बाजार नई ऊंचाई पर, निफ्टी 9900 के पार

पुनः संशोधित सोमवार, 17 जुलाई 2017 (17:02 IST)
मुंबई। विदेशों से मिले मिश्रित रुख के बीच स्थानीय स्तर पर रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईसीआईसीआई बैंक इंफोसिस और विप्रो जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली से सोमवार को घरेलू एक बार फिर नया रिकॉर्ड बनाने में कामयाब रहा।
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.17 प्रतिशत यानी 54.03 अंक की तेजी के साथ 32,074.78 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.30 प्रतिशत यानी 29.60 अंक चढ़कर 9,915.95 अंक पर बंद हुआ। यह दोनों सूचकांकों का अब तक का उच्चतम स्तर है।

चौतरफा लिवाली के बीच एफएमसीजी और पूंजीगत वस्तुओं के समूहों को छोड़कर बीएसई के अन्य सभी 18 समूहों के सूचकांक हरे निशान में रहे। सेंसेक्स की भी 30 में से 22 कंपनियों में लिवाली का जोर रहा। सबसे ज्यादा 3.12 प्रतिशत की तेजी सूचना एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनी विप्रो में देखी गई। एफएमसीजी तथा अन्य क्षेत्रों में कारोबार करने वाली आईटीसी के शेयर करीब साढ़े तीन प्रतिशत टूट गए।

मिश्रित वैश्विक रुख के बीच सोमवार को शेयर बाजारों में कारोबार सीमित दायरे में ही हुआ। सेंसेक्स 33.23 अंक की तेजी में 32,053.98 अंक पर खुला। दोपहर से पहले ही इसने 32,131.92 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छुआ और कारोबार की समाप्ति से पहले 32,037.21 अंक के दिवस के निचले स्तर को छूता हुआ आखिरकार गत कारोबारी दिवस की तुलना में 54.03 अंक ऊपर 32,074.78 अंक पर रहा।

छह कारोबारी दिवसों में से गत शुक्रवार की मामूली गिरावट को छोड़कर शेष पांच में शेयर बाजार नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ है। निफ्टी सेंसेक्स की तुलना में कहीं ज्यादा तेजी रही। यह 21.80 अंक की बढ़त में 9,908.15 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 9,928.20 अंक के दिवस के उच्चतम और 9,894.70 अंक के न्यूनतम स्तर को छूने के बाद यह गत दिवस के मुकाबले 29.60 अंक ऊपर 9,915.95 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 51 में से 40 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और 11 के लाल निशान में रहे।
छोटी तथा मझौली कंपनियों में निवेशकों का विश्वास कम दिखा। बीएसई का मिडकैप 0.07 प्रतिशत चढ़कर 15,197.45 अंक पर और स्मॉलकैप 0.01 प्रतिशत की तेजी के साथ 15,910.08 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,855 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,300 के शेयरों में लिवाली और 1,379 में बिकवाली का जोर रहा, जबकि 176 के शेयर अंतत: अपरिवर्तित रहे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :