के जल में 1 चम्मच दही मिलाकर नहाएं। 5 वर्ष से कम उम्र की कन्याओं को शुक्रवार के दिन खीर खिलाएं व उचित दक्षिणा दें। लक्ष्मी मंदिर में 1 कटोरी शकर चढ़ाकर आएं। ओपल 5 कैरेट का चांदी के लॉकेट में पहनें। शुभ रत्न हीरा या ओपल।

मिथुन

वालों के लिए यह वर्ष परिश्रमभरा है। कामकाज तो बनेंगे लेकिन परिश्रम द्वारा। वर्ष का आरंभ ही मिथुन राशि से हो रहा है। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। संतान पक्ष के मामलों में चिंता रहेगी। विद्यार्थी वर्ग को पढ़ाई पर ध्यान देना होगा। कुटुम्ब के मामलों में वार्तालाप करते वक्त सतर्कता रखनी होगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से वर्ष अनुकूल रहेगा।

भाग्य का साथ मिलने से आपको अपने रुके कार्यों में काफी मदद मिलेगी वहीं पिता का भी सहयोग मिलेगा। दांपत्य जीवन में मिला-जुला वातावरण रहेगा। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति ठीक रहेगी। जीवनसाथी को गैस की समस्या रह सकती है। शत्रु वर्ग पर आप अपनी बुद्धिमत्ता से निपटने में सफल होंगे। आर्थिक प्रयासों में सफलता मिलेगी। धन से संबंधित कार्य नहीं रुकेंगे। पारिवारिक मामलों में संभलकर चलें। राजनीति से जुड़े व्यक्तियों को काफी सतर्क रहना होगा।

उपाय- वर्ष को मंगलमय बनाने के लिए सवा किलो खड़े मूंग भिगोएं। गाय को बुधवार के दिन खिलाएं। बुधवार के दिन सवा किलो बूंदी के लड्डू भगवान गणेशजी को चढ़ाएं। प्रसाद वितरण करें। बुधवार के दिन लेखन सामग्री का यथाशक्ति दान करें व पत्रिका दिखाकर पन्ना पहनें। कोई भी उपाय 1 दिन में 1 ही बार करें।

कर्क

वालों के लिए यह वर्ष परिश्रम के साथ कुछ मानसिक चिंताओं का रहेगा। अनैतिक कार्य की ओर झुकाव हो सकता है अत: सावधानी रखें। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय सुखद रहकर सफलताओं भरा रहेगा। पारिवारिक मामलों में सहयोग लेकर चलने पर अनुकूल स्थिति पाएंगे। जनता से संबंधित मामलों में कार्य बनेंगे। माता के स्वास्थ्य में मिली-जुली स्थिति रहेगी। जमीन संबंधित कार्य में अनुकूल स्थिति पाएंगे। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा।

रोग से राहत मिलेगी। स्वास्थ्य ठीक रहेगा। कर्ज की स्थिति में सुधार होगा। संतान पक्ष में प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में प्रगतिपूर्ण वातावरण पाएंगे। नौकरीपेशा के लिए समय ठीक रहेगा। राजनीति से जुड़े व्यक्ति भी सुखद स्थिति पाएंगे। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलता रहेगा। दैनिक जीवन की आवश्यकताओं में पूर्ति हेतु प्रयास द्वारा सफलता मिलेगी। दांपत्य जीवन में उतार-चढ़ाव महसूस करेंगे।

उपाय- मोती पहना हो तो उतार दें। सफेद मूंगा पहनें। श्वान को मीठी रोटी खिलाएं। सोमवार को सफेद खाद्य पदार्थ का सेवन करें।1 चम्मच दही जल में डालकर नहाएं।

सिंह

वालों के लिए यह वर्ष शुभ फलदायी रहेगा। संतान पक्ष से चिंता दूर होगी। प्रेम संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी। दांपत्य जीवन में चली आ रहीं रुकावटें दूर होकर आपसी तालमेल बनेगा। दैनिक व्यवसाय में प्रगति के आसार बढ़ेंगे। पारिवारिक समस्याओं का समाधान निकलेगा। जनता से संबंधित कार्य बनेंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय ठीक है। भाग्य साथ देने से समस्याओं का समाधान होगा, प्रसन्नता का वातावरण भी रहेगा। मनोरंजन के साधनों पर खर्च होगा।

शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। पशुओं से बचकर चलें। कर्ज की स्थिति को टालकर चलें। आर्थिक प्रयासों में सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय के मामलों में समय ठीक-ठीक है। नौकरीपेशा के लिए समय मिला-जुला है।

उपाय- यदि संतान व प्रेम-प्रसंग में बाधा आ रही हो तो प्रति शनिवार तिल का तेल 1 चम्मच जमीन पर गिराएं। सूर्य को प्रात: दूध-मिश्री मिले जल का अर्घ्य दें।

