ब्लॉग-चर्चा : रेडियोवाणी

WDWD
अपने ब्लॉग के बारे में बताते हुए यूनुस कहते हैं कि संगीत के प्रति उनका लगाव हमेशा से रहा है। उनकी कोशिश भी रही कि संगीत की दुनिया के उन लोगों को सामने लाया जाए, जिन्हें लोगों ने भुला दिया या जिनका योगदान नेपथ्य में कहीं खो गया।

ब्लॉग के बारे में उन्हें मालूम तो था ही, ‘रेडियोवाणी’ के नाम से उन्होंने ब्लॉग बनाने का मन बनाया। रवि रतलामी ने उन्हें इसके लिए प्रेरित किया। उनकी सोच को नया मंच मिला ‘रेडियोवाणी’ के रूप में।

आइए कुछ बातें यूनुस खान के बारे में जानें :

वर्तमान में मुंबई में विविध भारती में कार्यरत हैं। मध्यप्रदेश के दमोह में जन्मे यूनुस ने 1996 में मुंबई विविध भारती से बतौर एनाउंसर अपने कॅरियर की शुरुआत की थी। यूनुस खान विविध भारती में संगीत से जुड़े कार्यक्रमों का संचालन करते हैं, जिनमें ‘उजाले उनकी यादों के’, ‘पिटारा’ जैसे कार्यक्रमों के संचालन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। खनकती आवाज और जाना-पहचाना अंदाज यूनुस की पहचान है।

रेडियोवाणी : इस ब्लॉग में संगीतकारों, यूनुस के पसंदीदा कलाकारों तथा संगीत से ही जुड़ी तमाम जानकारियाँ मौजूद हैं। हाल ही में ‘रेडियोवाणी’ पर रामलाल के संगीत पर भी चर्चा हुई, जो लोगों को काफी पसंद भी आई। संगीत की दुनिया से जुड़े ऐसे ही लोग जिन्होंने अपना हुनर तो दिखाया, लेकिन लोगों के बीच उनकी वैसी पहचान नहीं बन पाई। बिस्मिल्ला खाँ जैसे कला के पुजारी के साथ काम कर चुके रामलाल के बारे में बहुत कम लोग ही जानते होंगे, लेकिन ‘रेडियोवाणी’ में संगीत के क्षेत्र में उनके योगदान को जानकर लोग जरूर आश्चर्य में पड़ गए होंगे कि ऐसे कलाकार को जानने से वे अब तक महरूम थे। ऐसे ही कई कलाकारों और संगीत से जुड़ी तमाम जानकारियों से हमें समय-समय पर रू-ब-रू कराता है- ‘रेडियोवाणी’। इस शुक्रवार के लिए इतना ही।

अब अगली ब्लॉग-चर्चा अगले शुक्रवार।

ब्लॉग - ‘रेडियोवाणी’
ब्लॉगर - यूनुस खान
WD|
पिछले हफ्ते हमने वादा किया था कि शुक्रवार से हम ब्लॉग-चर्चा की शुरुआत करेंगे। दिनोंदिन ब्लॉग की बढ़ती तादाद को देखकर यह महसूस होने लगा था कि जो काम ब्लॉग के जरिये किया जा रहा है, शायद किसी और माध्यम से संभव नहीं हो पाता, उस मुहिम को एक मंच के रूप में सामने लाने वालों की चर्चा होना ही चाहिए।
हर शुक्रवार को ब्लॉग-चर्चा के तहत देशभर के ब्लॉग्स और ब्लॉगर्स की जानकारी दी जाएगी। अपनी बातों को बेबाक अंदाज में कहने का एक बेहतरीन मंच है- ब्लॉग। इस दुनिया में कदम रखने के लिए न कोई उम्र सीमा है और न ही किसी विशेष योग्यता की आवश्यकता। इस बार हमारी चर्चा का विषय है- यूनुस खान का ब्लॉग ‘रेडियोवाणी’। 17 अप्रैल 2007 को शुरू हुए इस ब्लॉग में संगीत को केंद्र में रखकर लोगों तक अपनी बात पहुँचाने का मंच प्रदान किया जा रहा है।
URL - //radiovani.blogspot.com/


और भी पढ़ें :