घर की कौनसी दिशा बदल सकती है आपकी दशा, जानिए वास्तु के अनुसार


जिस घर में जातक परिवार सहित करता है, उस घर की नीची दिशाओं का वास्तु अनुसार जातक के जीवन में विशेष प्रभाव पड़ता है।

अत: चारों दिशाओं से सुख-संपत्ति और सम्मान पाना है तो जानें वास्तु के अनुसार कैसी हो भवन की दिशा, जैसे कि-
1. घर की पूर्व दिशा की भूमि नीची हो तो वह भूस्वामी को होती है।

2. यदि घर की आग्नेय दिशा की भूमि (दिशा) धंसी हुई हो तो घर में अग्नि संबंधित दुर्घटना एवं विद्युत उपकरणों में खराबी के योग होते हैं।

3. घर की दक्षिण दिशा में भूमि नीची हो तो मकान मालिक को मृत्युतुल्य कष्ट, रोग एवं अचानक हानि का सामना करना पड़ता है।
4. नैऋत्य दिशा की भूमि नीची हो, तो वह घर के लोगों में भय के साथ धन-संपत्तिनाशक होती है।

5. पश्चिम दिशा की भूमि नीची हो तो अपमान, बदनामी व हानिकारक होती है।

6. वायव्य दिशा की भूमि नीची हो तो घर में कष्ट व कलह होता है।

7. उत्तर दिशा की भूमि नीची हो तो धन-संपत्ति एवं प्रगतिकारक होती है।
8. ईशान दिशा नीची हो तो भवन स्वामी को सुख-संपत्ति सम्मान एवं ऐश्वर्य प्राप्त होता है।




और भी पढ़ें :