बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 341 अंक लुढ़का, निफ्टी भी गिरा

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित शुक्रवार, 26 अक्टूबर 2018 (16:31 IST)
नई दिल्ली। कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच आईटी, टेक और बैंकिंग कंपनियों में हुई बिकवाली से शुक्रवार को घरेलू लगातार दूसरे दिन टूटते हुए सात महीने के निचले स्तर पर आ गए। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 94.90 अंक यानी 0.94 प्रतिशत लुढ़ककर 23 मार्च के बाद के निचले स्तर 10,030 अंक पर बंद हुआ। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 340.78 अंक यानी 1.01 प्रतिशत टूटकर 04 अप्रैल के बाद के न्यूनतम स्तर 33,349.31 अंक पर रहा।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में जारी गिरावट से समर्थन पाकर सेंसेक्स 86.71 अंक की तेजी के साथ 33,776.80 अंक पर खुला, लेकिन एशियाई शेयर बाजारों के दबाव में खुलते ही लाल निशान में चला गया और पूरे दिन उबर नहीं सका।

अमेरिकी शेयर बाजारों में गुरुवार को बड़ी गिरावट रही थी, जिसका असर आज एशियाई और बाद में यूरोपीय शेयर बाजारों पर देखा गया। घरेलू शेयर बाजारों में आईटी और टेक क्षेत्र की कंपनियों पर दबाव बना। साथ ही बैंकिंग क्षेत्र में बिकवाली का क्रम आज भी जारी रहा। हालांकि कच्चे तेल में नरमी से ऊर्जा क्षेत्र में निवेशकों का विश्वास रहा।

बीएसई के समूहों में आईटी का सूचकांक दो प्रतिशत से ज्यादा टूटा। बैंकिंग और टेक में भी करीब दो फीसदी की गिरावट रही। सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक ने सबसे ज्यादा नौ प्रतिशत का नुकसान उठाया। एक्सिस बैंक में चार प्रतिशत और इंडसइंड बैंक में तीन प्रतिशत की गिरावट रही। टाटा मोटर्स में सबसे ज्यादा दो फीसदी की तेजी रही। (वार्ता)


और भी पढ़ें :