Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

लिवाली से चौथे दिन चढ़ा शेयर बाजार

पुनः संशोधित मंगलवार, 21 फ़रवरी 2017 (17:42 IST)
मुंबई। वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू स्तर पर बैंकिंग तथा टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद समूहों की कंपनियों में लिवाली से मंगलवार को घरेलू शुरुआती गिरावट से उबरता हुआ पांच महीने के नए उच्चतम स्तर पर बंद हुआ। 
       
बाजार में लगातार चौथे कारोबारी दिवस तेजी रही है। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.35 प्रतिशत यानी 100.01 अंक की बढ़त के साथ 28,761.59 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.32 फीसदी यानी 28.65 अंक चढ़कर 8,907.85 अंक पर बंद हुआ।
      
सेंसेक्स 55.12 अंक की बढ़त के साथ 28,716.70 अंक पर खुला, लेकिन बड़ी कंपनियों में बिकवाल के दबाव में एक घंटे के भीतर ही लाल निशान में चला गया। करीब चार घंटे तक यह गिरावट में रहा। इस दौरान एक समय यह 28,597.33 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया था।
 
हालांकि इसके बाद एक्सिस बैंक, एशियन पेंट्स और रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसी कंपनियों में हुई लिवाली के सहारे कारोबार की समाप्ति से पहले 28,801 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह 28,761.59 अंक पर बंद हुआ। यह 22 सितंबर 2016 के बाद का इसका उच्चतम बंद स्तर है। 
        
कोटक महिंद्रा के साथ विलय की खबरों को खारिज करने के बाद एक्सिस बैंक में पांच प्रतिशत की तेजी रही। जियो इंफोकॉम की सभी सेवाएं नि:शुल्क देने का ऑफर समाप्त करने की घोषणा के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 1.36 प्रतिशत चढ़े। 
       
निफ्टी भी 11.55 अंक ऊपर 8,890.75 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 8,860.95 अंक के दिवस के निचले तथा 8,920.80 अंक के उच्चतम स्तर से होता हुआ यह 28.65 अंक चढ़कर पिछले साल 8 सितंबर के बाद पहली बार 8,900 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से ऊपर 8,907.85 अंक पर बंद हुआ।
       
बड़ी कंपनियों में लिवाली के समय सुबह जब सेंसेक्स लाल निशान में गया था उस समय भी मझौली तथा छोटी कंपनियों में लिवाली का जोर था। कारोबार की समाप्ति पर बीएसई का मिडकैप 0.52 प्रतिशत चढ़कर 13,585.33 अंक पर तथा स्मॉलकैप 0.46 प्रतिशत चढ़कर 13,651.91 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 3,007 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,551 के शेयर बढ़त में तथा 1,269 के गिरावट में बंद हुए, जबकि 187 में कोई बदलाव नहीं हुआ। (वार्ता)
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine