श्रावण में बिल्वपत्र चढ़ा रहे हैं तो यह मंत्र याद कर लें, मिलेगा अक्षय पुण्य


श्रावण मास में चढ़ाने से कई कई गुना शुभ पल प्राप्त होते हैं। यही बिल्वपत्र (बेलपत्र) अगर इस विशेष मंत्र के साथ चढ़ाया जाए तो इससे मिलने वाले पुण्य फल में और भी अधिक वृद्धि हो जाती है।

बिल्वपत्र चढ़ाने का मंत्रः-

नमो बिल्ल्मिने च कवचिने च नमो वर्म्मिणे च वरूथिने च
नमः श्रुताय च श्रुतसेनाय च नमो दुन्दुब्भ्याय चा हनन्न्याय च नमो घृश्णवे॥

दर्शनं बिल्वपत्रस्य स्पर्शनम्‌ पापनाशनम्‌। अघोर पाप संहारं बिल्व पत्रं शिवार्पणम्‌॥
त्रिदलं त्रिगुणाकारं त्रिनेत्रं च त्रिधायुधम्‌। त्रिजन्मपापसंहारं बिल्वपत्रं शिवार्पणम्‌॥
अखण्डै बिल्वपत्रैश्च पूजये शिव शंकरम्‌। कोटिकन्या महादानं बिल्व पत्रं शिवार्पणम्‌॥


और भी पढ़ें :