मुस्लिम देश में सैकड़ों सालों से जल रही है देवी माँ की ज्योत...


Last Updated: गुरुवार, 22 सितम्बर 2016 (12:45 IST)
पूर्वी यूरोप और एशिया के मध्य में बसा हुआ एक मुस्लिम देश हैं। लेकिन, आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे की अजरबैजान के सुराखानी में स्थित मां दुर्गा का 300 साल पुराना प्राचीन मंदिर है जहां सैंकड़ों साल से देवी माँ की अखंड ज्योत जल रही है। इस मंदिर में बीते कई सालों से जल रही पवित्र अग्नि के कारण इस मंदिर का नाम 'टेम्पल ऑफ फायर' रखा गया है।
 
मंदिर का वास्तु : मंदिर के चारों ओर पत्थरों से बनी कोठरी या गुफानुमा दीवार है। दरअसल बाहरी दीवारों के साथ कमरे बने हुए हैं जिनमें कभी उपासक रहा करते थे। इसमें एक पंचभुजा (पेंटागोन) अकार के अहाते के बीच में एक मंदिर है। मंदिर के गुंबद पर त्रिशूल स्थापित है। मंदिर के बीचोबीच अग्निकुंड में माता की अखंड ज्योत जल रही है जो सात छिद्रों से निकलती है। एक अग्निकुंड मंदिर के बाहर भी स्थित है।
 
उल्लेखनीय है कि भारत के राज्य हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा से 30 किलो मीटर दूर स्थित है ज्वालादेवी का मंदिर। ज्वालामुखी मंदिर को जोता वाली का मंदिर और नगरकोट भी कहा जाता है। मान्यता है यहाँ देवी सती की जीभ गिरी थी। यह मंदिर माता के अन्य मंदिरों की तुलना में अनोखा है क्योंकि यहाँ पर किसी मूर्ति की पूजा नहीं होती है बल्कि पृथ्वी के गर्भ से निकल रही नौ ज्वालाओं की पूजा होती है। इन ज्वालाओं को सम्राट अकबर ने बुझाने का अथक प्रयास किया था लेकिन वह नहीं बुझा पाया था।
 
अगले पन्ने पर मंदिर का इतिहास...

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

गलत समय में सहवास करने से पैदा हुए ये दो दैत्य, आप भी ध्यान ...

गलत समय में सहवास करने से पैदा हुए ये दो दैत्य, आप भी ध्यान रखें
शास्त्रों में सहवास करने का उचित समय बताया गया है। संधिकाल में उच्च स्वर, सहवास, भोजन, ...

क्या है राशि, किस राशि से कैसे जानें भविष्य, पढ़ें सबसे खास ...

क्या है राशि, किस राशि से कैसे जानें भविष्य, पढ़ें सबसे खास जानकारी
आकाश में न तो कोई बिच्छू है और न कोई शेर, पहचानने की सुविधा के लिए तारा समूहों की आकृति ...

9 ग्रहों की ऐसी पौराणिक पहचान तो कहीं नहीं पढ़ी...

9 ग्रहों की ऐसी पौराणिक पहचान तो कहीं नहीं पढ़ी...
भारतीय ज्योतिष और पौराणिक कथाओं में 9 ग्रह गिने जाते हैं, सूर्य, चन्द्रमा, बुध, शुक्र, ...

क्या सच में ग्रहों की चाल प्रभावित करती है हमारे जीवन को, ...

क्या सच में ग्रहों की चाल प्रभावित करती है हमारे जीवन को, जानिए कैसे
सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड 360 अंशों में विभाजित है। इसमें 12 राशियों में से प्रत्येक राशि के 30 ...

राजा हिरण्यकश्यप के अंत के लिए भगवान विष्णु ने किया था ...

राजा हिरण्यकश्यप के अंत के लिए भगवान विष्णु ने किया था पुरुषोत्तम मास का निर्माण
तेरहवें महीने के निर्माण के संबंध में किंवदंती है कि भगवान ब्रह्मा से राजा हिरण्यकश्यप ने ...

चल रहा है नौतपा, जानिए कौन सा दिन कैसा होगा, विशेष जानकारी

चल रहा है नौतपा, जानिए कौन सा दिन कैसा होगा, विशेष जानकारी
रोहिणी नक्षत्र में सूर्य के प्रवेश करते ही धरती और सूर्य के बीच की दूरी काफी कम हो जाती ...

सिर्फ करोड़पति ही नहीं अरबपति भी बनाते हैं ज्योतिष के यह

सिर्फ करोड़पति ही नहीं अरबपति भी बनाते हैं ज्योतिष के यह योग
अपनी जन्मकुंडली में धनवान होने के योग स्वयं देख सकते हैं। जानिए कुछ प्रमुख चमत्कारी धनवान ...

ऐसे हुआ सुंदर चमकीले चंद्रदेव का जन्म, पढ़ें पौराणिक कथा

ऐसे हुआ सुंदर चमकीले चंद्रदेव का जन्म, पढ़ें पौराणिक कथा
चंद्रमा के जन्म की कहानी पुराणों में अलग-अलग मिलती है। मत्स्य एवम अग्नि पुराण के अनुसार ...

पूर्णिमा 29 मई को, क्या है इस दिन का धार्मिक और वैज्ञानिक ...

पूर्णिमा 29 मई को, क्या है इस दिन का धार्मिक और वैज्ञानिक रहस्य
जब पूर्णिमा आती है तो समुद्र में ज्वार-भाटा उत्पन्न होता है, क्योंकि चंद्रमा समुद्र के जल ...

27 मई 2018 का राशिफल और उपाय...

27 मई 2018 का राशिफल और उपाय...
जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। चिंता तथा तनाव बना रहेगा। वरिष्ठजन सहयोग ...

राशिफल