कन्या

वालों के लिए यह वर्ष पारिवारिक दृष्टि से मिला-जुला है। मातृपक्ष में विवाद हो सकता है। जमीन-जायदाद के मामलों में आपसी मतभेद हो सकते हैं। पराक्रम द्वारा महत्वपूर्ण मामलों में सफल होंगे। भाइयों का सहयोग मिलेगा। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। संतान पक्ष के मामलों में चिंता रह सकती है। विद्यार्थी वर्ग को काफी संभलकर चलना होगा।

व्यापार-व्यवसाय के मामलों में स्वप्रयत्नों द्वारा ही सफलता का स्वाद चख सकते हैं। नौकरीपेशा के लिए समय मिला-जुला रहेगा। बेरोजगारों को अथक प्रयासों द्वारा सफलता मिलेगी। वाक्-चातुर्य का लाभ मिल सकता है। कुटुम्बियों से सावधानी रखकर चलें। दांपत्य जीवन में मिली-जुली स्थिति रहेगी। बाहरी संपर्कों से लाभजनक स्थिति रह सकती है।


उपाय- यदि कोई पारिवारिक समस्या हो तो 5 साल व कम उम्र की कन्याओं को 9 शुक्रवार तक खीर खिलाएं व पांव छूकर आशीर्वाद लें।

तुला

वालों के लिए यह वर्ष मौसमी बीमारी को छोड़ स्वास्थ्य की दृष्टि से समय उत्तम है। साहस बल में वृद्धि होगी। पारिवारिक मामलों में थोड़ी सावधानी से चलें। माता का स्वास्थ्य खराब हो, तो काफी सतर्क रहें। दैनिक व्यवसाय के क्षेत्र में अनुकूल वातावरण रहेगा। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण पाएंगे।

अविवाहितों के लिए समय ठीक है। पराक्रम में वृद्धि होगी। संचार माध्यम से शुभ समाचार मिलेगा। आर्थिक प्रयासों को तेज करना होगा तभी अनुकूल स्थिति पाने में समर्थ होंगे। संतान पक्ष के कार्य बनेंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय ठीक है। सेक्स की भावना प्रबल होगी। नौकरीपेशा संभलकर व चतुराई से चलें। नवीन कार्ययोजनाओं में धन लगाने से पहले काफी सोच-विचार लें फिर कार्य को अंजाम दें। अधिकारी वर्ग भी संभलकर चलें। राजनीति से जुड़े व्यक्ति सावधानी बरतें।

उपाय- 5 कैरेट व उससे ऊपर का ओपेल चांदी के लॉकेट में बनवाकर शुक्रवार को पहनें। चावल, शकर का दान करें। कन्याओं को खीर खिलाएं।

वृश्चिक

वालों के लिए यह वर्ष सुधारवादी रहेगा। आर्थिक प्रयासों में स्वप्रयत्नों से लाभ होगा। किसी भी कार्य में लापरवाही न करें। पारिवारिक मामलों में सुधारजनक स्थिति रहेगी। मातृपक्ष में संतोषजनक स्थिति पाएंगे। वाणी का चमत्कार देखने को मिलेगा। जनता से संबंधित कार्य बनेंगे। व्यापार-व्यवसाय में अनुकूल स्थिति रहेगी वहीं धनलाभ की उम्मीद कर सकते हैं। नौकरीपेशा को सहयोग मिलेगा। शासकीय कार्य में कुछ बाधाओं के साथ सफलता पाएंगे। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण रहेगा।

आपसी तनाव भी दूर होगा। साझेदारी के व्यवसाय में समझदारी से काम लेना होगा। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। कोर्ट-कचहरी के मामलों में सफलता मिलेगी। संतान पक्ष के मामलों में सावधानी रखना होगी। विद्यार्थी वर्ग अध्ययन के प्रति सजग रहें। जीवनसाथी से लाभजनक स्थिति रहेगी।

उपाय- स्वास्थ्य हेतु मूंगा 5 कैरेट का गले में पहनें। लाल मुंह के बंदरों को गुड़-चना खिलाएं। मंगलवार का व्रत करें।

धनु

वालों के लिए यह वर्ष प्रतिभा प्रदर्शन का है। जितनी अधिक मेहनत करेंगे, उतना अधिक लाभ पाने में समर्थ होंगे। संतान पक्ष से प्रसन्नता रहेगी, वहीं संतान पक्ष के कार्य बनेंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय उत्तम रहेगा। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। कर्ज की स्थिति से छुटकारा भी मिलेगा। वाणी का प्रभाव बढ़ने से प्रशासनिक क्षमता में विस्तार होगा। वाद-विवाद व प्रतियोगी परीक्षाओं में इच्छित सफलता मिल सकती है। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण बना रहेगा।

