रियलिटी शो 'दिल है हिन्दुस्तानी' में दिखेंगे करण जौहर

अब फिल्मों के अलावा रियलिटी शोज के सेट्स पर भी खूब दिखने लगे हैं। 'झलक दिखला जा', 'कॉफी विद करण' के बाद अब वे एक और रियलिटी शो में दिखने वाले हैं, नाम है- 'दिल है हिन्दुस्तानी'।
 
इस शो में देश और विदेशों में हिन्दी गानों या कहें बॉलीवुड के गानों के जो भी कद्रदान हैं या जो गायक हैं, वे आकर इस सिंगिग रियलिटी शो में अपना कमाल दिखाएंगे। 'दिल है हिन्दुस्तानी' में करण जज का काम करने वाले हैं। इस शो में करण के साथ शाल्मली खोलगड़े, डीजे बादशाह और संगीतकार शेखर भी दिखाई देने वाले हैं।
 
करण का कहना है कि मेरी सिंगिंग की जानकारी बिलकुल जीरो है, लेकिन हिन्दुस्तानी संगीत की बहुत समझ है और फिल्म संगीत की बहुत समझ है। मैंने जबसे होश संभाला है, संगीत सुनते आ रहा हूं, जहां तक संगीत की बारीकियों की बात है या तकनीकी बातें हैं उसके लिए बादशाह या शेखर या शाल्मली हैं। लेकिन किसी में वह स्टार वाली बात है या एक्स फैक्टर होगा तो मैं वह देखूंगा।
 
करण का कहना है कि मैंने इस शो में जितने भी देशी या विदेशी टैलेंट को देखा है, वह अविश्वसनीय लगता है। वैसे तो कई रियलिटी शोज आए दिन टीवी पर आते ही रहते हैं लेकिन कभी सोचा नहीं था कि कैसे कोई यूक्रेन में या कोई जर्मनी में बैठे अपने दिल में हिन्दुस्तान को बसा लेता है। कैसे वह अपने दिल में हमारी फिल्मों के संगीत को बसा लेता है।
 
करण ने कहा कि एक दिन मैं इंटरनेट पर देख रहा था कि कैसे चाइना में एक कॉन्फ्रेंस में बैठे लोग 'कल हो ना हो' के टाइटल सॉन्ग को गा रहे हैं। उन्हें भाषा की समझ नहीं है, न ही यहां के संगीत की मालूमात है लेकिन फिर भी जब दिल में हिन्दुस्तान हो न, तो सब हो जाता है।
 
शो के एक और सेलिब्रिटी जज शेखर का कहना है कि हम संगीत का जश्न मनाने वाले हैं। देश के गायक हों या विदेश के, कोई बच्चा हो या नौजवान या फिर बुजुर्ग, वे हमारे देश के गाने गाने वाले हैं। हमारे देश का जो संगीत है तो विदेशी बता सकते हैं कि क्या कर सकते हैं उसके साथ? हम सभी लोग जो जज कर रहे हैं हम सिर्फ धमाल मचाने वाले हैं और जिस तरह की टैलेंट आने वाली है, शो में उसे देखकर ये कह सकता हूं कि इस साल का सबसे बेहतर ये ही शो होने वाला है।
 
शो में परफॉर्म करने वाले कुछ प्रतियोगियों को भी प्रोफॉर्म कने का मौका मिला जिसमें यूक्रेन की कैथरीन इवानोवा भी थीं। वे कहती हैं कि मैं अरिजीत सिंह के गानों की बहुत बड़ी दीवानी हूं। कैथरीन पिछले 4 सालों से भारत में रह रही हैं। 
 
वे कहती हैं कि मुझे भारतीय फिल्म संगीत से प्यार मां की वजह से हुआ। वे सोवियत (रशिया) में रहती थीं और रशिया के विभाजन के समय जब उनके मनोरंजन का कोई जरिया नहीं था, तो ऐसे में वे एक अकेले मनोरंजन के स्रोत बॉलीवुड फिल्मों को देखतीं और उनके गाने सुनती थीं। खासकर के राजकपूर की फिल्में और उनके गाने घर वालों ने बहुत सुने थे। 
 
उस समय वहीं दीमापुर के कॉयर की गायिका सोनाली रॉय कहती हैं कि बहुत कम लोगों को मालूम है कि नॉर्थ-ईस्ट यानी पूर्वांचल के राज्यों में रॉक काफी मशहूर है, खासकर मेघालय में और इसे देश की 'रॉक कैपिटल' भी कहा जाता है। नगालैंड में कॉयर सिंगिंग बहुत प्रचलित है। इस शो के लिए मैं मुंबई आई हूं। मुंबई में आकर मजा तो आ रहा है लेकिन यहां बहुत गर्मी भी है। वैसे मुंबई में हमने थोड़ी बहुत सैर की है। हमें यह जगह पसंद आई है।
 
वैसे हम आपको बता दें कि इन दिनों करण की मौजूदगी फिल्मी दुनिया के अलावा टीवी की दुनिया में बहुत तेजी से होती जा रही है। इन दिनों वे 'कॉफी विद करण' जैसे सेलिब्रिटी टॉक शो, 'झलक दिखला जा' और अब इस रियलिटी शो में व्यस्त हैं।
 
करण का कहना था कि मैं तो हमेशा प्यार का भूखा रहता हूं। जहां से और जितने तरीके से दर्शक प्यार कर दें, मैं तो हमेशा तैयार ही रहता हूं। दुनिया में प्यार की कमी किसी को न पड़े। हम फिल्मी लोगों को जितना दर्शकों का प्यार मिले, वह हमेशा कम ही लगता है। मुझे तो बिलकुल प्यार देते ही रहें।
 
यह शो अगले साल जनवरी से लोगों के सामने आ जाएगा। 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :