भारतीय महिलाओं ने बेल्जियम की पुरुष हॉकी टीम को छकाया

एंटवर्प| पुनः संशोधित मंगलवार, 12 सितम्बर 2017 (15:09 IST)
एंटवर्प (बेल्जियम)। यूरोप दौरे पर गई भारतीय महिला हॉकी टीम ने शुरुआत में दो बार पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए निक्की प्रधान और वंदना कटारिया के एक-एक गोल की बदौलत की जूनियर पुरुष टीम के खिलाफ 2-2 से मुकाबला ड्रॉ खेला।
कप्तान रानी की अगुवाई वाली टीम ने सकारात्मक शुरुआत की और मुकाबला शुरू होने के 40वें सेकेंड में ही पहला पेनल्टी कार्नर हासिल किया, लेकिन टीम इसे गोल में नहीं बदल पाई। इसके दो मिनट बाद को एक और पेनल्टी कार्नर मिला, लेकिन बेल्जियम के गोलकीपर ने इसे भी विफल कर दिया।

बेल्जियम की जूनियर टीम ने छह मिनट के अंदर तीन पेनल्टी कार्नर हासिल किए, लेकिन भारतीय गोलकीपर सविता ने अच्छा प्रदर्शन करके मेजबान टीम को शुरू में बढ़त हासिल नहीं करने दी। फारवर्ड वंदना कटारिया ने भी भारत के लिए गोल करने का अच्छा मौका बनाया था लेकिन वह गोल करने में नाकाम रही।

दूसरे क्वार्टर में बाजी मेजबान टीम के हाथ लगी जब 19वें मिनट में स्टेन ब्रानिस्की ने शानदार गोल करके बेल्जियम को 1-0 से की बढ़त दिला दी। भारत को जल्द ही पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन जूनियर विश्व कप फाइनलिस्ट गोलकीपर ने उसे बचा दिया।

भारतीय टीम ने तीसरे क्वार्टर में अच्छी शुरुआत की। निक्की प्रधान ने 36वें मिनट में टीम के लिए बराबरी का गोल दागा। नेहा गोयल के पास भी गोल करने का अच्छा मौका था, लेकिन बेल्जियम के गोलकीपर ने उनके इस मौके को गोल में तब्दील नहीं होने दिया। बेल्जियम ने 43वें मिनट में मैथ्यू डि लीट के शानदार गोल से फिर 2-1 की बढ़त हासिल कर ली।

मुकाबले में 1-2 से पिछड़ने के बाद भारत ने आखिरी सयम में गोल करने के कई प्रयास किए। वंदना कटारिया ने 54वें मिनट में टीम के लिए बराबरी का गोल दागकर स्कोर 2-2 से बराबरी पर ला दिया। मुकाबले में और कोई गोल नहीं हो सका और दोनों टीमों के बीच मुकाबला 2-2 से ड्रा रहा। भारतीय टीम यूरोप दौरे के अपने तीसरे मैच में 14 सितंबर को लेडीज डेन बॉश से भिड़ेगी। (वार्ता)


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :