पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र में जन्मे व्यक्ति का भविष्यफल

FILE


पूर्वा फाल्गुनी : इस नक्षत्र का है और इसके चारों चरण सिंह में आते हैं। होने पर जन्म राशि सिंह तथा राशि स्वामी सूर्य, वर्ण क्षत्रिय, वश्य चतुष्पद, योनि मूषक, महावैर योनि बिडाल, गण मानव तथा नाड़ी मध्य हैं। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले पर जीवनभर सूर्य और शुक्र का प्रभाव बना रहता है।

*प्रतीक चिह्न : पलंग का प्रथम सिरा या झूले वाला बिस्तर
*रंग : हल्का बादामी
*अक्षर : म और ट
*वृक्ष : पलाश का पेड़
*राशि स्वामी : सूर्य
*नक्षत्र स्वामी : शुक्र
*देव : भग (धन व ऐश्वर्य के देवता)
*शारीरिक गठन : पुष्ट शरीर लेकिन सिर पर चोट का निशान हो सकता है।
*भौतिक सुख : स्त्री और धन-सं‍पत्ति का सुख।

*सकारात्मक पक्ष : पूर्वा फाल्गुनी में जन्मा जातक चतुर और विलासी, प्रिय वक्ता, दाता, कांतिमान, गंभीर, जनमान्य, स्त्रियों का प्रिय, शूरवीर, त्यागी, साहसी, चतुर, उदार तथा भ्रमणशील होता है। इस नक्षत्र में जन्मे जातक संगीतकार, अभिनेता, यात्रा प्रबंधक, शादी-विवाह के प्रबंधक या यौन उपचारक हो सकते हैं।

*नकारात्मक पक्ष : सूर्य और शुक्र की स्थिति ठीक नहीं है तो जातक धूर्त, कामुक, विलासी, आरामपसंद, उग्र और अभिमानी होगा। सट्टे अथवा जुए की प्रवृत्ति, सावधान चित्त, आत्मकेंद्रित होगा।

प्रस्तुति : शताय

WD|

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :