0

क्या है कटास राज मंदिर का राज

बुधवार,दिसंबर 13, 2017
0
1
गुजरात का अम्बाजी मंदिर बेहद प्राचीन है। मां अम्बा-भवानी के शक्तिपीठों में से एक इस मंदिर के प्रति मां के भक्तों में ...
1
2
अरब सागर के तट पर स्थित आदि ज्योतिर्लिंग श्री सोमनाथ महादेव मंदिर की छटा ही निराली है। यह तीर्थस्थान देश के प्राचीनतम ...
2
3
साल के 12 महीनों में 1 भी दिन ऐसा नहीं जाता, जब यहां वेंकटेश्वर स्वामी के दर्शन करने के लिए भक्तों का तांता न लगा हो। ...
3
4
चित्रकूट धाम एक भव्य पवित्र स्थल है जहां पर पांच गांव का संगम हैं। इस स्थान पर कारवी, सीतापुर, कामता, कोहनी, नयागांव ...
4
4
5
व्यास पोथी नामक स्थान बद्रीनाथ से 3 क‌िलोमीटर की दूरी पर उत्तराखंड के माणा गांव में स्थित है। यहां महाभारत के रचनाकार ...
5
6
शिप्रा के उत्तर तट पर 'कालभैरव' का सुविशाल मंदिर है। मंदिर के पास नीचे शिप्रा नदी का घाट बहुत बड़ा और सुंदर पुख्ता बना ...
6
7
बिहार के औरंगाबाद जिले में देव स्थित ऐतिहासिक त्रेतायुगीन पश्चिमाभिमुख सूर्य मंदिर अपनी कलात्मक भव्यता के लिए सर्वविदित ...
7
8
कहते हैं कि शिर्डी जाते समय साईं बाबा खिर्डी नामक एक गांव में रुके थे लेकिन उस गांव के लोगों ने उनका अपमान कर उन्हें ...
8
8
9
माता सती के 51 शक्तिपीठों में से एक शक्तिपीठ पाकिस्तान के कब्जे वाले बलूचिस्तान में स्थित है। इस शक्तिपीठ की देखरेख ...
9
10
मान्यतानुसार श्री नागचण्डेश्वर महादेव के दर्शन करने से दोषों का नाश होता है। ज्ञान से या अज्ञान से किया हुआ पाप धूमिल ...
10
11
भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में शामिल उत्तरप्रदेश की प्राचीन धार्मिक नगरी वाराणसी में सोमवार को सावन के तीसरे ...
11
12
आज से लगभग 5 हजार 129 वर्ष पूर्व उत्तरप्रदेश के मथुरा में भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था। गोकुल मथुरा से 15 किलोमीटर दूर ...
12
13
आज जो राजा महाकालेश्वर की सवारी का भव्य स्वरूप है उसका संपूर्ण श्रेय श्री बुच साहब को जाता है। यह बात बहुत कम लोगों को ...
13
14
ग्रामीणों का कहना है कि पातालेश्वर मंदिर में जो कोई भक्त अगर अपनी सच्ची श्रद्धा से झाड़ू अर्पित करे तो उसके....जानिए ...
14
15
जेरूशलम या यरुशलम बहुत ही प्राचीन शहर है। इस शहर के बारे में जितना लिखा जाए, कम है। काबा, काशी, मथुरा, अयोध्या, ग्रीस, ...
15
16
देश की स्वतंत्रता के बाद पहले प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू ने भी ख्वाजा के दरबार में मत्था टेका है। महान कवि ...
16
17
लगभग 350 वर्षों पहले शिंगणापुर में मूसलधार, घमासान बारिश हुई। बारिश इतनी तेज थी कि सामने से कुछ स्पष्ट दिखाई नहीं दे ...
17
18
श्री शनि शिंगणापुर के बारे में यह प्रचलित है कि यहां देवता हैं, लेकिन मंदिर नहीं। घर है,लेकिन दरवाजा नहीं। वृक्ष है, पर ...
18
19
मथुरा। उत्तर प्रदेश में राधारानी की नगरी वृन्दावन के सप्त देवालयों राधारमण मंदिर में पिछले पौने पांच सौ वर्ष से बिना ...
19