नवीन कार्ययोजनाओं में सफलता पाएंगे। भाग्य का साथ निरंतर मिलता रहेगा। पारिवारिक मामलों में सुखद स्थिति रहेगी। धन की स्थिति पहले से आशाजनक रहेगी। कुटुम्ब के व्यक्तियों का सहयोग मिलने से राहत महसूस होगी। दैनिक व्यवसाय में बाहरी संबंधों का लाभ मिलेगा। यात्रा सुखद होकर फलवती होगी। अविवाहितों के लिए यह वर्ष उत्तम है।

उपाय- इस वर्ष किसी मंदिर में पताका लहराएं। श्वान को प्रति गुरुवार रोटी खिलाएं। गुरुवार का व्रत शुभ फलों में वृद्धि करेगा।

मकर

वालों के लिए यह वर्ष पारिवारिक मामलों में उत्तम व्यतीत होगा। जमीन-जायदाद से संबंधित समस्याओं का समाधान होगा। घर-परिवार में शुभ कार्य भी होंगे। जनता से संबंधित कार्य बनेंगे। स्थानीय राजनीति में अनुकूल स्थिति रहेगी। विद्यार्थी वर्ग के लिए यह वर्ष सुखद है। मनोरंजन के साधनों में वृद्धि होगी।

संतान यदि अविवाहित है, तो विवाह संबंध बनेंगे। व्यापार-व्यवसाय में समझदारी से चलना होगा। कुटुम्ब के व्यक्तियों से कुछ विवाद संभव हैं। परिश्रम वाला वर्ष होने से कार्य पर ध्यान देकर चलें। सफलता दूर नहीं रहेगी। शत्रुपक्ष पर यथेष्ट प्रभाव बना रहेगा। इस वर्ष चोट लग सकती है। जीवनसाथी के मामलों में सावधानी रखने का समय है। जिन्हें विदेश जाना है उनके लिए यह वर्ष अनुकूल रहेगा। आर्थिक प्रयासों को तेज करने पर उत्तम सफलता मिलेगी।

उपाय- दैनिक व्यवसाय व दांपत्य जीवन को सुखद बनाने हेतु 5 तरह का अनाज कबूतरों को खिलाएं। व्यवसाय व नौकरी में अनुकूल स्थिति हेतु 5 कैरेट का ओपेल पहनें।

कुंभ

वालों के लिए यह वर्ष स्वप्रयत्नों से उत्तम व्यतीत होगा। कार्य में प्रगति आएगी। आर्थिक प्रयासों में अनुकूल स्थिति रहेगी। पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा वहीं शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। साझेदारी के मामलों में सुखद वातावरण रहेगा। शुभ समाचार मिलने से प्रसन्नता रहेगी। ईष्ट मित्रों व भाइयों का भरपूर सहयोग मिलेगा।संतान पक्ष के कार्य बनेंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय उत्तम रहेगा। बेरोजगार युवक-युवतियां भी रोजगार पाने में समर्थ होंगे। दांपत्य जीवन में मिली-जुली स्थिति रहेगी। वाद-विवाद से बचकर चलें। पारिवारिक मामलों में समय ठीक-ठीक है।

वाहनादि खरीदते समय सोच-विचार कर अंतिम निर्णय पर पहुंचें। अकस्मात तबीयत बिगड़ सकती है अत: पहले से सतर्क रहें। व्यापार-व्यवसाय में सहयोग लेकर चलें। नौकरीपेशा कार्य के प्रति सजग रहें।

उपाय- किसी योग्य को अपनी पत्रिका दिखाकर नीलम गले में पहनें। जमीन पर प्रति शनिवार तिल का तेल 1 चम्मच गिराएं। पन्ना अवश्य धारण करें।

मीन

वालों के लिए यह वर्ष परिश्रमपूर्ण रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। भाग्य बल द्वारा जनता से संबंधित कार्यों में सफलता मिलेगी। मातृपक्ष का सहयोग मिलेगा व पारिवारिक दृष्टि से समय उत्तम रहेगा। जीवनसाथी के कार्यों में सहयोग देना होगा। प्रसन्नता भी रहेगी। संतान पक्ष के मामलों में थोड़ी चिंता रह सकती है। विद्यार्थी पढ़ाई पर ध्यान रखकर चलें। व्यापार विस्तार में समझदारी से काम लें। नौकरीपेशा के लिए यह वर्ष मिला-जुला है।

मकान व भूमि का सुख उत्तम रहेगा। स्थानीय राजनीति से जुड़े व्यक्तियों के लिए समय सुखद रहेगा। संचार माध्यम से शुभ संकेत मिलेंगे। साझेदारी के मामलों में संभलकर चलना होगा। प्रभाव में कमी महसूस करेंगे। बाहरी संबंधों का लाभ अवश्य मिलेगा, यात्रा के योग बनेंगे।

उपाय- इस वर्ष गले में चांदी के लॉकेट में पुखराज 5 कैरेट का बनवाकर गुरुवार को धारण करें। गुरुवार का व्रत रखें व पीली गाय को सवा किलो हल्दी में रंगे आलू खिलाएं।


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :